जी हिमाचल के रिपोर्टर राम भरोसे, चार माह से नहीं हुआ लक्ष्मी का दीदार

E-mail Print PDF

शिमला : जी पंजाबी पर आने वाले जी हिमाचल बुलेटिन के रिपोर्टर सेलरी के इंतजार में हैं। रिपोर्टर चार माह से कंपनी से लक्ष्मी आने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन कंपनी प्रबंधन हर दिन नया नारा देकर रिपोर्टरों को टरका रहा है। जी हिमाचल ने प्रदेश के बुलेटन के लिए रिपोर्टरों की तैनाती प्रति स्टोरी के आधार पर की है लेकिन इस बुलेटिन के शुरू होने के बाद अब तक रिपोर्टरों को कोई पैसा नहीं दिया गया है।

प्रति रिपोर्टर स्टोरी और टीएडीए को जोड़ कर आंकड़ा पचास हजार से एक लाख के बीच पहुंच गया है लेकिन रिपोर्टर्स पर कोई दरियादिली तो छोड़िए, उनका वाजिब बकाया नहीं दिया जा रहा है। जी हिमाचल के रिपोर्टर बेशक इस स्थिति में नहीं हैं कि वे बगावत कर सकें, लेकिन पेसे न मिलने से मायूस रिपोर्टर रिपोटिँग को लेकर उतने गंभीर नहीं रहे हैं, जितना बुलेटिन के शुरू होने के समय में थे। अब तो वह असाइनमेंट के फोन पर भी आंखें तरेरने लगे हैं।


AddThis