'महुआ वाले चिरकुट ब्‍यूरो के कर्म से जल्‍द बरबाद हों'

E-mail Print PDF

आदरणीय यशवंतजी, मेरा नाम चंदन चौधरी है. मुझे महुआ न्‍यूज के लिए महाराजगंज का संवाददाता बनाया गया था. ये दया मेरे ऊपर गोरखपुर के ब्‍यूरो गोपाल जी ने किया, लेकिन ये दया इतना ज्‍यादा हुआ कि आईडी की कौन कहे मुझे तो खबर का भी पूरा भुगतान नहीं किया जाता था. पैसे को लेकर आवाज उठाने पर गोपाल जी ने दूसरे लड़के को रख दिया और उसे तुरंत आईडी भी दे दी गई.

आज कई महीने बीत गए और उस लड़के ने नाम मात्र की खबर भेजी है, लेकिन गोपाल जी शांत हैं. इससे दाल में कुछ काला जरूर लग रहा है, पर महुआ वाले क्‍यों शांत हैं यह समझ में नहीं आ रहा है. मुझे मिले हुए चेक को देखिए और मेरे भेजे खबर को देखिए सब फर्क साफ हो जाएगा. सब मिलाकर महुआ वालों को मेरी बददुआ है कि वो जल्‍द ही ऐसे चिरकुट ब्‍यूरो के कर्म से बरबाद हों.

चंदन चौधरी

पूर्व रिपोर्टर महुआ न्‍यूज

महाराजगंज, उत्‍तर प्रदेश

मोबाइल- 09838410384

This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it


AddThis