आईबीएन7 के पत्रकार राजेश बाजपेयी का जलवा देखिए

E-mail Print PDF

वैसे तो संतोष भारतीय और राहुल देव जैसे पत्रकार खुद की शक्ल को यदा कदा होर्डिंग्स, विज्ञापनों आदि में प्रकाशित कराते रहते हैं पर जिले स्तर पर किसी पत्रकार द्वारा खुद की तस्वीर मय परचिय होर्डिंग्स पर प्रकाशित कराना नहीं सुना गया है. ऐसा सुकर्म किया है उन्नाव के पत्रकार राजेश बाजपेयी ने. राजेश उन्नाव के दबंग पत्रकार माने जाते हैं. कई अखबारों-चैनलों में काम कर चुके हैं.

वे इन दिनों आईबीएन7 में हैं, जैसा कि होर्डिंग पर उनकी तस्वीर के नीचे लगे परिचय में बताया गया है. राजेश शहर के अन्य लोगों के साथ शहरवासियों को दिवाली और नए साल की एडवांस में बधाई दे रहे हैं, शुभकामनाएं दे रहे हैं. कई पत्रकारों को मिल गया मौका राजेश के खिलाफ भड़ास निकालने का. सो, होर्डिंग की तस्वीर खींचकर साथ में एक विष भरा पत्र अटैच कर भड़ास के पास भेज दिया. लेकिन भड़ास4मीडिया ऐसे विघ्नसंतोषियों के झांसे में नहीं आने वाला, सो वह विष भरा पत्र यहां प्रकाशित नहीं किया जा रहा है, सिर्फ फोटो और यह परिचय छापकर काम चलाया जा रहा है. भड़ास4मीडिया की तरफ से राजेश बाजपेयी और अन्य पत्रकार साथियों को दीवाली व नए साल की अग्रिम शुभकामनाएं :)

वैसे भी राजेश ने कोई गलत काम तो किया नहीं है. उन्होंने अगर अपने शहर वासियों को विश किया है तो किया है, इसमें गलत क्या है. और जब अपनी तस्वीरें बड़े पत्रकार होर्डिंग आदि पर छपवा सकते हैं तो जिले स्तर के बड़े पत्रकार यह काम क्यों नहीं कर सकते? अब आप नैतिकता और सरोकार आदि की बातें कहेंगे तो फिर बात काफी लंबी हो जाएगी और अंततः इसका कोई हल निकलता दिखेगा नहीं इसलिए हम तो यही कहेंगे कि राजेश भाई में दम है तो दिख रहे हैं, जो ग़म में हों तो हुआ करें :):) -यशवंत, भड़ास4मीडिया


AddThis