पत्रकार राकेश को थैंक्यू, दर्ज हुई एफआईआर, ठग हुए गिरफ्तार

E-mail Print PDF

झारखण्ड राज्य के देवघर जिले में करियर काउंसिलिंग करने वाले कुछ लोगों ने मथुरा (उत्तर प्रदेश) और बिहार राज्य के तीन चार छात्रों को बीआईटी (देवघर) में एडमिशन कराने के नाम पर 1.8 लाख रुपये ठग लिए. जब तक छात्रों को अपने साथ हुए फर्जीवाड़े की भनक लगी तब तक बहुत देर हो चुकी थी. खैर, छात्र आनन-फानन में देवघर पहुंचे और अपने साथ हुई ठगी की शिकायत करने देवघर नगर थाना पहुंचे. मगर देवघर नगर थाने की पुलिस ने उन्हें उलटे पाँव लौटा दिया.

साथ ही धमकाया भी कि इस मामले में कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं कि जायेगी. सभी छात्र हताश और निराश होकर वापस लौटने को ही थे कि इस बात की भनक वहां समाचार संकलन के उद्देश्य से पहुंचे प्रभात खबर के पत्रकार राकेश पुरोहितवार को लगी. पुरोहितवार ने न सिर्फ मामले को संभाला बल्कि इस मुद्दे पर नगर थाना के कर्मियों से मोर्चा भी लिया. उनकी पुलिस वालों से तकरार हो गई.

पुरोहितवार ने इस प्रकरण की सूचना देवघर के एस.पी. को दी और साथ ही  नगर थाने की पुलिस के करतूत की भी उन्हें जानकारी दे दी. एस.पी. के आदेश के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और प्रकरण के अभियुक्तों की गिरफ़्तारी भी कर ली गई है. इस तरह एक पत्रकार के कारण ठगी के शिकार छात्रों को न्याय मिलने की प्रक्रिया की शुरुआत हुई. देखना ये है कि पुलिसवाले अपना फर्ज ठीक से निभाकर छात्रों को पैसे लौटाते हैं या आपस में ही खा-पी जाते हैं.

अनंत झा की रिपोर्ट


AddThis