फोटोग्राफर राजीव यूपी पुलिस का नया शिकार

E-mail Print PDF

बदायूं से खबर है कि हिंदुस्तान अखबार के फोटोग्राफर राजीव कुमार को पुलिस वालों ने इसलिए पीट दिया क्योंकि वे पुलिस द्वारा खुलेआम प्रताड़ित किए जा रहे एक युवक की तस्वीर ले रहे थे. तस्वीर खींचते देख पुलिस वालों ने आपा खो दिया और राजीव को पीटना शुरू कर दिया. उत्तर प्रदेश में बेलगाम हो चुकी पुलिस आए दिन मीडिया वालों व उनके परिजनों पर हमले कर रहे हैं और उनके साथ अमानवीय व्यवहार कर प्रताड़ित कर रहे हैं.

भड़ास4मीडिया को फोन कर राजीव ने सूचित किया कि उन पर पुलिस इंस्पेक्टर यशवीर ने हमला किया और बाद में उनके अधीनस्थ सिपाहियों ने पीटा. राजीव के मुताबिक उनका कुसूर सिर्फ इतना था कि वे बदायूं के सुभाष चौक पर चार-पांच पुलिस वालों के हाथों पिट रहे एक युवक की फोटो खीच रहे थे. इसी कारण इंस्पेक्टर यशवीर ने उन पर हमला किया और अन्य सिपाहियों से भी पिटवाया.  सूत्रों का कहना है कि हिंदुस्तान प्रबंधन अपने फोटोग्राफर पर हुए हमले के मामले को गंभीरता से नहीं ले रहा है. खुद बदायूं ब्यूरो के जर्नलिस्ट भी दोषी इंस्पेक्टर को दंड दिलाने की जगह अपने फोटोग्राफर को ही चुप कराने में लग गए हैं.


AddThis