यूपी पुलिस का गुंडाराज, पत्रकारों से अभद्रता

E-mail Print PDF

मायाराज की बेलगाम पुलिस पंचायत चुनाव में आतंक मचा रखा था. कई जगह पत्रकारों के साथ अभद्रता की गई. लखीमपुर में भी पुलिस ने  प्रशासन की तरफ से पंचायत चुनाव कवरेज के लिए जारी पास को मानने से इनकार कर दिया. पत्रकारों को प्रताडि़‍त किया गया. उनकी गाडि़यों में सूजे घोंपे गए.

देर से मिली जानकारी के मुताबिक पंचायत चुनाव के दौरान लखीमपुर के पड़रिया तुला में मतदान केन्‍द्र पर भीड़ ज्‍यादा थी. भीड़ को नियंत्रित करने के नाम पर पुलिस ने बेवजह लाठियां भांजनी शुरू कर दी. जिससे भगदड़ जैसी स्थिति बन गई. इसे इलेट्रानिक मीडिया के पत्रकार तथा प्रेस फोटोग्राफर कवर करने लगे. पुलिस को पत्रकारों का ये रवैया नागवार गुजरा. उन्‍होंने जबरिया पत्रकारों को कवरेज करने से रोका.

इसके बाद पत्रकार मुडि़या हेम सिंह के पोलिंग बूथ पर पहुंचे. तभी पीछे से लाठी भांजने वाली पुलिस वहां भी पहुंच गई. पुलिस ने वहां भी लाठियां भांजनी शुरू कर दी. इसके बाद कुछ पुलिसकर्मी किनारे खड़ी पत्रकारों की बाइक में सूजे घोंप दिए. पुलिस के इस कृत्‍य को देखकर पहुंचे और सूजे घोंपने से मना किया तो पुलिस टीम में शामिल एक एसआई पत्रकारों से अभद्रता करने लगा. वह बरेली से प्रकाशित एक अखबार के पत्रकार के साथ गाली-ग्‍लौज भी की.

पत्रकारों ने कहा कि उनके पास प्रशासन द्वारा जारी किया गया मीडिया एवं वाहन पास है तो वह बोला कि ये पास नहीं नापास है. वैसे इसी को देखकर हमारे हाथ रूक गए नहीं तो तुम लोग को भी जमकर लठिया देता. पत्रकार मौके की नजाकत देखकर वहां चले गए. शुक्रवार को पत्रकारों ने पड़रिया तुला में एक बैठक कर पुलिस के इस व्‍यवहार की निंदा की.

पड़रिया तुला से सोनू शुक्‍ला की रिपोर्ट.


AddThis