मुजफ्फरनगर में 30 हजार प्रतियों के साथ जनवाणी लांच

E-mail Print PDF

मेरठ व बागपत संस्करणों की शानदार लांचिंग के बाद दैनिक जनवाणी का मुजफ्फरनगर संस्करण भी गुरुवार को लांच कर दिया गया. इसके साथ ही अब जनवाणी जिले के घर-घर में पहुंचना शुरू हो गया. मुजफ्फरनगर संस्करण की लांचिंग के मौके पर जिला मुख्यालय पर एक समारोह का आयोजन किया गया. सूत्रों के अनुसार दैनिक जनवाणी ने मुजफ्फरनगर में 30 हजार प्रतियों के साथ शुरुआत की है और सिटी में फिलहाल इसे पहले स्थान पर बताया जा रहा है.

14 फरवरी से जनवाणी के मेरठ संस्करण का शुभारंभ हुआ था और एक मार्च से बागपत संस्करण का. दोनों ही जिलों में अखबार को बढि़या रिस्पांस मिला. इससे उत्‍साहित प्रबंधन ने मुजफ्फरनगर संस्करण भी लांच कर दिया. 20 पेज के अखबार के साथ आठ पेज का प्रवेशांक भी पाठकों को दिया गया. सुबह सेंटर पर जनवाणी के स्टाल से अभिकर्ताओं को अंक की प्रतियां दी गईं. इस अवसर पर लड्डुओं से सबका मुंह मीठा कराया गया. जीएम सेल्स इंद्रजीत चौधरी और ब्यूरो चीफ हर्ष कुमार ने हाकरों को उनकी प्रतियां सौंपकर बिक्री की शुरुआत की. जनवाणी ने लांचिंग के अंक में कई एक्सक्लूसिव खबरें दीं।

दोपहर बाद शहर के बीच स्थित एक बैंक्‍वेट हाल में एक संक्षिप्त समारोह आयोजित कर जनवाणी परिवार ने जिले के पाठकों के प्रति अपना आभार जताया. इस कार्यक्रम में जनवाणी के प्रकाशक गॉडविन मीडिया हाउस के एमडी भूपेंद्र सिंह बाजवा व जितेंद्र सिंह बाजवा ने मुजफ्फरनगर के लोगों द्वारा दिखाए गए दुलार के प्रति आभार जताया. संपादक यशपाल सिंह ने वायदा किया कि जनवाणी आम जनता की आवाज बनेगा और अपने सिद्धांतों से कोई समझौता नहीं करेगा. इस अवसर पर जनवाणी परिवार की ओर से सह संपादक रवि शर्मा भी मौजूद रहे. बताया जा रहा है कि जनवाणी मेरठ की पीओ इस समय एक लाख प्रतियों को पार कर गया है जो अपने आप में कीर्तिमान है.

जनवाणी

जनवाणी


AddThis