फिर से प्रकाशित होगा संध्‍या प्रहरी, जीवन ज्‍योति बने ब्‍यूरो प्रमुख

E-mail Print PDF

बिहार में एक जमाने में लालू प्रसाद यादव की सत्ता की नींव हिला देने वाला राज्य का एकमात्रा सांध्य दैनिक “संध्या प्रहरी” फिर से नए तेवर में प्रकाशित होने को तैयार है। प्रबंधन के अंदरूनी विवाद के बाद दो बार बंद हो चुके संध्या प्रहरी का नया रूप जल्द ही सामने होगा। इस बार इस अखबार को बड़े पैमाने और धमाकेदार अंदाज में बाजार में उतारने की तैयारी तकरीबन पूरी हो चुकी है।

नए तेवर में शुरू होने जा रहे इस अखबार का प्रकाशन फिर संध्या प्रहरी के नाम से किया जाएगा। प्रबंधन से जुड़े सूत्रों के मुताबिक पटना में अखबार की धमाकेदार शुरूआत के लिए बड़े मीडिया हाउस से जुड़े मंजे हुए खिलाड़ियों को संपादकीय विभाग में जगह दी गई है। बिहार के प्रमुख हिन्दी दैनिक ”हिन्दुस्तान“ और ”राष्ट्रीय सहारा“ जैसे बड़े मीडिया हाउस में काम कर चुके जीवन ज्योति को पटना का ब्यूरो प्रमुख बनाया गया है।

संपादक के रूप में ”दैनिक जागरण“ तथा ”प्रभात खबर“ में काम कर चुके एक युवा वरिष्ठ पत्रकार को स्थानीय संपादक बनाने की भी तैयारी है। बताया जाता है कि संपादक पर अंतिम निर्णय आगामी 30 मार्च को होने वाली एक प्रमुख बैठक में ली जानी है। इस बार संध्या प्रहरी को जन-जन तक पहुंचाने के लिए व्यापक पैमाने पर प्रचार-प्रसार की भी तैयारी चल रही है।

प्रबंधन एवं संपादकीय विभाग के बीच एक करार भी किया गया है, जिसमें यह बात प्रमुखता से रखी गई है कि खबरों के प्रकाशन के मामले में प्रबंधन द्वारा किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं किया जाएगा। इस बीच संध्या प्रहरी में बड़े पैमाने पर वरिष्ठ संवाददाता, संवाददाता, जिला संवाददाता, फोटोग्राफर, विज्ञापन, प्रसार समेत अन्य पदों की भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। प्रेस विज्ञप्ति


AddThis