28 को खत्‍म होगा हिंदुस्‍तानियों के इंक्रीमेंट और प्रमोशन का इंतजार

E-mail Print PDF

अन्‍य संस्‍थानों की तरह हिंदुस्‍तान के कर्मचारियों को भी अपने इंक्रीमेंट और प्रमोशन का बेसब्री से इंतजार है. खबर है कि इस महीने का जो वेतन आएगा वो इंक्रीमेंट के साथ आएगा, लिहाजा इसे लेकर हिंदुस्‍तान के सभी यूनिटों में कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं. सूत्रों ने बताया है कि इस बार दो श्रेणियों में इंक्रीमेंट के लिए अप्रेजल फार्म भरवाए गए थे. इसलिए इन दो कटेगरी में ही इंक्रीमेंट होगा.

सूत्रों ने बताया कि अप्रेजल के लिए जो दो कटेगरी तय की गई थी उसमें मैनेजर और उनके उपर के लोग, डिप्‍टी चीफ, चीफ, प्रिंसिपल करेस्‍पांडेंट, डिजाइनर, ग्राफिक्‍स डिजाइनर, इंसुलेटर, विजुअलाइजर, फोटोग्राफर, फीचर राइटर, स्‍टाफ राइटर, कॉपी/सब एडिटर, कार्टूनिस्‍ट और इसके उपर के श्रेणी के एडिटोरियल विभाग के लोग शामिल हैं, जबकि दूसरी श्रेणी में मैनेजर के नीचे के लेबल के लोग शामिल हैं, जिनमें सर्कुलेशन से लेकर प्रिंटिंग विभाग के लोग हैं.

सूत्रों ने बताया कि किसे क्‍या दिया जाएगा इसको तय करने के लिए 3 मई को हिंदुस्‍तान प्रबंधन की मीटिंग हुई थी, जिसमें शरद सक्‍सेना, अमित चोपड़ा, शशि शेखर स‍मेत कई अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी मौजूद थे. खबर है कि पिछली बार जिन लोगों का प्रमोशन तथा इंक्रीमेंट हुआ है उन्‍हें इस बार कुछ खास नहीं मिलने जा रहा है. उन्‍हें आठ से लेकर दस प्रतिशत तक का इंक्रीमेंट मिल सकता है,  इससे ज्‍यादा की उम्‍मीद नहीं है.

दूसरी तरफ खबर यह भी है कि इस बार लोगों को उतना ही प्रमोशन और इंक्रीमेंट मिलेगा, जितना यूनिटों के आरई यानी स्‍थानीय संपादक ने सिफारिश की होगी. एडिटोरियल में तो ज्‍यादातर लोगों को उतना ही इंक्रीमेंट मिला है जितना उनके आरई ने चाहा है और रिकमेंड किया है. जिन यूनिटों से आरई ने जैसी सिफारिश भेजी है, खबर है कि उसे ही अंतिम मान लिया गया है. उसमें ज्‍यादा बदलाव नहीं किया गया है. इंक्रीमेंट की लिस्‍ट को फाइनल कर दिया गया है.

सूत्रों ने बताया कि अब इस लि‍स्‍ट को फीड किए जाने का काम चल रहा है. इसके भी कल तक यानी 14 मई तक पूरा हो जाने की संभावना है. 1 5 तक वेतन बन जाएगा और 28 तक यह सबके बैंक खाते में पहुंच जाएगा.  इंक्रीमेंट और प्रमोशन के लेटर को बांटने का काम 20 मई से शुरू होगा और इसे 25 मई तक हर हाल में यह लेटर सबके पास पहुंचा दिए जाने का फरमान भी दे दिया गया है.

सभी हिंदुस्‍तानी अपने इंक्रीमेंट, प्रमोशन और लेटर बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. इंक्रीमेंट जानने में सबसे ज्‍यादा दिलचस्‍पी उन कर्मचारियों में है,‍‍ जिन्‍हें पिछले काफी समय से कोई बढि़या इंक्रीमेंट या प्रमोशन नहीं मिला है. वैसे अपने-अपने स्‍थानीय संपादकों के चहते बिना किसी चिंता‍ फिक्र के अच्‍छे इंक्रीमेंट का इंतजार कर रहे हैं. अब किसको क्‍या मिलता है ये तो उनको मिलने वाला इंक्रीमेंट लेटर ही बताएगा. तब तक तो सभी को इंतजार रहेगा.


AddThis