कुरुक्षेत्र और कैथल से लांच हुआ अमर उजाला

E-mail Print PDF

हरियाणा में विस्तार अभियान जारी रखते हुए कुरुक्षेत्र और कैथल से भी अमर उजाला लांच कर दिया गया है. इस बार सिटी पुलआउट माईसिटी के साथ अमर उजाला को भी लांच किया गया है. इससे वहां पहले से जमे दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण और पंजाब केसरी में खलबली मच गई है. ये सभी अखबार सिटी पुलआउट देते हैं. उनका छह पेज का पुलआउट है जबकि अमर उजाला ने चार पेज का ही पुलआउट दिया है.

बावजूद इसके, अमर उजाला बेहतरीन कंटेंट के कारण स्थानीय पाठकों को आकर्षित कर रहा है. इससे पहले एक मार्च को अमर उजाला ने अंबाला और यमुनानगर में माईसिटी के साथ अखबार लांच किया था. जब कुरुक्षेत्र और कैथल में 20 मई को अमर उजाला की लांचिंग हुई तो भास्कर समेत दूसरे अन्य अखबारों के सरकुलेशन डिपार्टमेंट के सीनियर लोग सेंटरों पर रात से ही जम गए थे. अमर उजाला, चंडीगढ़ के सरकुलेशन डिपार्टमेंट से कई लोगों के इस्तीफा के कारण थोड़ा बहुत प्रभाव अमर उजाला की लांचिंग पर दिखा. अमर उजाला ने लांचिंग के मौकै पर दोनों शहरों के गणमान्य लोगों को आफिस पर बुलाया. इसमें हरियाणा के मंत्री, सांसद, विधायक आदि शामिल हुए.

मंत्री रणदीप सुरजेवाला ने अमर उजाला लांचिंग के मौके पर किए गए यज्ञ और हवन में भी शिरकत की. ज्ञात हो कि इन इलाकों में पहले नोएडा से अमर उजाला आता था. अब यहां चंडीगढ़ से छपकर अखबार आने लगा है. प्रबंधन अखबार को अब करनाल और पानीपत में लांच करने की तैयारी में जुटा है. उसके बाद सोनीपत में अमर उजाला की लांचिंग होगी. अमर उजाला प्रबंधन रोहतक में यूनिट लगाने की तैयारी में है. इसके लिए जमीन एलाटमेंट की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. चर्चा है कि बरसात के बाद रोहतक में यूनिट लगाने का काम तेज हो जाएगा.


AddThis
Comments (3)Add Comment
...
written by ashu, May 26, 2011
congrats Rajul Sir
...
written by Noval Thakur, May 23, 2011
AMAR UJALA prbandhan ko BADHAIYAN.
...
written by हमका मौका दई दो..., May 23, 2011
दस साल पहले भी बाकायदा हरियाणा के लिये अलग एडिशन निकलते थे अमर उजाला के। लेकिन बाद मे आये महारथी चला नहीं पाये और एक-एक करके बंद हो गये। अब राजुल जी ने इनको दुबारा शुरु करने की हिम्मत की है तो उनकी दाद देनी पड़ेगी लेकिन जिन लोगों को हरियाणा का ह भी नहीं पता क्या वो हरियाणा के एडिशन चला लेंगे और इस बात की गांरंटी देंगे कि 6 महीने बाद वहीं सब नहीं दोहराया जायेगा जो दस साल पहले हुआ था।

Write comment

busy