जागरण की बेसिर-पैर की खबर पर मौलाना ने आपत्ति जताई

E-mail Print PDF

दैनिक जागरण, वाराणसी में मुस्लिमों से संबंधित एक खबर के प्रकाशन के बाद विवाद उठ खड़ा हुआ है. मुस्लिमों में इस खबर के कारण आक्रोश है. दैनिक जागरण में विकास बागी के नाम से प्रकाशित खबर में एक आदमी की बातों को आधार बनाया गया है. खबर में दावा किया गया है कि लादेन की मौत पर पाकिस्तान में हुई शोकसभा का वाराणसी में लोकल केबल चैनल के जरिए प्रसारण किया जा रहा था.

इस खबर को एक वर्ग विशेष की आस्था पर प्रहार करने वाला और पीत पत्रकारिता बताते हुए शाही इमाम मौलाना हसीन अहमद ने दैनिक जागरण, वाराणसी के संपादक को पत्र लिखा है. जागरण में प्रकाशित मूल खबर और जागरण के संपादक को भेजा गया पत्र, दोनों को नीचे प्रकाशित किया जा रहा है. खबर पढ़कर समझ सकते हैं कि कैसे जागरण के रिपोर्टर ने बिना कोई मेहनत किए हुए, किसी एक शख्स की बातों पर यकीन कर उसी के आधार पर तीन कालम की बाइलाइन खबर बना दी और छापने वालों ने इसे छाप भी दिया..


AddThis