'नया इंडिया' नाम से कई शहरों से अखबार लांच करेंगे हरिशंकर व्यास

E-mail Print PDF

वरिष्ठ पत्रकार हरिशंकर व्यास नया अखबार लांच करने जा रहे हैं. नाम है 'नया इंडिया'. यह अखबार सितंबर में लांच होगा. अखबार में भर्ती के लिए विज्ञापन प्रकाशित कर दिया गया है. इस अखबार के प्रमोटर और संपादक दोनों हरिशंकर व्यास हैं. जनसत्ता में राजनीतिक संपादक और संपादक रहे हरिशंकर व्यास ने मीडिया के हर फार्मेट में कई नए प्रयोग किए हैं.

दावा किया जा रहा है कि यह पूरी तरह से पत्रकारों का अखबार होगा और संपूर्ण रूप से एक राजनीतिक अखबार होगा. अखबार का स्लोगन ''बेबाक, बेधड़क और बेमिसाल'' रखा गया है. इसे दिल्ली के अलावा लखनऊ, रांची, जयपुर, पटना, भोपाल, रायपुर, देहरादून, चंडीगढ़ और शिमला से प्रकाशित करने का इरादा है. इतने शहरों के लिए निकलने वाले इस अखबार के संस्करण के लिए एडीशन प्रमुख और समाचार संपादक से लेकर ट्रेनी पत्रकारों तक से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं. इस अखबार के साथ अजीत द्विवेदी भी जुड़े हैं. अजीत द्विवेदी दैनिक भास्कर, इंडिया न्यूज समेत कई अखबारों और चैनलों में कार्य कर चुके हैं.

भड़ास4मीडिया से बातचीत में अजीत द्विवेदी ने बताया कि श्री हरिशंकर व्यास जी के नेतृत्व में निकलने वाला यह अखबार पत्रकारों की धमक बनने वाला होगा. पत्रकारीय पुण्यता इसके पीछे गाइडिंग फोर्स है यानी जिन लोगों को आज भी लगता है कि निजी, कारपोरेट और राजनीतिक दबावों के बगैर पत्रकारिता की जा सकती है, उनके लिए इस अखबार में अवसर है. अजीत के मुताबिक गली-मोहल्ले की खबरों से उबे पाठकों के लिए एक राषट्रीय अखबार की जरूरत जान कर इसकी योजना बनाई गई है.

खास बात यह है कि इसमें रिटायर, पार्ट टाइम, घर बैठे पीसी पर कापी लेखन व अनुवाद करने वालों को भी मौका दिया जाएगा. बायोडाटा दस दिनों में मेल या डाक से भेजने को कहा गया है. डाक का पता है- नया इंडिया, पोस्ट बाक्स नंबर 2518, करोलबाग, नई दिल्ली-5. मेल आईडी This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it और This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it है. विस्तार से जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं... ''नया इंडिया'' अखबार को योग्य मीडियाकर्मियों की जरूरत


AddThis
Comments (18)Add Comment
...
written by vinay goel, August 22, 2011
naya india ke prakashan par vyas ji ko hardik badhai
...
written by mukesh kamal [mohali,chandigarh], July 29, 2011
vyas ji ek mahina ho gaya aapko maine apna resume mail kiya tha, aapki taraf se koi jawab nahin mila.
...
written by anish kumar, July 01, 2011
Hame ummid hi nahi pura vishwas hai ki Naya India bebak,bedhadak aur bemishal hoga. vyas ji ko dher sari badhaiya.
anish kumar, hajipur,Bihar
...
written by Mayank raj, June 29, 2011
Bas yahi chahat hai ki naya india me sab kuchh naya ho. Team ko koti-koti badhayee. Mayank raj. Gaya.
...
written by sanjay varma, June 28, 2011
It would pious path to revive the arena of journalism.
SANJAY VARMA RAIPUR C.G.
...
written by शिवा अवस्थी, June 28, 2011
"नया इंडिया " यथा नाम तथा गुण वाला साबित होगा. ऐसा मेरा विश्वास है. हरिशंकर व्यास जी को ढेरों बधाई. कम से कम पत्रकारों का अपना अख़बार तो आया. वरना कुछ लिख दीजिये और सामने वाला मालिक का मिलने वाला निकल आया तो समझो नौकरी गयी.
-शिवा अवस्थी, कानपुर.
मोबा. 09335372484
...
written by pravin kumar karn, June 27, 2011
thanks for releasing newspaper. many journalists may get new oppertunity.
...
written by suresh prajapati, June 27, 2011
हरिशंकरजी व्यास पत्रकारिता के स्तम्भ है जुझारू पत्रकारों को प्रोत्साहित करने में व्यासजी को मजा आता है. विश्वाश है कि यह अखबार पत्रकारों की धमक बनने वाला होगा. अखबार जल्द ही अपनी ख़ास पहचान बना लेगा
...
written by Girish Mishra, June 27, 2011
More the merrier. But the question is whether this new venture will be attractive and lasting. Ajit is all right, he is energetic and forward looking, But about Vyas, one must keep one's fingers crossed. I have watched his performance as anchor of Central Hall and have found in him neither depth nor maturity. His knowledge of India's contemporary history, economics and sociology is nothing but shallow. Moreover, he quite often betrays anti-Congressism and inclination towards Sangh Parivar. It's not without reason that most of his experts are from there.
...
written by vineet kumar, June 27, 2011
vyas ji ko hardik badhai.Naya India Team Ko Subhkamana.

vineet kumar
gorakhpur
9936809770
...
written by o p srvastava, June 27, 2011
"NAYA INDIA" NAM KA YEH AKHBAR LOGON KO PATKARITA KA NAYA MUKAM DEGA, AISSII UMMEED HAI.

SHRI HARI SHANKAR BYAS JI PURANE PATRKAR HAI AUR E. TV. KE
PILLAR HAI.

"NAYA INDIA" KO "NAIDUNIA" KI TARAH SE LANCH KARNA HOGA.

"NAYA INDIA" KO DHERO BADHAI.

O P SRIVASTAVA
JURNALIST
DEORIA
MO. 9454918198
27 JUNE 2011
...
written by Sageer khaksar, June 27, 2011
My best wishes to naya india team.sageer.a.khaksar,siddharthnagar,u.p.9838922122.
...
written by durgendra sharma, June 27, 2011
byas ji aap ko badhai ho aur naya india ko apar safalta mile
...
written by Vikas Kumar, June 27, 2011
Naya India Teem Ko Subhkamana.
Vikas Kumar
Samastipur (Bihar)
...
written by ashok bansal, June 27, 2011
हरिशंकर जी व्यास सही मायने में पत्रकारिता के स्तम्भ है..नए पर सार्थक प्रयोग आपको भाते हैं.नए और जुझारू पत्रकारों को प्रोत्साहित करने में व्यासजी को मजा आता है.
मैं नए अखबार की कामयाबी की कल्पना करता हूँ और शुभकामनाएं प्रेषित करता हूँ.
...
written by neeraj jha, June 27, 2011
vyas jee tv se jyada fit akhbar ke liye hain. unki dhardae lekhni wala akhbar pathko ko bajaru akhbar aur kasbai samachar wala akhabar se behtr hoga.
...
written by Hariom garg, June 26, 2011
ई टी वी का सेंट्रल हॉल बेहद तीखा प्रोग्राम है . यदि व्यास जी की पैनी धार "नया इंडिया"में भी बरकरार रहती है तो आज क़े अपनी "भजिया ब्रांड" अखबारों में "नया इंडिया" जल्द ही अपनी ख़ास पहचान बना लेगा ,पूरा विश्वाश है .शुभकामनाओं क़े साथ .
हरिओम गर्ग
बीकानेर
...
written by NIRANJAN satna, June 26, 2011
aadarniy vyas ji ko hardik badhai. naya india ko shubh kamnayen.

Write comment

busy