जयपुर में हॉकरों का हड़ताल, नहीं उठा एक भी अखबार

E-mail Print PDF

जयपुर में आज हॉकरों की हड़ताल के चलते एक भी अखबार नहीं बंटा. दैनिक भास्‍कर, राजस्‍थान पत्रिका लगायत सभी अखबारों को हॉकरों ने नहीं उठाया. जिसके चलते लोगों को सुबह सुबह अखबार नहीं मिला. हॉकर पिछले काफी समय से कमीशन बढ़ाने की मांग कर रहे थे, परन्‍तु एक भी अखबार का प्रबंधन उनकी मांगों पर ध्‍यान नहीं दे रहा था, जिसके बाद हॉकरों ने आज सभी अखबारों की आपूर्ति ठप कर दी.

सुबह अखबार ना आने से लोग खबरों को जानने के लिए परेशान रहे. किसी भी हॉकर ने अखबार नहीं उठाया. हॉकरों के हड़ताल से परेशान अखबारों के प्रबंधन ने जयपुर के विभिन्‍न सेंटरों पर अपने कर्मचारियों के माध्‍यम से मुफ्त में अखबार लोगों को बीच बंटवाया. भास्‍कर और पत्रिका तक मुफ्त में बांटे गए. किसी भी सेंटर पर हॉकरों ने अखबार नहीं उठाया. बताया जा रहा है कि यह हॉकरों का अब तक का सबसे बड़ा हड़ताल था जब कोई अखबार सेंटर से नहीं उठा. हॉकरों के हड़ताल से परेशान तमाम छोटे बड़े अखबारों के प्रबंधन ने हॉकरों से बातचीत करने के साथ ही कल के लिए रणनीतियां भी बनानी शुरू कर दी है.


AddThis
Comments (2)Add Comment
...
written by rahul , October 14, 2011
howker bhi apni manmani jyada karte hai wo ye bhul jate hai ki inhi logo se unka ghar chal raha hai hawker keval apna fayda dekhta hai
...
written by कमल शर्मा, July 09, 2011
अखबार मालिक हॉकरों की सुनते क्‍यों नहीं। अपनी सम्‍पत्तियां बढ़ा लेगे लेकिन हॉकरों को इस महंगाई में कमीशन बढ़ाकर क्‍यों नहीं देते।

Write comment

busy