''सत्‍तापरस्‍त हो गए हैं बिहार के अखबार''

E-mail Print PDF

बिहार मीडिया वाच ने राज्‍य के फारबिसगंज में हुए गोलीकांड की घटना में मीडिया की भूमिका पर सवाल उठाए हैं. बिहार मीडिया वाच की तरफ से प्रेस काउंसिल के अध्‍यक्ष को भेजे गए पत्र में आरोप लगाया गया है कि हिंदुस्‍तान, जागरण और अन्‍य कई अखबारों ने जन पक्षधर होने की बजाय सत्‍तापरस्‍त की भूमिका निभाई. घटना में पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी को सही ठहराने की भी कोशिशें की गई.

मीडिया वाच ने अपने दो पेज के पत्र में कहा है कि राष्‍ट्रीय अल्‍पसंख्‍यक आयोग के अध्‍यक्ष हबीबुल्‍लाह वजाहत के दौरों को भी किसी भी अखबार ने महत्‍व नहीं दिया, जिससे अल्‍पसंख्‍यकों के मन में इन अखबारों में होने वाली पत्रकारिता को लेकर संदेह उत्‍पन्‍न हो गया है.

watch

watch


AddThis