'हमवतन' की डमी बाजार में, अगले सप्‍ताह होगी लांचिंग

E-mail Print PDF

सांई प्रसाद मीडिया ग्रुप के साप्‍ताहिक अखबार की लांचिग अगले हफ्ते होगी. यह अखबार प्रत्‍येक गुरुवार को बाजार में आएगी.  इस अखबार को पारिवारिक अखबार बनाकर हिंदीभाषियों को जोड़ने की कोशिश की जा रही है. गुरुवार यानी आज इस अखबार की डमी प्रकाशित की गई. डमी में राजनीतिक खबरों पर ज्‍यादा फोकस किया गया है.

माना जा रहा है कि न्‍यूज एक्‍सप्रेस चैनल की तरह अखबार में भी राजनीति और राजनीतिक विश्‍लेषण से जुड़े खबरों को प्राथमिकता दी जाएगी. राजनीति खबरों में हिंदीवासियों के टेस्‍ट को देखते हुए अखबार को तथ्‍यपरक बनाया गया है. इसमें यूपी, उत्‍तराखड, बिहार, एमपी, राजस्‍थान, झारखंड, छत्‍तीसगढ़ जैसे हिंदी प्रदेशों के अलावा गुजरात, महाराष्‍ट्र, हरियाणा, पंजाब, बंगाल, उड़ीसा, असम में रहने वाले हिंदीभाषियों पर फोकस किया गया है. अखबार में राजनीति के अलावा धर्म, क्राइम, तकनीक, लाइफ स्‍टाइल, सिनेमा, करोबार, साहित्‍य, राज्‍य, गाशिप, महिला, बच्‍चे जैसे मुद्दों को भी प्रमुखता दी गई है.

अखबार को अगले सप्‍ताह 50 हजार प्रिंट के साथ लांच करने की योजना है. इस अखबार का लांचिंग आमंत्रण मूल्‍य आठ रुपये निर्धारित किया गया है. इस अखबार में परिवार के सभी वर्गों को ध्‍यान में रखकर कंटेंट तैयार किया गया है. सभी के लिए इस अखबार में कुछ ना कुछ होगा. अखबार के कार्यकारी संपादक निर्मलेंदु साहा ने बताया कि अभी डमी कॉपियां निकाली गई हैं. हम डमी के माध्‍यम से लोगों की प्रतिक्रियाएं जानना चाहते हैं. इसके बाद कोशिश है कि अगले सप्‍ताह इस अखबार को लांच कर दिया जाए.

उन्‍होंने बताया कि हमारी कोशिश है कि यह एक पूर्ण अखबार हो,‍ जिसमें परिवार के सभी सदस्‍यों को कुछ न कुछ मिले. हम बेहतर और संतुलित कंटेंट के जरिए लोगों के घरों और दिलों तक पहुंचने की कोशिश करेंगे. न्‍यूज के साथ व्‍यूज को भी पूरी प्रमुखता दी जाएगी. खबरों को खबर की तरह प्रस्‍तुत किया जाएगा. टैग लाइन 'पैनी नजर, पक्‍की खबर' की तरह अंदर तक की जानकारियां पाठकों तक पहुंचाई जाएंगी.


AddThis
Comments (6)Add Comment
...
written by Bharat kumar, July 16, 2011
Nirmalendu saha ji ko salah
patrakarita me bhadas aam baat hai lekin Mukesh ji par bharosa rakne wale patrkar apne karm me kitne kamyab hote hai shanka hai kyoki mukesh ji gajab ki will power rakkar kaam karte hai. Ham vatan me package tho mill jayega likin asli maza aapko circulation ki demond genrate karne me aayega. News express me mukesh ji ki sharan me rahe sukhi hoge.
Chamucho ka kya bharosa kabhi idhar kabhi udhar.

Bharat kumar
News editor - SAMAY KA DARPAN -C.G
...
written by Mihir Deepak, July 15, 2011
Weekly Magazines ka Jamana filhal Lad chuka hai. Denkhe Nirmalendu kya karten hain. Achha hota yashwant ki tarah koi Hindi portal chalate.
...
written by ravi kumer, July 15, 2011
फिलहाल तो न्यूज एक्सप्रेस एक्सप्रेस ही लॉन्च हो जाए..हमवतन का भविष्य निर्मलेन्दु के अतीत से ही पता चल रहा है।बधाई हो साहा जी।यहां कितने दिन का पड़ाव है आपका।कहीं स्वाभिमान टाइम्स जितना सफर तो नहीं..
...
written by rohit, July 14, 2011
ye ek media me bda kadam hai aapko meri traf se dili mubarakbad
...
written by sanjeev, July 14, 2011
Nirmalendu saha ne tala to Swabhiman Times men bhi lagwa diya... Hamvatan ki team Shankar ki barat hai. Iskee adhikatam samayavadhi hogi bamushkil 1 sal
...
written by anamisharanbabal, July 14, 2011
साहा जी रविवार की बंदी के बाद फिर से साप्ताहिक में लौटना और हमवतन से कदमताल करते हुए हमसफर करना शुभ हो। हालांकि अक्षर भारत बांग्ला में ताला लगवाया था। इसमें किसकी गलती थी यह अब एक इतिहास का विषय हो गया है। मगर हमवतन आप कितना भला निकालेंगे इस पर सबकी नजर तो रहेगी ही । एसपी और पंड़ितजी के साथ काम करने का कितना गुण ग्रहण किया इसको देखना सबको अच्छा लगेगा। हर संपादक की तरह भांजने वाली आदत से परहेज करके प्रसार संख्या को आसमान पर नहीं धरती पर ही रख कर बोले,क्योंकि आपको तो शायद ज्यादा पता होगा कि 50 हजार की प्रसार पाने में ज्यादातर पेपर और पत्रिकाएं अमूमन चूक जाती या यों कहे बंद हो जाती है। तमाम आंशकाओ , के बावजूद मेरी बहुत 2 शुभकामनाएं।

Write comment

busy