राष्‍ट्रीय सहारा उर्दू ने चुराई इंकलाब की खबर

E-mail Print PDF

लखनऊ से प्रकाशित होने वाला राष्‍ट्रीय सहारा का उर्दू अखबार अब खबरों की चोरी पर उतर आया है वो भी बेशर्मी के साथ. सहारा उर्दू ने खबर का इनपुट नहीं बल्कि पूरी खबर ही चोरी कर ली है. लखनऊ से प्रकाशित हो रहे जागरण ग्रुप के उर्दू अखबार इंकलाब ने 17 जुलाई को सिटी एडिशन में पेज नम्‍बर तीन पर यूपी उर्दू राबि‍ता कमेटी के प्रोग्राम की खबर छापी थी. इस दिन यह खबर सहारा अखबार में प्रकाशित नहीं हुई.

सहारा ने अगले दिन यानी 18 जुलाई को पेज नम्‍बर तीन पर इंकलाब में छपी इसी खबर को कॉपी करके प्रकाशित कर दिया. यहां तक कि उसने इंकलाब में छपे खबर की हेडिंग भी बदलने की जरूरत नहीं समझी. राष्‍ट्रीय सहारा ने इस खबर में एडिशनल काम इतना किया कि एक फोटो लगा दिया. और बेशर्मी दिखाते हुए उसने इस खबर की क्रेडिट सहारा न्‍यूज ब्‍यूरो यानी एसएनबी प्रकाशित कर दिया. आप भी सहारा उर्दू में छपी नकल की गई खबर को देख सकते हैं.

इंकलाब


AddThis