भास्‍कर ने छापी न्‍यायालय की फोटो, जज को चिट्ठी लिखकर कार्रवाई की मांग की गई

E-mail Print PDF

इंदौर। दैनिक भास्कर के इंदौर संस्करण में प्रकाशित एक खबर पर इंदौर के एक नागरिक ने एक शिकायत मप्र हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को भेजी है, जिसमें 21 जुलाई को अखबार में प्रकाशित एक फोटो को कोर्ट की अवमानना बताते हुए अखबार के मालिक, संपादक एवं फोटो लेने वाले के खिलाफ आपराधिक केस चलाने की मांग की है।

भास्‍कर ने अपने 21 जुलाई के इंदौर सस्‍करण के पेज नम्‍बर 4 पर सुगनीदेवी जमीन घोटाले के मामले में एक खबर छापी थी। इस खबर में कोर्ट के भीतर का फोटो प्रकाशित किया गया था तथा उस के नीचे लिखा था कि विशेष अदालत में लोकायुक्त पुलिस अधिकारी। इसी खबर को न्यायालय की अवमानना बताते हुए चीफ जस्टिस से संज्ञान लेने की मांग की गई है। पत्र में  कहा गया है कि न्यायालय के भीतर के फोटो प्रकाशित नहीं किए जा सकते है, यह कोर्ट की अवमानना है, लेकिन उक्त अखबार ने अपनी लोकप्रियता बढ़ाने के लिए नियम कायदों को ताक पर रख दिया है। इसलिए अखबार के जिम्‍मेदार लोगों खिलाफ आवश्‍यक कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।


AddThis