बिना काम के भी इस पूर्व संपादक को दी जाती थी भारी रकम

E-mail Print PDF

लंदन। विवादास्पद ब्रिटिश साप्ताहिक "न्यूज आफ द वर्ल्‍ड" में संपादक रहे एंडी कलसन को समाचारपत्र से अलग होने और डेविड कैमरन का मीडिया सलाहकार और तत्कालीन विपक्षी नेता नियुक्त होने के बाद भी उन्हें अखबार की तरफ से भारी धनराशि और अन्य सुविधाओं के मिलते रहने का नया खुलासा हुआ है।

बीबीसी ने इस बारे में मंगलवार को बताया कि कंपनी से अलग होने के बाद कलसन को कई किश्तों में 2007 के आखिर तक लाखों पाउंड की धनराशि और तीन वर्षो तक स्वास्थ्य सेवाएं एवं कंपनी की आधिकारिक कार इत्यादि जैसी सुविधाएं भी दी गई। हालांकि ब्रिटेन के सत्तारूढ गठबंधन के प्रमुख घटक दल कंजरवेटिव पार्टी से जुडे सूत्रों ने कहा है कि कलसन को न्यूज आफ द वर्ल्‍ड की ओर से मिलने वाली धनराशि और तमाम सुविधाओं के बारे में पार्टी के वरिष्ठ नेतृत्व को किसी भी किस्म की कोई जानकारी नहीं थी।

कलसन को 2007 में न्यूज आफ द वर्ल्‍ड अखबार छोड़ने के बाद तत्कालीन विपक्षी नेता डेविड कैमरन ने अपना मीडिया सलाहकार नियुक्त किया था। वह 2010 में कैमरन के प्रधानमंत्री बनने के बाद भी इसी पद पर कायम रहे थे और इस वर्ष जनवरी में फ्नो हैकिंग मामले में नाम उछलने के बाद उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया था।

कलसन को जुलाई में फोन हैकिंग मामले ने पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। कैमरन के विरोधियों का मानना है कि मीडिया मुगल रूपर्ट मर्डोक के अखबार के इतने वरिष्ठ व्यक्ति को कैमरन का मीडिया सलाहकार चुना जाना इस बात की ओर स्पष्ट रूप से इंगित करता है कि वह मर्डोक और उनके मीडिया समूह का पूरा समर्थन हासिल करना चाहते थे। साभार : पत्रिका


AddThis
Comments (0)Add Comment

Write comment

busy