साप्‍ताहिक से दैनिक बन गया 'अखंड हिमाचल', लांचिंग हुई

E-mail Print PDF

हिमाचल प्रदेश के सुंदरनगर से नया हिंदी दैनिक 'अखंड हिमाचल' का प्रकाशन प्रारम्‍भ हो गया है. अखंड हिमाचल बीते 28 सितम्‍बर को पाक्षिक के रूप मे शुरू किया गया था. अखबार को मिले बेहतर रिस्‍पांस के बाद इसे इस साल 31 मई को साप्‍ताहिक कर दिया गया. अब इस अखबार का प्रकाशन दैनिक कर दिया गया है. प्रबंधन का कहना है कि वह इस अखबार को लोगों की आवाज बनाएगा.

अखबार के संपादक गौरव सोनी का कहना है कि हम हिमाचल की पहचान कायम रखने के लिए हर संभव प्रयास इसके माध्‍यम से करेंगे. हम लोगों की आवाज बनकर उसे सरकार के कानों तक पहुंचाएंगे. उन्‍होंने उम्‍मीद जताई की यह अखबार हिमाचल की जनता के हर मानक पर खरा उतरेगा.


AddThis
Comments (7)Add Comment
...
written by ek pirit, October 12, 2011
भाई लांचिंग तो हो ली पुराने पत्रकारों का पैसा तो दे दो; अंखंड हिमाचल पहले जब महीने में दो बार छपता था; तब से मेरे तीन महीनें का वेतन गौरव सोनी ने नहीं दिया; अब सूरज ठाकुर हों या दूसरे लोग सब अपना सिर पीट रहे हें; अब अखबार के संपादक सुषील कुमार पंजाब केसरी को छोड कर, बनने जा रहे हें; सुना है उनका वेतन साठ हजार तय किया गया है; यह मिल जायेगा यह तो समय ही बतायेगा;
एच आनंद शर्मा शिमला
...
written by Eshan Akhtar, September 29, 2011
Dear Soni ji ,parkashan par akhand Himachal Team ko Congrates

Eshan Akhtar
Press reporter
Bilaspur H.P.
...
written by aneel, September 04, 2011
himachal me ab hindi patarkarita me ek naye yug ke shurat ho gai hai.ab kai new hindi daily parvesh kar rahe hai.chote se hill state me ab journalist ko bhe rojgar ke new moke mil jaege.abhi nbs bright news or akhand himachal lanch ho gae hai.ab jald he inconter,him dastak or daily newspaper bhe start honge.
...
written by aneel, September 04, 2011
parkashan par akhand Himachal Team ko badai
...
written by aneel, September 04, 2011
daily akhand himachal sundernagr HP me daily divya himachal Dharamshala ke he jyadatar employes join kar rahe hai.Desk par Anil chandan,Satpal ne join kiya hai.
...
written by Rohit, September 03, 2011
congratulations.....to the Team
...
written by arun dogra reetu, September 03, 2011
Himachal se akhand himachal jabardust shuruaat he management ko VADHAI ek anurodh bhi ki himachali sahityakaron k liye b ek panna aarambh kare

Write comment

busy