हिंदुस्‍तान के पत्रकार को घपले की खबर लिखना महंगा पड़ा

E-mail Print PDF

हिंदुस्‍तान, मोतिहारी के पत्रकार धनंजय कुमार के लिए घपले के खिलाफ खबर लिखना परेशानी का सबब बन गया है. अखबार मैनेजमेंट उनके खिलाफ जांच करा रहा है. धनंजय ने अपने अखबार में एक पार्षद द्वारा बनवाए जा रहे नाली में की गई घालमेल की खबर लिख दी, खबर से बौखलाया पार्षद अखबार के कार्यालय पहुंच गया. उसने रिपोर्टर से बहस की तथा बाहर निकल गया. इसी बीच किसी ने उसे सुझाव दे दिया कि पटना जाकर संपादक से शिकायत करो.

पार्षद इस प्रकरण में पटना जाकर संपादक अकु श्रीवास्‍तव से रिपोर्टर के बारे में शिकायत की. कुछ दूसरे लोगों ने भी हिंदुस्‍तान के वरिष्‍ठों के पास कुछ झूठ-कुछ सच लिखकर मेल कर दिया. अब खबर है कि धनंजय कुमार की डेटलाइन फिलहाल बंद कर दी गई है तथा मामले की जांच कराई जा रही है. सूत्रों का कहना है कि धनंजय स्‍थानीय प‍त्रकारीय राजनीति के शिकार हो गए हैं. अब यह जांच के बाद ही प्रबंधन तय करेगा कि उनकी डेट लाइन शुरू होगी या उन्‍हें बाहर किया जाएगा. इस संदर्भ में ब्‍यूरोचीफ मनीष कुमार सिंह ने जांच होने की पुष्टि की.


AddThis
Comments (7)Add Comment
...
written by मुश्ताक वैद, September 25, 2011
अजय व रवि के फर्जी नाम से कमेंट डालने वाले दल्ले पत्रकारों, लगता है तुम लोग लफंगे मणिभूषण श्रीवास्तव के स्वजातीय हो . इसीलिए धनंजय जैसे होनहार युवा कलमकार पर झूठा लांक्षन लगा रहे हो . मां का दूध पीये हो तो पहचान उजागर करके लिखो . तुम्हारी पोल भी भड़ास पर न खोल दी तो कहना .
...
written by raja, September 25, 2011
Motihari hindustan office me reporter news likhane ke liya nahi Awadh wasali, commision khori ka liya kam karte hai. yaha ke ex. prabhari satyarthi yaha bina paise ka kam karta hai wahi kai aise reporter yaha bina paise ka kam karte hai. sashi sekhar je yaha ka sabhi officekarmi ka tabadala kar de sab thik ho jayaga.
...
written by arun, September 25, 2011
mai sahsi sekhar je se yahi kahana chatta hu ke ak stringer ke liya itni bawander kyu.manish singh yaha ka prabhari hai unko itni bachani kyu ho rahi hai. manish singh use stringer ka badaulat wasali karne yaha aaya tha. us stringer dhananjay ka bara ma pata kar la wah khud ward chunav lar chuka hai .aur us ward parshad se purani dusmani hai. Hindustan paper ko dhanjay istamal katta hai. ap motihari ka kisi bhi paper ka office se pata kar sakte hai ki dhanjay kis kism ka admi hai.uske sath ise bhi kara dand hona chaiya tha.
arun
...
written by bablu buxar, September 24, 2011
hindustan akhabar menagment ke pas khabar chapne ke bad baokhlaie logo ke chamche ka camplen par kaan jalde jata hai akhabar me kam karne wale repoter ke khaber par viaswas kam hota hai bhai . is liea motihari ke chamche repotaro ............ or vina kaan / akhe ke hindustan managment se sawdhan ho kar raih bhai .
...
written by ajay, September 24, 2011
Dhananjay ka sath jo hua aacha hua.wah patrakar ke layak nahi tha.
Ajay
...
written by ravi, September 24, 2011
Dhananjay kumar je patrakar rangadari, commision khori ka liya nahi samaj seva ka liya hota hai. Ravi
...
written by मुश्ताक वैद, September 24, 2011
हिन्दुस्तान के आलाकमान शशि शेखर जी क्या सुन रहे हैं आप ? धिक्कार है हिन्दुस्तान,बिहार के एडिटोरियल पर जिसने एक अपराधी व छुटभैये नेता के कहने पर धनंजय जैसे बेबाक व निर्भिक पत्रकार का डेटलाइन बंद कर दिया . यदि सच्चाई लिखने पर इसी तरह पत्रकारों के साथ अन्याय होता रहा तो अखबार से लोगों का भरोसा उठ जाएगा . नाली निर्माण में अनियमितता को लेकर खबर लिखने वाले धनंजय पर झूठे आरोप लगाने वाले मोतिहारी के इस वार्ड पार्षद का नाम है मणिभूषण श्रीवास्तव . यह पहले से अपराधिक प्रवृति का रहा है . शहर के थाने में इस पर कई संगीन मामले दर्ज हैं . इसकी पत्नी भी रामगढ़वा में फर्जी तौर पर शिक्षिका के तौर पर कार्यरत है .यह जांच का विषय है कि बहाली तो फर्जी है ही उसके मैट्रिक के प्रमाण पत्र भी जाली होने की आशंका है . हिन्दुस्तान,पटना के कार्यकारी सम्पादक अकु श्रीवास्तव नें स्वजातीय मोहवश बिना किसी जांच के स्टिंगर धनंजय कुमार उर्फ धन्नू का डेट लाइन बंद कर गलत निर्णय लिया है . उन्हें इसपर पुन: विचार करना चाहिए .

Write comment

busy