हिंदुस्‍तान : रायबरेली के पत्रकार हड़ताल पर, सर्वेश को औरैया भेजा गया

E-mail Print PDF

हिंदुस्‍तान के वरिष्‍ठ लोग अपने यूनिटों में एक रोग का इलाज कर रहे हैं, तभी दूसरा रोग निकलकर सामने आ जा रहा है. कानपुर यूनिट को लेकर परेशान आला हाकिम इस यूनिट से जुड़े जिलों के दौरों पर हैं. हिंदुस्‍तान के कार्यकारी संपादक नवीन जोशी भी कानपुर में चार दिनों से कैंप करके समाचार संपादक अंशुमान तिवारी की जमकर क्‍लास ले रहे हैं, पर उनके लखनऊ यूनिट से जुड़े रायबरेली जिले में ही बवाल खड़ा हो गया है.

रायबरेली जिले में तो कांग्रेस का रागदरबारी गा रहे सभी अखबारों के पत्रकारों का हाल तो लोग जानते ही हैं, पर हिंदुस्‍तान का हाल इससे भी ज्‍यादा बुरा हो गया है. ब्‍यूरोचीफ अखिलेश ठाकुर के रवैये से नाराज उनके सहकर्मियों ने तीन दिन की सामूहिक अवकाश ले लिया है. उन्‍होंने स्‍थानीय संपादक नवीन जोशी से शिकायत करके ब्‍यूरोचीफ अखिलेश ठाकुर द्वारा किए जा रहे उत्‍पीड़न के जांच की मांग की है. कर्मचारियों ने  ब्‍यूरोचीफ पर कई प्रकार के आरोप लगाकर प्रधान संपादक शशि शेखर को भी ई-मेल भेजा है. इन लोगों ने चेतावनी दी है कि अगर तत्‍काल जांच कराकर अखिलेश ठाकुर को वापस नहीं बुलाया गया तो वो लोग सामूहिक रूप से इस्‍तीफा दे देंगे. अवकाश पर जाने वालों में आलोक मिश्रा, मनोज ओझा, सतीश मिश्रा, मनोज मिश्रा, ऑपरेटर विमल मौर्य व मनीष कुमार तथा आफिस ब्‍वॉय बबलू बताए गए हैं.

इस सामूहिक अवकाश से लखनऊ यूनिट में हड़कम्‍प है. रायबरेली में अखिलेश ठाकुर किसी तरह इधर-उधर से लड़के बुलाकर काम चला रहे हैं.  एक तरफ दिल्‍ली के दो आला हाकिमों का यूपी दौरा उस पर इस तरह की परेशानी, लखनऊ वाले वरिष्‍ठ परेशान हैं. मामले को सलटाने तथा डैमेज कंट्रोल करने के प्रयास किए जा रहे हैं. इस संदर्भ में जब अखिलेश ठाकुर से बात की गई तो उन्‍होंने इस तरह की किसी बात से इनकार करते हुए कहा कि सभी लोग काम कर रहे हैं. हमने आलोक मिश्रा को हटा दिया है. सामूहिक अवकाश जैसी कोई बात नहीं है.

इधर, इटावा का दौरा करने वाले एचएमवीएल के सीईओ अमित चोपड़ा तथा प्रधान संपादक शशि शेखर इटावा के संपादकीय कर्मच‍ारियों से खुश नहीं दिखे. कमजोर टीम बताकर मजबूत करने की सलाह दे डाली. हिंदुस्‍तान के टैग लाइन 'नया नजरिया तरक्‍की का' मतलब पूछे जाने पर कोई पत्रकार नहीं बता सका. औरैया से भी पिछले दिनों कई लोगों के दूसरे अखबारों में चले जाने के बाद डैमेज कंट्रोल करने के लिए अनिल शुक्‍ला को ब्‍यूरोचीफ बनाकर भेजा गया था. बीस सालों से हिंदुस्‍तान की सेवा करने वाले आनंद कुशवाहा को सेकेंड मैन बना दिया गया था. आनंद बीमारी के चलते आजकल आफिस नहीं आ रहे हैं, हालांकि इसके और दूसरे निहितार्थ भी निकाले जा रहे हैं. पर दोनों वरिष्‍ठों के दौरों को देखते हुए रविवार को सर्वेश मिश्रा को यहां का नया ब्‍यूरोचीफ बनाकर मामला संभालने को भ्‍ोजा गया है. अनिल शुक्‍ला सेकेंड मैन बना दिए गए हैं. अब देखना है कि ये लोग हिंदुस्‍तान का कितना भला कर पाते हैं.


AddThis