दो सरकारी विज्ञान पत्रिकाएं बंद

E-mail Print PDF

केंद्र सरकार वैसे तो विज्ञान के प्रचार-प्रसार के दावे खूब करती है, लेकिन विज्ञान विषयों में लंबे अरसे से निकल रही दो सरकारी पत्रिकाएं बंद पड़ी हैं. कारण सिर्फ इतना है कि जो सरकारी संस्‍था इन पत्रिकाओं का प्रकाशन करती है, उसके प्रबंध निदेशक भ्रष्‍टाचार के मामले में निलंबि‍त हो चुके हैं और नए निदेशक की नियुक्ति दो माह से नहीं हो पाई है.

इस स्थिति में पत्रिकाओं के प्रकाशन के लिए बजट की मंजूरी समेत संस्‍था का सारा काम ठप पड़ा है. राष्‍ट्रीय अनुसंधान विकास निगम (एनआरडीसी) विज्ञान मंत्रालय के अधीन एक सार्वजनिक उपक्रम है. इसका कार्य सरकारी शोध संस्‍थानों द्वारा विकसित की गई प्रौद्योगिकी का पेटेंट कराना तथा उनका रख रखाव करना है. एनआरडीसी दो साइंस पत्रिकाओं अंग्रेजी में 'इंवेंशन' तथा हिंदी में 'आविष्‍कार' का भी प्रकाशन करती है. जनवरी के शुरुआत में कंपनी के सीएमडी सोमनाथ घोष को भ्रष्‍टाचार के एक मामले में निलंबित किया गया. साभार : हिंदुस्‍तान


AddThis
Comments (1)Add Comment
...
written by Lalit kothiyal , March 07, 2011
This is shocking to know that that these two magaziens are not publishing due to administrative lapses. Govt should intervene immediately. These magazines are a good forum for the publicizing science for the masses.
Can Vigyan prasar come forward to save this. These magazines serves the society and aware development in the field of S&T

Lmohan kothiyal

Write comment

busy