निहार कोठारी ने पत्रिका कर्मियों पर कई पाबंदियां थोपीं!

E-mail Print PDF

: गुलाब कोठारी संपादकीय प्रकरण से मचे विवाद के बाद मेल के जरिए दी गई नसीहत : आदरणीय यशवंत जी,  पत्रिका समूह से संबंधित खबर प्रकाशित करने के लिए धन्यवाद. उस खबर के भड़ास पर छपने के बाद पत्रिका के सभी कर्मचारियों को निहार कोठारी के हस्ताक्षर वाला एक ईमेल मिला है जिसमें आंतरिक ईमेल के विवेकपूर्ण प्रयोग की सलाह दी गयी है. किसी तरह की जानकारी न बांटने की सलाह दी गयी है. किसी को मेल फॉरवर्ड करने पर पाबन्दी लगा दी गयी है.

इस मेल के अलावा मौखिक रूप से सभी को चेतावनी दी गयी है कि संस्थान के हितों के विरुद्ध किसी भी वेबसाइट पर कुछ न लिखें / न शेयर करें. कह सकते हैं कि गुलाब कोठारी के खिलाफ जो आग संस्थान में फ़ैली है,  उसे दबाने का यह एक और प्रयास है. अटैचमेंट में वो ईमेल हैं जो निहार कोठारी की तरफ से सभी को भेजे गए हैं. इसे देख कर आप समझ जायेंगे माजरा क्या है. आपका और कोई सहयोग दे सका तो जरूर कोशिश करूँगा.

आपका

एक शुभचिंतक


AddThis