आई-नेक्‍स्‍ट, बरेली ने छापा मरे युवक का बयान

E-mail Print PDF

आई-नेक्‍स्‍ट में सुर्खियां लगातार जारी हैं. इस बार कमाल किया है आई-नेक्‍स्‍ट, बरेली ने. आई-नेक्‍स्‍ट ने अपने दो मार्च के अंक में एक मर चुके युवक का बयान छाप डाला है. अखबार के वॉयस आफ बरेली कॉलम में जिस गौरव का बयान छापा गया है, उनका चार साल पहले ही निधन हो चुका है. इसके बावजूद उनके हवाले से सीएम के दौरों के बारे में उनका अभिमत लिया गया है.

इस कारनामें का खुलासा नहीं होता अगर गौरव दैनिक जागरण, बरेली के पूर्व कर्मचारी नहीं होते. गौरव कानपुर के रहने वाले थे तथा दैनिक जागरण, बरेली में काम कर रहे थे. जागरण की नौकरी के दौरान ही उनका निधन हो गया था. मरे हुए साथी की फोटो देखकर जागरण में हलचल शुरू हो गई तो आई-नेक्‍स्‍ट का स्‍टॉफ मामले को दबाने में जुट गया.

इस संदर्भ में जब जागरण के एक सीनियर जर्नलिस्‍ट से बात की गई तो उन्‍होंने माना कि गौरव जागरण के पूर्व कर्मचारी थे तथा उनका निधन हो चुका है. उन्‍होंने आई-नेक्‍स्‍ट में छपी बात की चर्चा सुनने की बात तो कही पर जानकारी होने से इनकार कर दिया.

आईनेक्‍स्‍ट


AddThis