जेडे के परिवार को पचास लाख रुपये दिया जाए

E-mail Print PDF

: पत्रकारों ने निकाला कैंडल मार्च :इंडियन मीडिया वेल्फेयर एसोसिएशन के तत्‍वावधान में इंडिया गेट पर पत्रकार स्व ज्योतिर्मय डे की हत्या के विरोध में पत्रकारों नें कैंडल मार्च निकाला और दो मिनट का मौन धारण किया। साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री को संबोधित अपनी पांच मांगों का एक ज्ञापन भी दिया। इस कैंडल मार्च में संस्था के अध्यक्ष राजीव निशाना, उपाध्यक्ष सुरेश झा, श्नेता, रवि भारती, महासचिव सकील अहमद, सचिव प्रशांत त्रिपाठी के अलावा काफी संख्या में इलेक्‍ट्रानिक और प्रिंट मीडिया के पत्रकार मौजूद रहे।

इस मौके पर जाने माने पाप सिंगर शंकर साहनी ने भी मोमबत्‍ती जलाकर जे डे को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद पांच सूत्रीय ज्ञापन मंत्रालय के अधिकारियों को सौंप दिया गया। नीचे गृहमंत्री को संबोधित ज्ञापन..


सेवा में

माननीय गृहमंत्री जी, भारत सरकार, नई दिल्ली

निर्भीक पत्रकार स्व. ज्योतिर्मय डे ने पत्रकारिता के उच्चतम मानदंडों की रक्षा में अपने प्राण भी न्योछावार कर दिए हैं। आज वह कर्तव्यनिष्ठ पत्रकारो के लिए एक बड़ा आदर्श बनकर उभरे हैं। श्री डे की जिंदगी अब वापस नहीं लाई जा सकती। लेकिन पीडित परिवार की समुचित मदद कर केन्द्र सरकार अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभा सकती हैं। यह मौका उन अनेकों पत्रकारों के बारे में भी सोचने का है जो अपने कलम से पत्रकारिता के उच्चतम मापदंड़ों की रक्षा के लिए तत्पर रहते हैं औऱ नित नए खतरों से खेलते रहते हैं।

अत: किसी भी पत्रकार के साथ किसी दुर्घटना या वारदात की स्थिति में पीडित परिवार की सहायता के लिए इंडियन मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन सरकार के सम्मुख निम्न मांग रख रही हैं। उम्मीद ही नहीं बल्कि विश्वास हैं कि सरकार इस विषय पर विचार कर इन्हे अविलंब स्वीकार करेगी...

1.  जे डे के परिवार को 50 लाख रुपये की सहयोग राशि मिले।

2.  पत्रकारो की सुरक्षा के खास प्रबंध हो।

3.  किसी भी आपात स्थिति में उनकी स्वाभाविक या गैरस्वाभाविक मृत्यु होने पर 20 लाख की राशि बीमा कवच के रुप में पीडित परिवार को मिले।

4.  दुर्घटना\ वारदात के शिकार पत्रकारों के आश्रित अव्यस्क बच्चों को निशुल्क शिक्षा की व्यवस्था हो।

5.  पीडित परिवार के किसी वयस्क सदस्य के लिए उपयुक्त रोजगार की व्यवस्था हो।

आपके सहयोग में

शकील अहमद

राष्ट्रीय महासचिव


मार्च


AddThis