गलत इस्‍तेमाल से मीडिया की छवि खराब होती है : जीएन रे

E-mail Print PDF

गुड़गांव। भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष जीएन रे ने मीडिया की निष्पक्षता पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि मीडिया को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब यह नहीं हो कि इसका गलत इस्तेमाल किया जाए। वे शुक्रवार को गुड़गांव में मीडिया और प्रशासन विषय पर विचार गोष्ठी में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि मीडिया निष्पक्ष रूप से काम करे और देश के प्रति जिम्मेदारी और जवाबदेही को निभाए।

बकौल रे मीडिया की छवि उस समय खराब होती है जब मीडियाकर्मी उचित तरीके से काम नहीं करते और पैसा लेकर लोगों को गलत सूचना देते हैं। इससे देश के लिए बहुत बड़ी समस्या पैदा होती है। भारतीय प्रेस परिषद ने कहा कि मीडिया और लोकतंत्र के तीन स्तंभ एक-दूसरे के विरोधी नहीं हैं, बल्कि शांतिपूर्ण विश्व व्यवस्था के निर्माण में भी रचनात्मक भागीदार हैं। उन्होंने कहा कि आदर्श स्थिति यह होगी कि मीडिया युक्तियुक्त, सामजिक और आर्थिक विकास में उत्प्रेरक भूमिका निभाए, जिसके बिना अच्छा प्रशासन संभव नहीं है। ट्रिब्यून के समूह संपादक राज चेंगप्पा ने कहा कि लोगों की यह सोच सही लगती है कि मीडिया केवल शहरी इलाकों की ही खबरें देता है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि देश अभूतपूर्व परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है और ऐसे समय में मीडिया को महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष कुलदीप शर्मा ने कहा कि आज की राजनीति ज्यादातर मीडिया पर आधारित हो गई है। इस गोष्ठी का आयोजन भारतीय लोक प्रशासन संस्थान के हरियाणा चैप्टर और हरियाणा लोकप्रशासन संस्थान द्वारा किया गया। संस्थान की महानिदेशक रजनी सेखरी ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

गुड़गांव से दीपक खोखर की रिपोर्ट.


AddThis