बाबू लाभचंद छजलानी की 100वीं जयंती

E-mail Print PDF

नई दुनिया के गुड़गांव स्थित आफिस में बाबू लाभचंद छजलानी की 100वीं जयंती पर हवन-पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हवन में नई दुनिया, गुड़गांव के सभी रिपोर्टरों, सब एडिटरों और ब्यूरो चीफ ने भाग लिया। आर्य समाज पद्धति से किए गए इस पूजन समारोह की शुरुआत गायत्री मंत्रोच्चार के साथ हुई। हवन के बाद बाबू लाभचंद छजलानी पर केंद्रित एक विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस दौरान ब्यूरो चीफ अनूप झा ने कहा कि हिंदी पत्रकारिता को समृद्ध करने के उद्देश्य से बाबू लाभचंद छजलानी द्वारा नई दुनिया अखबार की आधारशिला रखी गयी, जिसने आज वट वृक्ष का रूप धारण कर लिया है और हजार पत्रकारों-विचारकों को मंच प्रदान कर रहा है।

संगोष्ठी में पत्रकार संदीप दुबे ने कहा उम्र के साथ भाषा समृद्धि का जो उद्देश्य लेकर लाभचंद चले थे, उसे आज देश के सात राज्यों में नई दुनिया के रूप में देखा जा सकता है। आज नई दुनिया न केवल हिंदी पत्रकारिता को नई दिशा दिखा रहा है बल्कि पत्रकारिता की पुरानी व मिशनरी विधा को दैनिक पत्रकारिता में शामिल कर सूचनात्मक खबरों को सृजनात्मक बनाने का प्रयास कर रहा है।


AddThis