करनाल में पत्रकारिता पर वर्कशाप संपन्न

E-mail Print PDF

पिछले दिनों करनाल में पत्रकारिता की चुनौती विषय पर एक दिनी कार्यशाला का आयोजन किया गया. करनाल क्लब में सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के सौजन्य से करनाल प्रेस क्लब द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अतिरिक्त उपायुक्त संजीव वर्मा थे. संजीव ने कहा कि पत्रकारिता से जुड़े लोगों से समाज व राष्ट्र को बहुत अपेक्षाएं हैं इसलिए लोगों के विश्वास को कायम रखते हुए तथ्यों पर आधारित समाचार का प्रकाशन करना चाहिए.

कार्यशाला में दैनिक भास्कर, पानीपत के कार्यकारी संपादक ओम गौड़ ने कहा कि आधुनिक युग में मीडिया की जिम्मेदारी और बढ़ गई है. प्रिंट के अलावा आज इलेक्ट्रानिक मीडिया ने भी अपनी उपस्थिति दमदारी से दर्ज करवाई है. उन्होंने कहा कि मीडियाकर्मी अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन निष्पक्षता से करें. समाचार लिखने से पहले उसका फील्ड में जाकर अध्ययन करें. समस्या को निडरता से लिखें.

जगत क्रांति समाचार पत्र के संपादक नीरज सिंगला ने कहा कि कलम की ताकत तलवार से ज्यादा होती है इसलिए पत्रकारों को अपनी कलम का उपयोग समाज हित में निस्वार्थ भाव से करना चाहिए. हरियाणा न्यूज चैनल के संपादक धर्मपाल धनखड़ ने कहा कि आज समाचार पत्र के अलावा इलेक्ट्रानिक मीडिया आम आदमी की आवाज को उठाने का सशक्त माध्यम बन गया है. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता ही लोकतंत्र का मूल आधार है और मीडिया इसी स्वतंत्रता का माध्यम है. उन्होंने कहा कि पत्रकारों को जज बनकर कार्य नहीं करना चाहिए बल्कि तथ्य व सत्य को प्रस्तुत करना चाहिए.

करनाल के अतिरिक्त जिला सत्र एवं न्यायाधीश रजनीश बंसल ने पत्रकारिता के क्षेत्र में न्यायालय से संबंधित जानकारी दी. उन्होंने कहा कि संविधान के सभी स्तंभों को अपना-अपना कार्य करना चाहिए. जब कोई स्तंभ दूसरे के कार्य में हस्तक्षेप करता है तो गड़बड़ शुरू हो जाती है. उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वे निर्भीक होकर पत्रकारिता करें. डीपीआरओ बीएल धीमान ने अतिथियों का स्वागत किया व क्लब के अध्यक्ष एमएस निर्मल ने सभी का धन्यवाद किया.


AddThis