उत्‍तराखंड में पत्रकारों ने सचिवालय का घेराव किया

E-mail Print PDF

: पत्रकार अजीत के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की मांग : संदिग्ध परिस्थितियों में हुई पत्रकार अजीत सिंह बिष्ट की मौत के बाद परिजनों को राज्य सरकार की ओर से सहायता की मांग को लेकर संयुक्त रूप से पत्रकार संगठनों ने राज्य सचिवालय का घेराव किया।

इस अवसर पर पत्रकारों ने कहा कि अजीत सिंह बिष्ट की 24 दिसंबर 2010 को उधमसिंह नगर जाते समय बस से गिरने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनके परिवार में मां, पत्नी घेरावऔर दो बेटियां हैं। बिष्ट परिवार के मुखिया थे। उनके निधन के बाद अब परिवार आर्थिक संकट से गुजर रहा है।

पत्रकारों ने सरकार की ओर से अभी तक मृतक परिवार को सहायता न दिए जाने पर रोष प्रकट किया और सरकार से अजीत के आश्रितों को पांच लाख रूपए की आर्थिक सहायता देने की मांग की।

प्रदर्शनकारियों में श्रमजीवी पत्रकार संगठन के मनमोहन लखेडा, विश्वजीत नेगी, चंद्रवीर गायत्री, तिलकराज, नरेन्द्र सेठी, प्रभात खबर के अशोक अश्क, कमल शर्मा, शिव प्रसाद सेमवाल, एनयूजे के निशीथ सकलानी, नरेश बलूनी, ईएमएस के संजय श्रीवास्तव, जीएन बलोदी, हिन्दुस्थान समाचार के धीरेन्द्र प्रताप सिंह, आशुतोष चतुर्वेदी, आज तक न्यूज चैनल के अभिषेक अनिल शाह, राजेश शर्मा, अरूण शर्मा, अरूण वर्मा, किशोर अरोडा, देवभूमि पत्रकार संघ के डा. बीडी शर्मा, राजेन्द्र नेगी, अफजाल अहमद, श्रीराम गुप्ता, गिरीश तिवारी आदि शामिल थे।

देहरादून से धीरेन्द्र प्रताप सिंह की रिपोर्ट.


AddThis