पत्रकारों की परेशानियों को दूर करेगा क्राइम रिपोर्टर एसोसिएशन

E-mail Print PDF

क्राइमपत्रकारों को रोजाना के कामकाज में आने वाली परेशानियों के समाधान को लेकर बनी क्राइम रिपोर्टर एसोसिएशन इन दिनों खुद को मजबूत करने के साथ-साथ पत्रकारों के हितों के लिए कार्ययोजनाएं भी तैयार कर रही है। इसी को लेकर दिल्ली के जंतर मंतर स्थित डीजेए कार्यालय में एसोसिशन के पदाधिकारियों की छठवीं बैठक हुई, जिसमें कई अहम फैसले किए गए। क्राइम रिपोर्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष कुमार गजेंद्र और महासचिव फरहान याहिया ने बताया कि बैठक में जिन मुद्दों पर चर्चा हुई, उनमें सर्वप्रथम निष्क्रिय पदाधिकारियों को सक्रिय होने के लिए प्रेरित करना और एसोसिएशन की फाइनल कार्यकारिणी तैयार करना प्रमुख था।

बैठकों में बिना सूचना दिए अनुपस्थित रहने वाले पदाधिकारियों को अंतिम चेतावनी देने के फैसला भी किया गया। एसोसिएशन के सदस्यों को फरवरी महीने के मध्य से पहले परिचय-पत्र और पार्किंग स्टिकर्स जारी करने का फैसला भी किया गया। बैठक के प्रमुख मुद्दों में पत्रकार स्व. कमल शर्मा की याद में एक ट्रॉफी शुरु करने की योजना शामिल थी। मार्च महीने में पुलिस और पत्रकारों के बीच मैच का आयोजन करना भी तय हुआ। पत्रकारों का ग्रुप बीमा योजना और वेलफेयर फंड भी जमा करने के लिए सुझाव आया।

वरिष्ठ अपराध संवाददाता प्रमोद कुमार सिंह ने जल्द ही क्राइम रिपोर्टर एसोसिशन के पदाधिकारियों को उपराज्यपाल महोदय और पुलिस कमिश्नर से मिलने की योजना की भी जानकारी दी। महासचिव फरहान ने बताया कि दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने पार्लियामेंट एनेक्सी में जल्द ही क्राइम रिपोर्टर एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ चाय पार्टी रखने की इच्छा जाहिर की है। ये भी निर्णय लिया गया कि एसोसिशन की मासिक बैठक हर महीने के अंतिम शनिवार को रखी जाएगी। वरिष्ठ अपराध संवाददाता प्रदीप श्रीवास्तव ने भी सभी पत्रकारों को एकजुट होने का आह्वान किया। कुछ सदस्यों ने बताया कि दिल्ली पुलिस के ही कुछ अधिकारी पत्रकारों को एसोसिएशन से दूर करने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे अधिकारियों की कारगुजारियों को उपराज्यपाल और कमिश्नर पुलिस के सामने बेनकाब करने की बात कही गई।


AddThis