''हमार टीवी ने नहीं जमा कराया सैकड़ों कर्मचारियों के पीएफ का पैसा''

E-mail Print PDF

: प्रबंधन पर पूर्व कर्मचारियों का धन हड़पने का आरोप : हमार टीवी प्रबंधन ने हमार टीवी और फोकस टीवी के ज्‍यादातर कर्मचारियों के पीएफ का पैसा जमा नहीं किया है. सिर्फ सन 2008 में कुछ म‍हीने पैसा जमा करने बाद अगले सालों में एक भी पैसा जमा नहीं कराया गया है. 2009 में ज्‍वाइन करने वाले कर्मचारियों के पैसे तो काटे गए लेकिन उसे जमा नहीं किया गया. ये कहना है हमार टीवी के साथ काम कर चुके किशन कुमार का.

किशन कुमार ने बताया कि वे पीएफ ऑफिस गए थे. वहां अव्‍वल तो जानकारी देने में ही हीलाहवाली की गई. ऐसा लग रहा था कि हमार टीवी प्रबंधन ने काफी पैसा खिला दिया है. उन्‍होंने बताया कि किसी प्रकार जानकारी मिली तो वो चौंकाने वाली थी. वहां मालूम चला कि हमार टीवी प्रबंधन ने हमार टीवी और फोकस टीवी के कर्मचारियों का मात्र 2008 दिसम्‍बर तक का ही पैसा जमा कराया है.

किशन कुमार ने बताया कि उसके बाद किसी कर्मचारी का पैसा पीएफ खाते में जमा नहीं कराया गया है. जो कर्मचारी 2009 में ज्‍वाइन किए उनका तो एक पैसा भी पीएफ खाते में जमा नहीं कराया गया है. प्रबंधन कर्मचारियों के साथ छल करते हुए पूरा पैसा खा गया है. उन्‍होंने बताया कि शिकायत के बाद पीएफ कार्यालय प्रबंध तंत्र के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कहा है. उन्‍होंने कहा कि पीएफ का पैसा नहीं मिलने के चलते हमें काफी आर्थिक दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है.

इसके पूर्व विजय पांडेय ने भी हमार टीवी प्रबंधन पर अपना पीएफ डकार जाने का आरोप लगाया था. उन्‍होंने कहा था कि प्रबंधन उनके समेत सैकड़ों कर्मचारियों का पीएफ का पैसा नहीं जमा किया है. विजय पांडेय ने यह भी कहा था कि जानकारी लेने पर भी प्रबंधन न सिर्फ हीलाहवाली करता रहा बल्कि फार्म पर सिग्‍नेचर करने से भी इनकार कर दिया था. जिसकी मांग पीएफ विभाग द्वारा बार-बार की जाती है.

पीएफ कार्यालय का चक्‍कर लगा आए कुबेरनाथ सिंह ने भी कहा कि हमलोगों द्वारा चैनल छोड़ने के बाद आज तक पीएफ का कोई अता पता नहीं है. प्रबंधन हमलोगों से जबरदस्‍ती करके इस संबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी देने से इनकार कर दिया था. चैनल के वरिष्‍ठों ने तो हमलोगों से बदतमीजी भी की थी. हमलोगों के खिलाफ फर्जी मुकदमा लिखाने का प्रयास भी किया गया था. परन्‍तु सारी सच्‍चाई सामने आने के बाद पोल खुल गई थी.

कुबेरनाथ ने बताया कि अब हमलोग पत्रकार कर्मचारी संगठन की तरफ से इस संदर्भ में लड़ाई लड़ने की रूपरेखा तैयार कर रहे हैं ताकि हमार टीवी हमलोगों के मेहनत का पैसा न खाने पाए. उन्‍होंने कहा कि यह कंपनी पूरी तरह जबरदस्‍ती और फ्राड करने पर उतारू है परन्‍तु हमलोग जल्‍द ही कोर्ट जाने की तैयारी में हैं. पिछलें दिनों लोगों के व्‍यक्तिगत दिक्‍कतों की चलते इसे अंजाम नहीं दिया जा सका था. अब सब लोग तैयार हैं.

अपने पीएफ के लिए पीएफ ऑफिस का कई बार चक्‍कर लगा चुके भूपेंद्र सिंह ने भी कहा कि हमलोगों से दोगुना पैसा काटने के बाद भी मैनेजमेंट ने पीएफ एकाउंट में पैसा नहीं डाला. हमार छोड़ने वाले सैकड़ों कर्मचारियों का लाखों रुपए प्रबंधन दबा कर बैठा है. ऐसा लग रहा है कि मैनेजमेंट को इसी तरह पैसा दबाकर बैठने की आदत है. उन्‍होंने भी बताया कि हमने एक संगठन बनाया है, जिसके माध्‍यम से शीघ्र कोर्ट जाने का विकल्‍प खुला हुआ है.


AddThis