नीरा राडिया की दलाल बरखा दत्त वापस जाओ!

E-mail Print PDF

योगेश कुमार शीतल : शानदार काम

: इंडिया गेट पहुंची बरखा को जनविरोध के कारण भागना पड़ा : नारेबाजी की शुरुआत करने वाले आईआईएमसी छात्र को डर है कि एनडीटीवी उस पर झूठा केस कर सकता है :

योगेश कुमार शीतल इंडियन इंस्टीट्यूट आफ मास क्म्युनिकेशन के छात्र हैं. पत्रकारिता में सरोकार और आदर्श को जिंदा रखने और आगे बढ़ाने के लिए तत्पर रहते हैं. तभी तो इंडिया गेट पर भ्रष्टाचार विरोधी अभियान को सपोर्ट देने के लिए उमड़े जनसैलाब के बीच जब बरखा दत्त नजर आईं तो वे खुद को रोक न सके. उन्होंने नारेबाजी शुरुआत की तो देखते ही देखते सैकड़ों लोगों ने कहना शुरू कर दिया कि जो बरखा दत्त खुद भ्रष्टाचार की आरोपी हैं, वे यहां कैसे रिपोर्टिंग कर सकती हैं. और, जनता ने मीडिया के भ्रष्टों के बारे में बातचीत शुरू कर दी. खुद के खिलाफ नारेबाजी होते देख बरखा ने पुलिस प्रोटेक्शन की डिमांड की. बाद में वे असहज हालात देख वहां से चली गईं. उधर, आईआईएमसी छात्र शीतल को डर है कि पुलिस उन्हें फंसा सकती है. शीतल ने भड़ास4मीडिया को अपनी आशंका और इंडिया गेट पर घटित घटनाक्रम के बारे में एक पत्र भेजा है, जिसे पढ़ने के लिए क्लिक करें...

एनडीटीवी वाले मुझे झूठे केस में फंसा सकते हैं


AddThis