बरखा समर्थक गैंग योगेश शीतल को फंसाने में जुटा

E-mail Print PDF

: एक महिला मीडियाकर्मी को पीटने का आरोप लगाया और इस मुद्दे को तूल देने में जुटे ताकि बरखा को भागने पर मजबूर करने वाले योगेश शीतल को सबक सिखा सकें : भारत में पत्रकारिता शिक्षा के सर्वोच्च संस्थान इंडियन इंस्टीट्यूट आफ मास कम्युनिकेशन के छात्र और इंडिया अगेंस्ट करप्शन के एक्टिविस्ट योगेश कुमार शीतल इन दिनों चर्चा में है. वे बरखा का विरोध करके भले ही चर्चा में आ गए हों और ईमानदार मीडियाकर्मियों की प्रशंसा बटोर रहें हों पर बरखा गैंग उन्हें निशाने पर ले चुका है और उन्हें फंसाने की पूरी कोशिश की जा रही है.

इंडिया गेट पर घटना के तुरंत बाद भी योगेश पर एनडीटीवी की एक महिला कर्मी को पीटे जाने का आरोप लगाकर पुलिस को सौंपने की कोशिश की गई लेकिन योगेश ने बहादुरी से इन आरोपों का मुकाबला किया और खुद को पुलिस व एनडीटीवी वालों से मुक्त कराया. पर योगेश के खिलाफ मुहिम ठंढी नहीं पड़ी है. बरखा के भ्रष्टाचार पर बातचीत न करके बरखा गैंग योगेश द्वारा कथित तौर पर एनडीटीवी की एक महिला को पीटे जाने को मुद्दा बनाकर पेश कर रहा है. ट्विटर पर उस महिला ने कई ट्वीट किए हैं जिसके बारे में प्रचारित किया जा रहा है कि उसे योगेश ने पीटा. वो महिला खुद क्या क्या कह रही है, उसके ट्विटर एकाउंस से जाना जा सकता है. उसके ट्वीट का स्क्रीनशाट लेकर यहां प्रकाशित किया जा रहा है.


AddThis
Comments (4)Add Comment
...
written by johnsujju, April 12, 2011
BARKHA DUTTA NE EK STUDENT SE ULAZANAA ACCHA NAHI HAI..EK TO USKI SAARE DESH-VIDESH ME BADNAAMI HO CHUKI HAI....AUR YE SAB KARKE AUR BADNAAM HO RAHI HAI.......
...
written by johnsujju, April 12, 2011
BARKHA KYA KHAK FHASAYENGI.....JO KHUD DALAL HAI USE DUROKI SACCHAI SE Q DAR LAGTAA HAI ? PRANAB ROYJI ABHI BHI ZENDU BALM JAISAA KAAM KAR RAHE HAI....NDTV SE BARKHA NAME KI DALAL KO NIKAAL DENAA CHAHIYE NAHI TO NDTV KAA DIWALAA NIKAL JAYENGAA..........
...
written by ramaesh, April 11, 2011
barkha pehle hi apna naam kharab ker chuki hi ,.......ab ruby bhi jhooth bolker apna naam badnam karne me juti hi......ruby one day u will be like barkha,,,,,,,,,,,best of luck waise bhi aaj kal BARKHA shabd ko gaali samjha jaata hi
...
written by raj, April 11, 2011
और क्या कर ही सकते हैं...पुच्छल्लु...ज़िंदगी में खुद भी अपना मुकाम इसी तरह बनाया होगा तभी तो मिर्ची लग रही है..मगर इनको नहीं पता कि मधु कोड़ा और ए राजा की हैसियत कुछ नहीं बची तो ये और बरखा दत्त कुछ नहीं है...एक बार करके देखो तो पुलिस ख़ुद ही पता चल जाएगा बेटा जब चार और मामलों की पड़ताल शुरू हो जाएगी....करके देख ही लो अपनी औकात पता चल जाएगी...इस बार तो दलाली की अम्मा कांग्रेस भी किसी को नहीं बचा पाएगी

Write comment

busy