देश के स्ट्रिंगरों साथ आओ लड़ाई लड़ने के लिए

E-mail Print PDF

पूरे देश में काम करने वाले न्यूज़ चैनल जिनके भरोसे चलते हैं उनके हितों के लिए लड़ने वाला कोई भी नहीं है. जब चाहा हमे काम पर रख लिया,  जब चाहा हमे काम से निकाल दिया.  इन न्यूज़ चैनलों को टीआरपी दिलाने वाले, जिन्हें ये कभी संवाददाता, कभी रिपोर्टर या कभी स्ट्रिंगर के नाम से बुलाते हैं किन्तु हम इनके लिए मात्र बंधुआ मजदूर से अधिक की हैसियत नहीं रखते हैं.

खबरों को निकालते समय या बनाते समय हम इस बात का ध्यान भी नहीं रखते कि हम जिस परिवेश में रहते हैं उस में ही हमे रहना है. हमे उन्हीं राजनीतिक और प्रशासनिक लोगों के बीच में अपना जीवन यापन करना है, जिनकी खबरें हम बना रहे हैं. चैनलों को तो खबरों से मतलब होता है.  खबर चल गयी चैनल ने हमे उसका भुगतान कर दिया किन्तु हमने जिनके खिलाफ खबर चलाई थी, वो तो हमे अपना दुश्मन मान लेता है और मौके की तलाश में रहता है.  जब भी उसे मौका मिलता है वो हम पर वार कर देता है.  उस समय ये न्यूज़ चैनल वाले कहते है कि ये हमारा निजी मामला है. अरे भाई ये रिलेटेड तो खबर से ही है ना.

खैर ये सब तो चलता ही आ रहा है और भी बहुत से मामले हैं जिनका उल्लेख करना यहां जरूरी नहीं है.  मेरा मुख्य उदेश्य यह है कि ये तो हमे काम पर रखने के पहले जो एग्रीमेंट करते हैं,  उसमे सिर्फ वे क्लाज़ डालते हैं जिन में ये अपने आपको सुरक्षित रख सकें.  हमारी सुरक्षा या परिवार की सुरक्षा के साथ साथ हमारे सुरक्षित भविष्य की ये कोई गारंटी नहीं लेते हैं.  जब इनकी मर्ज़ी हुई हमे काम पर रख लिया,  जब इनकी मर्ज़ी हुई हमे काम पर से निकाल दिया.

मेरे पास ऐसे सैकड़ों उदाहरण हैं जिन्हें देख सुनकर मन विचलित हो जाता है. जहां तक पत्रकारों के हित में काम करने वाले संगठनों के बारे में सोचे तो ये सिर्फ अपनी दुकानें चला रहे हैं. हमे अपने अधिकारों की रक्षा के लिए स्वयं लड़ना होगा और आगे भी आना होगा.  मैं पूरे देश में काम करने वाले भाइयों से आह्वान करना चाहता हूँ कि हम सभी आगे आयें और एक ऐसा संगठन बनायें,  जो हमारे अधिकारों के लिए हमारे भविष्य के लिए हमारे साथ खड़े होकर लड़ सके.   मुझे आप सब की राय और मदद की आवश्‍यकता है.  मार्गदर्शन देवें ताकि हम अपने इस अभियान को शीघ्र ही मूर्त रूप दे सकें.

राजेश स्थापक

मोबाइल - 09329766651

This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it


AddThis
Comments (33)Add Comment
...
written by raghvendra chauhan, June 28, 2011
rajesh ji mai is ladai me apke sath hu kanpur se raghvendra chauhan 09335289132
...
written by vyenkatesh dudamwar,gadchiroli maharahtra, June 22, 2011
rajesh ji maharahtra ke vidarbha nagpur ke aap ke sath hai..............pls aap mujhe contact kare 09923132656/09403438003
...
written by Rupraj Wakode, June 22, 2011
Rajeshji Is Ladhai Me Hum Bhi Aapke Sath Hai
Rupraj Wakode , Gadchiroli (Maharashtra)
...
written by D. chauhan., May 23, 2011
aap ne sahi kaha ki aaj kal stringaro ka koi rakhwala nahi hai, aap ke vichar bahut acheh hai, ladai jari rakheh hum bhi aap ke sath hai.

d. chauhan . ( chandrapur ) maharashtra. 23 may 2011.
...
written by CHANDAN KUMAR, May 10, 2011
main bhi aap logo ke saath hoo.chandan kumar mahuaa news sheikhpur
...
written by nakul, May 07, 2011
Bahut Achi Baat Likhi Apne Janab Waise Aaj Kal to Channel Paise Hi Nahi Dete SurakSha to Dur KI Baat Hai...Sabhi Stringers Partadit Hai.
...
written by ravi, May 03, 2011
Hum appake saath hai . appane acchi muhim ki suruaat ki hai
...
written by rajesh sthapak 09329766651, April 28, 2011
yashwant ji nmskar meri is ladai ko bhadas ke dvara jo uchai prdan ki ja rhi h iske liye dhanywad me chahta hu ki meri is ladai me aap sahmat h to hm bhadas ke jriye hi stringaro ka ek rastriy star ka ek sangthan khada kiya ja sakta h me apne stingar bhaiyo se bar bar anurodh kr rha hu ki wo apne comments me apni mail id or apna mo. no. jrur dale taki hm ek dusre ke sampark me bne rhe - rajesh sthapak 9329766651
...
written by sandeep shukla buldhana maharashtra, April 27, 2011
i am with you sir
...
written by madhup vashisth, April 26, 2011
में भी आपके इस अभियान में शामिल हु.मेरा सहियोग उपलब्ध है.मेरा संक्षिप्त विवरण :

मधुप वशिस्थ, बीकानेर,09214436597 ,09214436597
...
written by SUMAN SAURABH, April 26, 2011
HUM AAPKE BAATO SE 100 NAHI 200 PERCENT SAHMAT HAI .MAI AAPKE SAATH IN SAMASAYA KO LEKAR KASMIR SE KANYAKUMARI TAK AANDOLAN KARNE KO TYAR HU .LOT OF THANKS RAJESH JI

SUMAN SAURABH JHA
POLITICAL CORRESPONDENT
TV99 PATNA BIHAR
MOB-9470465418
...
written by rajesh sthapak 09329766651, April 25, 2011
me aap sbhi se bar bar anurodh kr rha hu ki aap sbhi ke comments or phon calls hme lgatar mil rhi h isase prteet hota h ki meri dharna bilkul shi h mera aap sbhi se nivedan h ki apne comments dalte samay apna mo numbar or Email id jrur dale daki hm sbhi ek dusre ke samprk me bne rhe ye ek mishan h jise sucharu roop se sanchalit karne me hm sb barabar ke shbhagi honge or bhadas is kary me hmara meel ka patthar sidh hoga -rajesh sthapak 09329766651 Email [email protected]
...
written by vipin kushwah, April 24, 2011
rajesh ji main aap ke sath hu...
09897233087
agra
...
written by chandan Singh, April 24, 2011
नमस्ते
इसके लिए में आपको जितना भी बधाई दू वो शायद बहुत ही कम होगी......
आपका ये अभियान पत्रकारिता में कम कर रहे बंधुआ मजदूर के लिए बहूत ही अच्छा होगा.
हमारा भी कोई संघ हो जो हमारी समस्याओ में मदद करे ....
हमे जिस तरह से ये चैनल के दलालों गुमराह कर के पैसा उगाही कर अपनी जेब भरते और हमे उसी हालत में छोर देते है...... जैसे किसी को use कर के कोई राईसजादा अँधेरी रात में सड़को पे छोर देता है.... हमारी जदोजत और कड़ी मेहनत से ही ये चैनल वाले २४ घंटे भोंकते है ...... इसलिए हमारी एकता अनिवार्य है और सभी को इसमें साथ देना चहिये....
सम्पर्क
चन्दन सिंह
रिपोर्टर Tv 99
मधेपुरा बिहार
http://saharsatimes.blogspot.com
9334572522
...
written by Rajesh chourasia, April 24, 2011
bhai hum dushro ki ladai to bakhubi lad sakte hai par jab hamari apni ladai ki bari aayegi to khud ba khud ladkhadakar gir jayenge ........

ek kahawt hai na hume to apno ne mara gairo me kaha dum tha.......

hum chote se stringer hai jo aapas me hi lade ja rahe hai to astitawa bachana muskil ho raha hai aapas ki ladai me........
...
written by RAJIV, April 23, 2011
RAJESH JI AAPKI SOCH KABILEY TARIF HAI AUR MAIN BHI EK STRINGER KEY TAUR PAR NATIONAL INTERNATIONAL AUR REJIONAL CHANNEL MAIN KAAM KAR CHUKA HUN LEKIN SABHI JAGEH KEVAL DIHARI MAJDUR JAISA HI HAI NA BHAVISHYA KI KOI GAURNATY AUR NA HI KOI MAN MAIN VISHVAS LEKIN YADI KAAM PADEY THO MAJDUR SAY BHI GAI BITI DUTY MAIN AAPKEY SHAATH HUN AUR AB SAMAY AA GAYA HAI INDIA MAIN JAB STRINGERON KEY SHAATH HONEY WALE SHOSAN KEY LIYE KADAM BADAY AUR MILKAR IN PUJIPATIYON KO SABAK SHIKAY
...
written by ashok kumar , April 23, 2011
apko bahut dhanyabad ap stringero ke lie ladari lar rahe hai 27 feb ko patna office se yah bola gya hai ki naxali kaimur me JCB jala di hai aur sabse pahle khabar hamko chahie aur chnnel ne naxali numbe vi diya jab meri baat naxali hui to mobile sarvilace par lag gya tha aur DGP ne jab channel per karvai karne ki bat kahi to channel palla jharliya ki reporter ko 3 pahle hi nikaldiya gaya hai .DGP ke adesh per FIR vi darj hogya hai police lagatar mere ghar per chhapamari kar rahi hai
...
written by sunil sidana , April 23, 2011
यह कैसी विडंबना है की यदि कोई मुसीबत में होता है या किसी का शोषण किया जाता है तो मिडिया द्वारा उक्त पीड़ित की आवाज को बुलद कर उसे यथा संभव न्याय दिलाया जाता है और इस काम में महत्वपूर्ण भूमिका होती है वहा के स्थानीय पत्रकार की जो की स्ट्रिंगर नाम से जाना जाता है लेकिन खुद इस पत्रकार की उलझन की तरफ कोई ध्यान ही नहीं देता की वह खुद ना जाने किन मुसीबतों का सामना आये दिन कर रहा है
...
written by rajesh sthapak 09329766651, April 23, 2011
aap sbhi ko dhanywad aap sbhi apni mail ID or mobail numbar bhi mujhe mail krdeve taki me aap sbhi ke samprk me bna rhu - rajesh sthapak
...
written by vijay mishra, April 23, 2011
rajesh ji ham aapke sath hai
...
written by Bijender Sharma, April 23, 2011
हमारे देश में आज सबसे ज्यादा अगर शोषित है तो वह पत्रकार ही है चाहे वह अखबार से जुडा हो या टेलिविजन से पता नहीं कितने लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपने खून पसीने से संस्थान को सींचा है; लेकिन मुसिबत में उसे कोई मदद नहीं देता;आज मान्यता प्राप्त व गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के बीच खाई पैदा की जा रही है; बोर्ड वच्छावत हो अब मजिठिया कोई भी उन पत्रकारों की नहीं सुनेगा जिन्हें स्टिंरगर कहा जाता है;
...
written by Bijender Sharma, April 23, 2011
Akhir aap yeh batt TV ke sath hi kyon jodte ho,akhbar valon ka hal to isase bhi bura hai
...
written by Sumit Kumar, April 23, 2011
bhai rajesh ji hum aapki baaton se puri tarah se talluk rakhte hain , yah behad jaroori ho gaya hai ki doosron ki awaj buland karne wale hum stringers apni khatir bhi awaaj buland karein ,
aapke saath,
Sumit Kumar-7870272151
...
written by sandeep, April 22, 2011
hum sab aapke sath hai
...
written by arshi n, April 22, 2011
bhai shuruat kariye hum apke saath hai................
...
written by xyz, April 22, 2011
rajesh bhaiya sangharsh karo hum tumhare saath hai................
...
written by govind goyal, April 22, 2011
good idea.
...
written by Sandeep Mathur, April 22, 2011
जय श्री कृष्णा राजेश जी,राजेश जी आपने जो हम स्ट्रिंगर भाइयो के बारे में सोचा उसके लिए आपका धन्यवाद, भाई हम आपके साथ है और इस लड़ाई में हम आखिरी तक आपके साथ है ! लेकिन भाई हम आपको ये भी बताना चाहते हैं कि अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता है,हम 2-3 लोग इस लड़ाई को कैसे लड़ सकते हैं?आज कल ऐसे पत्रकार आ गए हैं कि उन्हें किसी पत्रकार साथी से कोई मतलब नहीं है अगर उनका मतलब हम से सिद्ध होता है तो हम उनके साथी हैं और कभी अगर हम पर कोई मुसीबत आती है तो सब पीछे हट जाते हैं!और फिर अब तो कोई सही पत्रकार ही नहीं है सब पैसे दे कर किसी ना किसी चैनल के पत्रकार बन गए हैं और करने लगे हैं वसूली राजेश भाई हम ऐसे लोगो से किसी भी तरह की उम्मीद कर सकते हैं क्या?क्या ऐसे लोग इस लड़ाई में हमारा साथ दे सकेंगे?हमें तो नहीं लगता है कि ये हमारे साथ दो कदम भी चल सकेंगे!भाई हम तो आप के साथ है आप जब भी हमें याद करेंगे हम आपके साथ खड़े हो जायेंगे और हमें जान भी देनी पड़ी तो हम पीछे नहीं हटेंगे!

आपका भाई- संदीप माथुर,मथुरा
मोबाइल- +919411854860,8791112447
...
written by raghwendra sahu, April 22, 2011
kya batayen rajeshji dusron ki ladai ladane wale ham patrakar apni hi ladai nahi lad pate hain.
...
written by krishankant , April 22, 2011
rajesh ji main aap ke sath hu-
...
written by Anirudh Mahato, April 22, 2011
Kuchh Akhbar ko chhor sabhi Akhbar nizi swarth ke liya stringer ya repoter ko mohra banate hai. guzara chalney layak bhi payment nahi detey. government, poletical party bhi akhbar se darti hai. police aour gunda bhi patrakar ke indirect dushman hai, yissey me hamey koun madad karega. Aapka sujhao sar aankhon par. all countrys strigar aour patrakar ko ekhona chahiye.
...
written by a.k. shukla, April 22, 2011
rajes ji sanghars karo ham aapke sath hai
...
written by PRAKASH MUZAFFARPUR, April 22, 2011
BAHUT SAHI AAP NE LIKHA HAI PAR SATH KOI DE TO NA----A.P.S

Write comment

busy