राज्‍यसभा चैनल पहुंचने के लिए पत्रकारों की दौड़ शुरू

E-mail Print PDF

: मानसून सत्र में चैनल के लांच होने की संभावना : राज्‍यसभा पहुंचने के लिए पत्रकारों की दौड़ शुरू हो गई है. सूट-बूट और फाइलों के साथ पत्रकार राज्‍यसभा सचिवालय में नजर आने लगे हैं. प्रतिदिन सैकड़ों पत्रकारों की भीड़ राज्‍यसभा सचिवालय में जमा हो रही है. हालांकि ये भीड़ राज्‍यसभा का सदस्‍य बनने के लिए बल्कि जल्‍द लांच होने वाले राज्‍यसभा चैनल में नौकरी पाने के लिए जुट रही है. इन दिनों एडिटोरियल वालों का इंटरव्यू चल रहा है.

पत्रकारों की जांच परख वरिष्‍ठ पत्रकार एवं राज्‍यसभा चैनल के एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर उर्मिलेश, एक्‍जीक्‍यूटिव डाइरेक्‍टर राजेश बादल समेत सचिवालय के कई अधिकारी कर रहे हैं. प्रतिदिन लगभग अस्‍सी से सौ पत्रकारों का टेस्‍ट लिया जा रहा है.  राज्‍यसभा चैनल में आवेदन करने की आखिरी तारीख 7 जनवरी थी. इस दौरान एडिटोरियल, टेक्निकल एवं अन्‍य विभागों के लिए हजारों लोगों ने अपने आवेदन डाले थे.

पहले दौर में एडिटोरियल के लोगों का इंटरव्यू लिया जा रहा है. खबर है कि अप्रैल से शुरू चयन प्रक्रिया मई में भी जारी रहेगी. बताया जा रहा है कि उम्‍मीद से ज्‍यादा लोगों ने राज्‍यसभा टीवी में काम करने के लिए आवेदन कर रखा है. माना जा रहा है कि निजी चैनलों में गला काट प्रतिस्‍पर्धा,  इंटर्नल पॉलिटिक्‍स, नौकरी की अनिश्चितता के चलते तमाम सीनियर एवं युवा पत्रकारों ने अपेक्षाकृत सुकून के लिए राज्‍यसभा चैनल के लिए आवेदन कर रखा है.

एडिटोरियल विभाग को निपटाने के बाद टेक्निकल विभाग के लिए इंटरव्यू शुरू होगा. जिन लोगों ने आवेदन कर रखे हैं उन्‍हें ई-मेल और फोन के जरिए सूचित किया जा रहा है. माना जा रहा है कि सलेक्‍शन करने वाली टीम पर योग्‍य पत्रकारों के चयन का भारी दबाव है. कारण काफी पत्रकार विभिन्‍न माध्‍यमों से अपनी सिफारिशें भी टीम के पास पहुंचा रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि कुछ पत्रकार तो राज्‍यसभा टीवी पहुंचने के लिए नेताओं से भी सिफारिश करा रहे हैं.

राज्‍यसभा टीवी की लांचिंग तिथि अभी निश्चित नहीं हुई है. परन्‍तु माना जा रहा है कि मानसून सत्र तक इसे लांच कर दिया जाएगा. पहले इस शीतकालीन सत्र में ही लांच करने की योजना थी, परन्‍तु तकनीकी दिक्‍कतों और दूसरी परेशानियों के चलते यह शीतकालीन सत्र में लांच नहीं किया जा सका. इस चैनल का प्रसारण दूरदर्शन के सहयोग से किया जाएगा. चैनल को तकनीकी सहयोग और तमाम तरह की सुविधाएं दूरदर्शन उपलब्‍ध कराएगा.


AddThis
Comments (2)Add Comment
...
written by vivek dubey, May 02, 2011
aaj kal job milna aasan hai parrrrrrrrrrrr
...
written by ravish kumar, May 02, 2011
ha badhiyha hai ..waha kaun bade doodh ke dhule hue hau .....aarm karne ke liye to rajesh badal aur urmilesh gaye hue hai

Write comment

busy