'अमर टेप' में ये कौन वाले अकबर हैं, एमजे अकबर वाले अकबर या कोई और अकबर?

E-mail Print PDF

: इस टेप में अमर सिंह ने सहारा समूह के वर्क कल्चर की पोल खोली है : अमर सिंह के जो टेप जारी हुए हैं, उनमें एक से बढ़कर एक रहस्य भरे हुए हैं. इन रहस्यों पर से पर्दा कोई नहीं उठा रहा है. ज्यादातर वक्त बिपाशा और टांगों की बात हुई या फिर कुछ एक जेपी गौड़ या फिर मुलायम आदि की. इन टेपों में मीडिया से जुड़ी कई हस्तियों के बारे में भी चर्चा है. प्रभु चावला तो खुलेआम एक टेप में अमर सिंह से गिड़गिड़ाकर हाथ जोड़कर माफी मांग रहे हैं.

इस टेप की भी चर्चा काफी रही है, बल्कि कहें कि प्रभु चावला और अमर सिंह के बातचीत वाले टेप की चर्चा इन टेपों के रिलीज होने से पहले से ही थी. पर कई टेपों में कई मीडिया हस्तियों के नाम हैं, उनकी अब तक चर्चा नहीं हुई है. उस तरह हम आपका ध्यान दिलाना चाहेंगे. एक टेप में अकबर नामक शख्स का जिक्र है. कोई सज्जन अमर सिंह से बता रहे हैं कि अकबर का फोन आया था, बड़े परेशान थे, कोई स्टोरी छप गई है, गासिप, उनके यहां, वे कह रहे थे कि अमर सिंह को फोन करके मदद मांगो. इस बातचीत में अमर सिंह सहारा समूह के वर्क कल्चर के बारे में बताते हैं. अमर सिंह मजे लेते हुए कहते हैं कि ये सहारा वाले ऐसे ही हैं, वकीलों की फौज होती है, जज होते हैं, नोटिस भेज देते हैं.

अमर सिंह जानकारी देते हैं कि किसी ने उनके खिलाफ कुछ लिखा था तो सहारा वालों ने उसे एक पुराने मामले में जेल में भिजवाकर खूब पीटा था. जो सज्जन अमर सिंह को जानकारी दे रहे होते हैं वे बताते हैं कि अभिजीत ने अकबर को नोटिस वगैरह भेजकर काफी धमकाया है जिससे अकबर परेशान हैं. पूरी बातचीत का आडिया नीचे दिया जा रहा है. आप ध्यान से सुनें. इस टेप के जरिए सहारा वालों की तो कलई खुलती ही है कि कैसे वे डरा धमकाकर काम कराते हैं और विरोध की आवाजों को कुचल डालने में भरोसा रखते हैं, साथ ही अकबर महोदय के बारे में भी पता चलता है कि सहारा की नोटिस और सुब्रत राय की नाराजगी से ये कितने बेचैन हैं.

पर सवाल है कि ये अकबर कौन हैं. किसी का कहना है कि ये एमजे अकबर हैं. एमजे अकबर के होने की बात को बल तब मिलता है जब अमर सिंह के इसी टेप को यूट्यूब पर एमजे अकबर, सुब्रतो राय और अमर सिंह के नाम से डाला जाता है. जाहिर है, इस टेप में जो तीन नाम आए हैं उन्हीं के आधार पर यूट्यूब वीडियो पर शीर्षक लगा दिया गया है...Amar Singh Tapes regarding feud between MJ Akbar and Subroto Roy.'The Amar Prem Katha'.

टेप में अकबर नामधारी सज्जन एमजे अकबर हैं या कोई और, इसकी पुष्टि के लिए भड़ास4मीडिया की तरफ से जब एमजे अकबर को फोन किया गया तो उन्होंने छूटते ही कहा- ''मुझे फोन न किया करें, मैं काम कर रहा हूं, समझे.'' अब अकबर साहब पता नहीं ऐसा क्या काम कर रहे हैं, जो इस बात से बेखबर हैं कि यूट्यूब पर एक जो वीडियो चल रहा है, उसमें एमजे अकबर का नाम बताया गया है और अमर सिंह के टेप में एक अकबर नामक शख्स का जिक्र है, जिनके बारे में चर्चा है कि वे एमजे अकबर हैं. एमजे अकबर ने अपना पक्ष न रखकर इस चर्चा को बढ़ावा देने में मदद की है कि अकबर नामधारी शख्स कोई और नहीं बल्कि एमजे अकबर ही हैं. उम्मीद करते हैं कि देर में ही सही, एमजे अकबर, यहां या वहां, कहीं भी अपना पक्ष रखकर अपने नाम आने का खंडन या मंडन करेंगे. टेप को सुनने के लिए नीचे दिए गए आडियो प्लेयर के साउंड को फुल करिए और प्ले के सिंबल पर क्लिक करें...

There seems to be an error with the player !


अमर वार्ता के सभी टेप सुनने के लिए नीचे दिए गए शीर्षकों पर क्लिक करें...

अमर टेप कथा 1

अमर टेप कथा 2

अमर टेप कथा 3


AddThis