स्टार न्यूज के खिलाफ स्टार न्यूज के गेट पर नुक्कड़ नाटक

E-mail Print PDF

स्टार न्यूज के सेल्स डिपार्टमेंट में क्रिएटिव सेल हेड पद पर कार्यरत रहीं सायमा सहर ने अपने दो बासेज अविनाश पांडेय और गौतम शर्मा पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे और अपनी लड़ाई उन्होंने स्टार न्यूज के अंदर तो लड़ी ही, महिला आयोग व कोर्ट में भी ले गईं. पर अभी तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. इससे खफा युवाओं के एक समूह ने पिछले दिनों स्टार न्यूज के नोएडा स्थित आफिस के सामने नुक्कड़ नाटक किया.

करीब सोलह मिनट तक चले इस नाटक के दौरान मीडिया के काफी लोग आते रहे और नाटक देखकर जाते रहे. यह पहली दफा है जब किसी बड़े मीडिया हाउस के गेट पर विरोध प्रदर्शन नुक्कड़ नाटक के जरिए किया गया. सायमा सहर के पूरे प्रकरण को जानने के लिए भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित हो चुकी करीब दर्जन भर खबरें पढ़ सकते हैं, जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है. नाटक देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें...

स्टार न्यूज में अन्याय के खिलाफ नुक्कड़ नाटक

सायम सहर से संबंधित खबरों के लिंक...

स्टार न्यूज के दो अधिकारी यौन उत्पीड़न में फंसे

स्टार न्यूज समेत कई कंपनियों में रही हैं सायमा

शराब पीने और देर रात पार्टी में जाने को कहते थे

हर जगह शिकायत की पर सब चुप रहे

...but he put his foot on my skirt...

बेटी हुई तो मैसेज भेजा पर किसी ने विश न किया

ये हैं अविनाश, गौतम और सायमा

इसी मेल के बाद सायमा की छुट्टी हो गई थी

'उदय शंकर पिता जैसे, कुछ नहीं बिगाड़ सकती'

सायमा प्रकरण पर स्टार न्यूज में बैठक शुरू

स्टार का एचआर मतलब बड़ों की कठपुतली!

सायमा को सत्यकी से ये उम्मीद न थी

'मेरी बेटी, मैंने नरक भोगा, तुमने भी देखा-सुना'

स्टार को भड़ास से चाहिए 10 करोड़ रुपये

सायमा ले आईं स्टे आर्डर


AddThis
Comments (9)Add Comment
...
written by ronak patel, June 19, 2011
Star news ka matlab aap ko rakhe aage, to aise mamlo me bhi aage raha to kya dikkat hai
...
written by amit goyal, June 02, 2011
STAR NEWS SHOUD BAN IN INDIA
...
written by shukla, May 30, 2011

ASHISH SHUKLA to me



show details 12:34 AM (23 hours ago)







do baar sign karna hai ek baar 1st sign pe click karne ke baad andar bhi
ek sign ka option hai uspar dobara click karna hai phir vaapas apni
mail id par jana hai waha petition.in
ke naam se ek mail ayega use khol kar ek link pe click karna hai tab
verify hoga plz sab log zaroor verify karo varna ye count nai hoga.petition ko verify bi karen........... jaldiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiii
iiiiiiiiiiiiiiiiiiiiii
...
written by Shamshul Arfin, May 30, 2011
Unke mooh par moot dena chahiye.........
...
written by anurag., May 27, 2011
sayma ji jab tak aap company me thee sab theek tha. ab shoshan kee daastaan. aap jaisi aurten shoshan kee kahani ke dam par sirf apna ullu seedha karna aur logon ko badman karna janti hai......................sharm karo.
...
written by kumarkalpit, May 27, 2011
sayama jii badhai. yeshe log baoot kam hote hai jo joolm ke khilaf aawaj uthayen . patrakarita mee tw aur bhi kam .yahan tw lwo aur shagthn chatookarita me lage rahten hai
...
written by sandeep, May 26, 2011
ऐसे लोगों के खिलाफ नुक्कड़ नाटक नहीं करना चाहिए बल्कि इन्हें जूते से मारना चाहिए इनकी सामूहिक पिटाई होनी जरूरी है सायमा हम आपके साथ हैं
...
written by Anonymus, May 25, 2011
Y did you guys choose Sunday for that play? All bosses were on off most of the staff wasn't present in the office? Do it in weekdays if you really wanna make an impact. Goodluck
...
written by Anonymus, May 25, 2011
Nukkad naatak zaroor kiya, kaabil-a taareef hai ye baat, par Sunday ke din hi kyun kiya? Jiss din koi boss office nai aata, behad kamm log office aatay hain, Itna aaramdayak Sunday ka din hi kyun? baaki zulm k khilaf awaaz uthatay rahiye. Goodluck.

Write comment

busy