वायस ऑफ़ नेशन का प्रसारण फिर ठप, लगा ताला

E-mail Print PDF

देहरादून से प्रसारित वायस आफ नेशन न्यूज चैनल का प्रसारण तीसरी बार बंद हो चुका है. बताया जा रहा है कि एनएसपीटीएल का बकाया न चुका पाने के बाद इस चैनल का लिंक काट दिया गया.  बिजली का बिल पांच लाख से ज्यादा बकाया होने पर बिजली काट दी गई. कर्मचारियों की छह महीनों की तनख्वाह नहीं दी गई है. कई कर्मचारियों के खिलाफ चोरी की झूठी रिपोर्ट लिखा दी गई. कई कर्मियों के साथ बदतमीजी की गई.

सूत्रों के मुताबिक 26 मई की शाम छह बजे सारे स्टाफ को बहार निकाल कर ताला लगा दिया गया. स्टाफ के लोग चैनल मालिक मनीष वर्मा से अपनी सैलरी की मांग कर रहे हैं और इसके लिए धरना देने की तैयारी कर रहे हैं. बताया जाता है कि प्रबंधन ने चालाकी ये की है कि स्टाफ से पंद्रह दिनों की छुट्टी की अप्लीकेशन लिखवा ली है. इसके बाद ताला लगाया गया. पीसीआर और स्टूडियो पर ताला लटका हुआ है. स्टाफ को समझ में नहीं आ रहा कि ये क्या नाटक हो रहा है.

उधर, सूत्रों का कहना है कि चैनल मालिक मनीष वर्मा का दुर्भाग्य उनके पीछे पड़ा हुआ है. पहले ऐसे लोगों के हाथ में चैनल दे दिया जो चैनल ठीक से चला न सके, बाद में उत्तराखंड राज्य सरकार से पंगा हो गया, अब आर्थिक संकट आ खड़ा हुआ है. कभी एनडी तिवारी के करीबी रहे मनीष वर्मा ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि जिस चैनल को वो अपने प्रभाव व ताकत के विस्तार के लिए ला रहे हैं, एक दिन वही उनकी किरकिरी और संकट का कारण बनेगा.


AddThis