15000 रुपये में पत्रकार बना रहा है सुदर्शन न्‍यूज चैनल

E-mail Print PDF

क्या आप 12 वीं या स्नातक पास 21 वर्षीय या इससे ज्यादा उम्र के हैं. गांव, कस्बा या शहर में रहते हैं. कानूनन आपका कोई अपराधिक रिकार्ड नही है. सामाज के लिए आपके दिल में कुछ कर गुजरने का जज्बा है, तो सुदर्शन न्यूज़ चैनल से जुड़कर आप भी बन सकते हैं नागरिक पत्रकार ! जी हां, कुछ ऐसा ही एडवरटाइज आजकल सुदर्शन न्यूज़ चैनल पर दिन-रात दिखाया जा रहा है.

चैनल के स्‍क्रीन पर बस इतनी ही शर्त प्रचारित है, लेकिन इस चैनल की वेबसाइट पर जब मामले की पड़ताल की गई तो पता चला कि पत्रकार बनने के लिए शुल्क भी निर्धारित है. 300 $ (डालर) यानी करीब 15000 रुपए. इसके तहत यह न्यूज़ चैनल प्रेस कार्ड व पत्रकारिता प्रशिक्षण संबंधी किट भी मुहैया कराने की बात कर रहा है. यहां आपको बता दें कि भले ही सुदर्शन न्यूज़ का वीडियोकान डी2एच पर सेटेलाइट प्रसारण है, लेकिन इसकी आउटपुट क्वालिटी लोकल केबल चैनल से बेहतर नहीं है. चैनल की भाषा में अशुद्धियों की भरमार है ही,  एंकर का प्रस्तुतिकरण भी निम्न स्तर का है.

खैर, वेबसाइट पर शुल्क की बात पढ़कर थोड़ी हैरानी हुई तो रोना भी आया. हैरानी इसलिए कि अबतक न्यूज़ चैनल वाले खबर के लिए पत्रकारों को पैसे देते थे. अब पत्रकारों को ही चैनल वालों को पैसे भरने होंगे. कहीं इस कारण अन्य न्यूज़ चैनलों में भी मनमाने पैसे लेकर पत्रकार बनाने का ट्रेंड नहीं चल पड़े. और रोना इसलिए कि आए दिन मीडिया में यह शिकायत मिलती रहती है कि फलां न्यूज़ चैनल के प्रतिनिधि ने पत्रकार बनने के इच्छुक एक युवक के साथ धोखाधड़ी की.  पत्रकार बनाने व प्रेस कार्ड जारी करने के नाम पर पैसे ठग लिए. वगैरह-वगैरह.

सो, इस बात की क्या गारंटी है कि यहां भी ऐसा न हो. बहरहाल लाख टके का सवाल यह है कि वास्तव में पैसे लेकर किसी को पत्रकार बनाया जा सकता है. प्रेस कार्ड या प्रशिक्षण किट देने भर से किसी के पास न्यूज सेंस आ सकता है. उस में प्रस्तुतिकरण की रचनात्मकता पैदा की जा सकती है.

श्रीकांत सौरभ

पत्रकार, पूर्वी चंपारण

मोबाइल : 9473361087


AddThis