देश लाइव में भी जून-जुलाई की सेलरी लटकी, कर्मचारी तनाव में

E-mail Print PDF

रांची से प्रसारित न्‍यूज चैनल देश लाइव से खबर है कि यहां सेलरी के लाले पड़ गए हैं. जून माह की सेलरी न मिलने से कर्मचारी तनाव में हैं. खबर है कि  पटना में मीटिंग के दौरान कुछ कर्मचारियों की चैनल हेड मधुरशील से हॉट टॉक भी हो गई थी. सूत्रों का कहना है कि सेलरी नहीं रोकी गई है बल्कि तकनीकी दिक्‍कतों तथा नॉन परफारमेंस के आधार पर कुछ लोगों की सेलरी जरूर रूकी हुई है.

देश लाइव में खबरों से ज्‍यादा पैसे को लेकर टेंशन है. कर्मचारियों का इंतजार एक दिन करते करते एक महीना के बाद भी खतम नहीं हुआ है. जून की सेलरी आई नहीं और जुलाई माह भी बीत गया, यानी इस माह की सेलरी भी लटकी हुई है. इसी सेलरी के भरोसे अपनी योजनाओं को तैयार करने वाले पत्रकार बंधु खासे परेशान हैं. इसी का नतीजा बताया जा रहा है कि मीटिंग के दौरान चैनल हेड से कुछ लोगों की बकझक भी हो गई.

इस संदर्भ में जब देश लाइव के चैनल हेड मधुरशील से बात की गई तो उन्‍होंने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. तकनीकी दिक्‍कतों की वजह से लोगों को सेलरी नहीं मिल पाई है. सीएमडी साहब बीमार हैं, जिसके चलते सेलरी कर्मचारियों के एकाउंट में ट्रांसफर नहीं हो पाई है. उनके आते ही सभी को सेलरी दे दी जाएगी. अब तक सभी को सेलरी टाइम से मिलती रही है. कहीं कोई दिक्‍कत नहीं है. उन्‍होंने अपने साथ मीटिंग के दौरान नोंकझोक की बात को भी सिरे से खारिज कर दिया. उन्‍होंने कहा कि देश लाइव में काम करने वाले सभी कर्मचारी अनुशासित हैं, उनसे इस तरह की व्‍यवहार की कल्‍पना भी नहीं की जा सकती.


AddThis