शराब तस्करी करते आजतक का स्ट्रिंगर गिरफ्तार, जेल गया, चैनल से छुट्टी

E-mail Print PDF

शार्दूल गज्जरगुजरात के पंचमहल जिले से खबर है कि झालोद इलाके में आजतक न्यूज चैनल का स्ट्रिंगर शराब की तस्करी करते हुए पुलिस के हत्थे चढ़ गया. गाँधी के इस गुजरात राज्य में शराब पर प्रतिबन्ध है लेकिन यहां आए दिन पुलिस शराब बरामद करती रहती है.

जाहिर है, यहां पीने वालों की संख्या खूब है और उनकी डिमांड पूरी करने के लिए कई लोग शराब तस्कर बन जाते हैं. गुजरात में शराब तस्करों की भारी संख्या है. आश्चर्य की बात यह है कि शराब माफियाओं का काम आजकल मीडियावाले कर रहे हैं. गुजरात के गोधरा में रहनेवाला शार्दूल गज्जर पिछले कई साल से आजतक चैनल के लिए काम करते थे.

10 अगस्त के दिन शराब माफिया शार्दूल अपनी कार में राजस्थान से गुजरात शराब की तस्करी कर रहा था. उस दौरान पुलिस को निजी सूचना मिली की आजतक का स्ट्रिंगर शार्दूल गज्जर अपनी इंडिका कार में शराब लेकर गुजरात में आ रहा है.

पुलिस ने कार में से शराब जप्त कर उसे जेल के हवाले कर दिया है. शार्दूल को एक दिन का पुलिस रिमांड भी मिला था. दूसरी और आजतक के गुजरात के ब्यूरो चीफ धीमंत पुरोहित ने स्ट्रिंगर के शराब तस्करी में लिप्त होने की जानकारी मिलते उन्होंने उस स्ट्रिंगर के यहां से आजतक का लोगो और आई कार्ड मंगवा लिया है और शार्दूल को चैनल से टाटा बाय बाय कर दिया गया है.


AddThis
Comments (9)Add Comment
...
written by akhilesh bhadoriya , August 30, 2011
aise logo ko midia nahi join karna chaiye . es ghatna se logo ka midia par se viswas uth jayega . india ki midia logo ke dilo me raj karti hai .aise unka viswas tutega .
...
written by अ सिन्हा, August 24, 2011
बहुत से स्ट्रिंगरों का यही धंधा है. जो तस्करी नहीं करते वो उगाही करते हैं.नहीं तो कुछ सौ रुपये के लिए काम करने वाले और महीनों बाद काम का दाम पाने वाले स्ट्रिंगरों की माली हालत के बारे में जानेंगे तो चौंक जाएंगे, आजतक के किशनगंज ( बिहार) के स्ट्रिंगर के बारे में तहकीकात करा लीजिए. पता चल जाएगा.
...
written by santosh singh, August 22, 2011
yahi to farq hai UP police or gujrat police me.. wahaan pakda to jail bhej diya.. amroha ke stringer ki gadi me raajaabpur police ne sharab paakdi, us ke jeeja ko jel bheja magar, stringer ko bacha dia... stringer aaj bhi thaat se aaajtak ki id liye ghoom raha hai... magar kya aajtak bhi paise nahi deta apne stringers ko jo becharo ko aise roti kamani padti hai..??
...
written by sandeep tiwari, August 21, 2011
isme sabse adhik maalik dosi hai agar apne stringro ko sallary dete to shayad hi koi patrakar galat kaam karta
...
written by Anirudh Mahato , August 16, 2011
police kisi ko bhi jab chahe phansa sakti hai. iske liyae kanoon (Ipc) unhe MADAD karti hai. kyonki kanoon Angregon ka banaya gaya hai. police aour neta yadi Imandar ho to bhrastachar minton me khatma ho jayega.
...
written by मदन कुमार तिवारी , August 15, 2011
गुजरात में शराब नही बिकती क्योंकि वह गांधी का राज्य है लेकिन शराब मिलती खुब है । मैने खुद वहां होटल में रहकर शराब मंगाई है । अफ़सर , व्यवसायी और नेता सभी पीते हैं शराब । गांधीवादियों ने गांधी को कभी नही समझा । उनके लिये टोपी हीं गांधीवाद है। वह स्ट्रिंगर तस्कर नही हो सकता । पीने के लिये ला रहा होगा , बुरा हो कमबख्त गांधीवादी भ्रष्टो का । बेचारे को जेल खेल दिया । किसी भ्रष्ट पुलिस्वाले ने बदला चुकाया है । आप कहीं पुलिस के दलाल तो नहीं है श्रीमान ? आप पत्रकार बडे टुच्चे टाईप की चीज होते हैं। मैं झेल रहा हूं , कुछ पत्रकारों का टुच्चापन ।
...
written by rajeev azamgarh, August 15, 2011
AAJTAK KE JYADA TAR STRINGER AISE HI HAI; AZAMGARH KA BHI STRINGER HARIJAN KI JAMIN KABJA KIYA HAI SATH HI YAHA KA SABSE BADHA KUKHYAT BANK DAKAIT HATYARA RAM SINGH GUDDU KA GANG SANCHALAN KAR RAHA HAI, USKI PULICE VIBHAG KI DALALI CHARAM PER HAI GUJRAT SARKAR JAISA YAHA KI BHI SARKAR KO AISE APRADHIO KO JEL BHEJNI CHAHIYE.
...
written by DHARMENDRA KUMAR, August 14, 2011
PATRAKAARITA ME AISE HI PATRAKAARO KI BHARMAAR HAI JO GAIR KAANUNI KAM KAR DO NUMBER KA RUPAYA KAMAANE ME JUTE HAI.YE GALATI HAI MANAGMENT KI JO BINA PARIKSHA LIYE BINA DEGREE DHARAKON KO PATRKAR KI MUHAR LAGA DIYE HAI KHASKAR TV CHAINNAL ME.AAJ TAK ME TO KAI PTRAKAR AISE HAI JO SHADI KI RICORDING KARTE-KARTE PATRAKAR HO GAYE.AB USAKI AAD ME KAI GALAT KAMO KO ANJAM DE RAHE HAI.GUJRAAT JAISI SARKAR UTTAR PRADESH ME HOTI TO YAHAN BHI KAI CHEHARE BENAKAB HOTE.AAJ TAK KO HAMARI RAI HAI KI AB SE APANE KUCHH STINGAR KI DEGREE JROOR JANCH KAR LE.KEVAL VISUAL AUR BITE DE DENE SE PATRAKAR MAT BANAVE BARNA USAKA ANJAM YAHI HOGA KI PATRAKAR JEL JAAYENGE
...
written by ravi panday, August 14, 2011
hona yahi chahiye tha ..dhimant sir ne sahi kiya aise logo ke sath aisa hi hona chahiye ..jo media ke logo naam kharab kar rahe hain

Write comment

busy