कल लांच होगा धार्मिक चैनल वरदान

E-mail Print PDF

रायल राज मीडिया प्राइवेट लिमिटेड द्वारा संचालित धार्मिक चैनल 'वरदान' की लांचिंग 9 सितम्‍बर को होगी. चैनल का शुभारंभ निर्वाणपीठाधीश्वर आचार्यमहामंडलेश्वर पूज्य विश्वदेवानंद जी महाराज करेंगे. साथ ही वरदान फाउंडेशन द्वारा संचालित मीडिया स्‍कूल का भी उद्घाटन किया जाएगा.

मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य रामगोपाल शुक्ल के अनुसार शुक्रवार 9 सितम्बर प्रातः 8 बजे चेयरमैन राजेन्द्र शर्मा, डायरेक्टर जगदीश शर्मा, चन्द्र प्रकाश शर्मा द्वारा देव पूजन एवं हवन यज्ञ का कार्यक्रम संपन्न होगा. प्रातः 10 बजे से महामंडलेश्वर दाती जी महाराज (शनिधाम), महामंडलेश्वर शिवप्रेमानंद जी महाराज (हरिद्वार), प्रेमभूषण जी महाराज (अयोध्या), महामंडलेश्वर प्रज्ञानंद जी महाराज दिल्ली, महंत नवलकिशोर दास (अयोध्या), राघवानंद जी महाराज, धीरज बाबा जी, दिल्ली विधानसभा अघ्यक्ष योगानंद शास्त्री जी एवं कई संस्थाओं सभाओं के गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में आचार्य महामंडलेश्वर द्वारा चैनल का शुभारंभ किया जाएगा.

आचार्य शुक्ल के अनुसार धार्मिक चैनलों की श्रृंखला में चैनल को कुछ अलग बनाने का प्रयत्न ही हमारी विशेषता है. उन्‍होंने बताया कि आधुनिक तकनीक से लैस भारत का पहला धार्मिक चैनल वरदान एचडी फार्मेट पर उपलब्‍ध है. सेटेलाइट के माध्‍यम से भारत ही नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया, यूके के साथ-साथ विश्व के बहुत से देशों में लाइव प्रसारण देखा जा सकेगा. इसके अलावा अमेरिका और कनाडा के दर्शक लीज लाइन के माध्यम से चैनल का आनन्द ले सकेंगे.

सम्पूर्ण चैनल का प्रशासनिक कार्य देखने वाले रोहित कुमार, एकाउन्टस एचआर राजीव शुक्ल, कार्यक्रम प्रमुख अखिलेश पांडे, कार्यक्रम निदेशक बालाजी मिश्र, एडिटिंग प्रमुख राकेश कुमार तिवारी, मनोज चौहान, एंकर प्रमुख पूजा शर्मा, एंकर निधि शुक्ला, स्टूडियो प्रमुख महेश चतुर्वेदी ,प्रोड्यूसर सुमीत झा, कैमरा विभाग प्रमुख देव कुमार, राज कुमार के साथ वरदान के सभी सहयोगी लगातार अपने कार्य को अंजाम देने में लगे हैं.

चेयरमैन राजेंद्र शर्मा के अनुसार चैनल का प्रमुख उद्देश्य बालकों में संस्कार, युवाओं को कर्मपथ पर चलने की प्रेरणा और महिलाओं की शक्ति जागरण के साथ साथ अपनी संस्कृति परंपरा को बरकरार रखने पर विशेष जोर देना है. प्रातः काल मंगलाचरण और देव आराधना के साथ चैनल का नियमित प्रसारण शुभारंभ के साथ चौबीस घंटे धार्मिक सामाजिक, चारित्रिक, नैतिक शिक्षा देने वाले कार्यक्रमों का प्रसारण साथ ही सामाजिक समरसता और सर्वधर्मसमभाव सहित योग, ज्योतिष, से भविष्य की रूपरेखा बाल संस्कार, महिलाओं पर विशेष, युवादर्शन, सुर संगम, संजीवनी, वेद विज्ञान पर आधारित कार्यक्रमों का प्रसारण भी होगा.


AddThis