भंवरी देवी की लाश मिलने की झूठी खबर चला दी ईटीवी ने

E-mail Print PDF

ईटीवी राजस्थान ने बुधवार रात यानि 14 सितम्बर की रात एक फर्जी समाचार जोरशोर से प्रसारित किया. यह समाचार लापता एएनएम भंवरी देवी का शव मिलने के बारे में था. भंवरी देवी राजस्थान के एक कैबिनेट मंत्री और विधायक के साथ अवैध संबंधों की सीडी के कारण चर्चा में हैं.

उसके गायब होने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर जोधपुर रेंज आईजीपी उमेश मिश्रा खुद बड़ी सरगर्मी से उसकी तलाश करा रहे थे. बहरहाल, राजीव गौड़ ने बुधवार रात करीब साढ़े सात बजे खबर ब्रेक कराया कि भंवरी देवी की लाश सीकर के पास उराई गांव में मिली है. फिर उन्होंने भंवरी के लापते होने के मामले, उसके मंत्री व विधायक से अवैध संबंध और इस पूरे मामले के राजनीतिक असर पर विस्तार से फोनो किया. थोड़़ी देर बाद ही राजीव ने दूसरी ब्रेकिंग न्यूज चलवाई कि भंवरी देवी की लाश यूपी में झांसी के पास के उराई गांव में मिली है. ईटीवी के जयपुर कार्यालय ने भी इस ब्रेकिंग न्यूज को तत्परता और जोशोखरोश से लिया. चैनल के सलाहकार इशमधु तलवार को ऑफिस में बुलवा कर उनसे लाइव पर टिप्पणियां ली गई.

ईटीवी पर चलने के बाद कई राष्ट्रीय और क्षेत्रीय चैनलों ने भी इसे ब्रेक किया. पूरे राजस्थान में अचानक हलचलें तेज हो गई. ईटीवी ने तो यहां तक चला दिया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस मामले में आपात बैठक ले रहे हैं जबकि बाद में पता लगा कि यह बैठक भरतपुर में हिंसा को लेकर हुई थी. इस बीच आईजीपी और एसपी रूरल लगातार फोन पर पत्रकारों को मना करते रहे कि कोई बॉडी नहीं मिली है. कुछ देर बाद एसपी ने प्रेस नोट जारी कर ईटीवी राजस्थान की खबर को गलत बताया. प्रेस नोट साथ संलग्न है जो 02912650888 फोन न. (ग्रामीण कंट्रोल रूम) से आया हुआ है. अब ईटीवी के अधिकारियों से न उगलते बन रहा है और न निगलते. बहरहाल उन्होंने भी यह तो फ्लैश किया है कि एसपी ने लाश मिलने से इनकार किया है.

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.


AddThis
Comments (11)Add Comment
...
written by rahul, November 20, 2011
Yaswant Ji Etv wahi chalata hai jo katil kehta, auratkhor katil in dino Raman Singh Sarkar ko badnam karne me laga hai, iske liye usne randibaaz shailu Pandey ko laga rakha hai, Jo office-boy tak paisa khaa jaata hai, lekin Pandu us se bhi bada nikla, negative khabar chalate hi CM house pahunch kar gid gidane lagta hai isme uska koi dos nahi katil yahi chahta hai,
...
written by Ramakishan Bishnoi, September 22, 2011
पत्रकार समाज का दर्पण होता है समाज में कुरितियां व बुराईया मिटाने व लोगों को जागरूक करने वाला होता है पत्रकार को बिना सबूत खबर नही छापनी चाहिये अगर बार बार ऐसा होता रहा तो लोगों का मिडिया पर से भरोसा उठ जायेगा!
...
written by Seema, September 17, 2011
yeh etv ka rajjiv gaur to khud shastri nagar me sani mandir me hemant poojari milkar aandbaazi karte hai. ye inka addda ban chuka hai...
...
written by mahesh, September 17, 2011
written by Mahesh
Etv ni to jothi kbhar chla kr apni chevi ko krabh kiya hi likn BHADAS pr isko lekr gande comment ni dil dukha diya hi
...
written by sonu, jaipur, September 15, 2011
यशवंतजी राजीव गौड से बदनाम और फितरती पत्रकार आज तक राजस्थान में तो नहीं हुआ है। फर्जी खबरें चलाने का उसका पुराना इतिहास रहा है। जी न्यूज का स्ट्रिंगर रहते हुए उसने मंदिर में बलात्कार की फर्जी खबर चला कर प्रशासन व पुलिस को परेशान किया और जोधपुर का नाम बदनाम किया जबकि मामला वेश्यावृति का था। कचरा बीनने वाली इस महिला के पास मंदिर परिसर में एक की जगह दो ग्राहक पहुंच गए थे। दलाल के कहने पर राजीव गौड ने महिला की बाइट लेकर बलात्कार की झूठी खबर चला दी। इसी तरह राजीव ने एक बार तो मॉक ड्रिल को तेल डिपो में आग की घटना बताते हुए फोनो भी कर दिया जिसमें कहा कि हैलीकॉप्टर से आग बुझाई जा रही है।यह भी कहा कि मेरे सामने एक झुलसे हुए व्यक्ति को स्ट्रेचर पर ले जाया गया है। यह तेल डिपो जोधपुर से करीब पच्चीस किलोमीटर दूर मोगड़ा में है जबकि राजीव जोधपुर में ही खड़ा फोनो कर रहा था। इसका सबसे बड़ा कारनामा तो अशोक कोचर नाम के व्यापारी को बलात्कार के आरोप में झूठा फंसाने का है। मोती चौक में अशोक कोचर के मकान का विवाद चल रहा था। गिरोहबाज राणा कलाल इस मकान पर अपना दावा करते हुए उसे खाली कराना चाहता था। इसके लिए उसने अपनी रिश्तेदार महिला को 50 हजार का लालच देकर तैयार किया था, लेकिन पुलिस तो हकीकत समझ गई थी और मुकदमा दर्ज नहीं कर रही थी। इस पर राजीव ने राणा कलाल से सांठगांठ करके मंडोर थाने के एसएचओ हजारीराम का स्टिंग ऑपरेशन किया जिसमें उसे दलित महिला का थाने से भगाते हुए और मुकदमा दर्ज करने से इनकार करते हुए दिखाया गया। एसएचओ इसलिए मना कर रहे थे कि यह महिला कई बार थाने आ चुकी थी और उसका मामला झूठा था। राणा कलाल उस महिला को लेकर सभी अखबारों के दफ्तरों के चक्कर लगा चुका था कि दलित महिला के साथ बलात्कार का मामला दर्ज नहीं कर रही है पुलिस। लेकिन सभी पत्रकार जानते थे कि यह मकान खाली कराने का चक्कर है। खैर राजीव के स्टिंग ऑपरेशन के कारण निर्दोष व्यापारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया और उसके खिलाफ मामला दर्ज किया। मामले की उच्च स्तरीय जांच तत्कालीन एसपी सिटी हवासिंह घुमरिया (9983470000) के निर्देशन में हुई जिसमें राणा कलाल का फोन टेप कराया गया। इसमें स्टिंग ऑपरेशन की एवज में राणा से पैसे मांगने की बातचीत टेप हुए तो पुलिस ने राजीव की गिरफ्तारी की तैयारी शुरू की। लेकिन तब एक स्वजातीय आईजीपी ने घुमरिया पर दबाव डाल कर राजीव की गिरफ्तारी नहीं होने दी। आखिर अशोक कोचर ((9414383251) बरी हुआ। हालिया मामले में भी राजीव मंत्रीजी के खिलाफ व्यक्तिगत रंजिश के चलते फर्जी खबरें चला रहा है।
...
written by sonu, jaipur, September 15, 2011
यशवंतजी राजीव गौड से बदनाम और फितरती पत्रकार आज तक राजस्थान में तो नहीं हुआ है। फर्जी खबरें चलाने का उसका पुराना इतिहास रहा है। जी न्यूज का स्ट्रिंगर रहते हुए उसने मंदिर में बलात्कार की फर्जी खबर चला कर प्रशासन व पुलिस को परेशान किया और जोधपुर का नाम बदनाम किया जबकि मामला वेश्यावृति का था। कचरा बीनने वाली इस महिला के पास मंदिर परिसर में एक की जगह दो ग्राहक पहुंच गए थे। दलाल के कहने पर राजीव गौड ने महिला की बाइट लेकर बलात्कार की झूठी खबर चला दी। इसी तरह राजीव ने एक बार तो मॉक ड्रिल को तेल डिपो में आग की घटना बताते हुए फोनो भी कर दिया जिसमें कहा कि हैलीकॉप्टर से आग बुझाई जा रही है।यह भी कहा कि मेरे सामने एक झुलसे हुए व्यक्ति को स्ट्रेचर पर ले जाया गया है। यह तेल डिपो जोधपुर से करीब पच्चीस किलोमीटर दूर मोगड़ा में है जबकि राजीव जोधपुर में ही खड़ा फोनो कर रहा था। इसका सबसे बड़ा कारनामा तो अशोक कोचर नाम के व्यापारी को बलात्कार के आरोप में झूठा फंसाने का है। मोती चौक में अशोक कोचर के मकान का विवाद चल रहा था। गिरोहबाज राणा कलाल इस मकान पर अपना दावा करते हुए उसे खाली कराना चाहता था। इसके लिए उसने अपनी रिश्तेदार महिला को 50 हजार का लालच देकर तैयार किया था, लेकिन पुलिस तो हकीकत समझ गई थी और मुकदमा दर्ज नहीं कर रही थी। इस पर राजीव ने राणा कलाल से सांठगांठ करके मंडोर थाने के एसएचओ हजारीराम का स्टिंग ऑपरेशन किया जिसमें उसे दलित महिला का थाने से भगाते हुए और मुकदमा दर्ज करने से इनकार करते हुए दिखाया गया। एसएचओ इसलिए मना कर रहे थे कि यह महिला कई बार थाने आ चुकी थी और उसका मामला झूठा था। राणा कलाल उस महिला को लेकर सभी अखबारों के दफ्तरों के चक्कर लगा चुका था कि दलित महिला के साथ बलात्कार का मामला दर्ज नहीं कर रही है पुलिस। लेकिन सभी पत्रकार जानते थे कि यह मकान खाली कराने का चक्कर है। खैर राजीव के स्टिंग ऑपरेशन के कारण निर्दोष व्यापारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया और उसके खिलाफ मामला दर्ज किया। मामले की उच्च स्तरीय जांच तत्कालीन एसपी सिटी हवासिंह घुमरिया (9983470000) के निर्देशन में हुई जिसमें राणा कलाल का फोन टेप कराया गया। इसमें स्टिंग ऑपरेशन की एवज में राणा से पैसे मांगने की बातचीत टेप हुए तो पुलिस ने राजीव की गिरफ्तारी की तैयारी शुरू की। लेकिन तब एक स्वजातीय आईजीपी ने घुमरिया पर दबाव डाल कर राजीव की गिरफ्तारी नहीं होने दी। आखिर अशोक कोचर ((9414383251) बरी हुआ। हालिया मामले में भी राजीव मंत्रीजी के खिलाफ व्यक्तिगत रंजिश के चलते फर्जी खबरें चला रहा है।
...
written by tauseef , September 15, 2011
ye breaking ka chakkar hai bhaiya
...
written by babulal, September 15, 2011
chutiye hain ETV vale. bhosdi walo ne bina matlab dimag ka dahi bana dala. Ishmadhu talwaar type tathakathit senior journlist bhi bina confirm karwaye bakchodi karne baith gaye us lodu sachin sharma ke saath. hansi aati hai aisi ganduo ki fauj par.
...
written by ssssssssssss, September 15, 2011
etv trp k liye kuchh bhi kar sakta hai. ye to unki purani adat hai.
...
written by s.kumar, September 15, 2011
जब से कातिल आया है। ईटीवी पीत पत्र‍कारिता का आदर्श संस्‍थान बन गया है। झूठे कहीं के। इस चैनल को तो बंद कर देना चाहिए।
...
written by mukesh sundesha, September 15, 2011
AAJKAL E.T.V. NEWS KE REPORTERO KO JO BHI MAN MR AATA HAI VO E.T.V. KI BREKING NEWS BANA DETE HAI PAR SUCH JANNE KI HIMAT NAHI JUTA PATE. DUSRI BAT YEH HAI KI JIS NEWS KO E.T.V. NEWS RAJASTHAN NE 7 BAJE KE BAD SE BREK KIYA USI NEWS KO KUH DIN PAHLE RAJASTHAN KE EK KEBINET MANTRI KE AVEDH sambandh ko lekar news 2 minat flech kar rok di ye to etv news ke jaipur editor hi jane ki kitna dabav aaya ki news hi rok di
or reporter ko hata diya

Write comment

busy