'देश लाइव' पर इएसआई का छापा!

E-mail Print PDF

रांची से प्रसारित होने वाले चैनल ‘देश लाइव’ पर इएसआई के अधिकारियों ने छापा मारा है. शुक्रवार को इएसआई के अधिकारियों ने देश लाइव के कागजातों को टटोला और कंपनी के बारे में पड़ताल की. इएसआई के अधिकारियों ने जो सवाल देश लाइव के मैनेजमेंट से पूछा है उनके अनुसार, चैनल चलाने वाली कंपनी का नाम, कंपनी का पूर्ण विवरण, कर्मचारियों की संख्या, उनका वेतन, इएसआई रजिस्ट्रेशन जैसे सवाल है.

देश लाइव चैनल अपने शुरुआती दिनों से कभी सीधे खड़ा नहीं हो पाया. पहले तो चैनल के लाइसेंस सम्बन्धित परेशानी (ज्ञात हो कि देश लाइव किराये के लाइसेंस पर जिन्दा है) और फिर चैनल में काम कर रहे लोगों को कभी भी नियमित रूप से पैसे नहीं मिलने की शिकायत. कुल मिला जुलाकर देश लाइव अपने अंतिम मुकाम पर खड़ा है. रही सही कसर चैनल के डिस्ट्रीब्यूशन ने पूरी कर दी. चैनल सिर्फ एक दो शहरों में ही दिखाई दे रहा है. ऐसी स्थिति में जब चैनल पिछले छह माह से लोगों की सेलेरी तक नहीं दे पा रहा है ऐसे में चैनल में कार्यरत लोग अपना दशहरा कैसे मनाएंगे, इसका जवाब किसी के पास नहीं है. और अब ये इएसआई का लफड़ा. यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या देश लाइव इन सारी दुश्वारियों से पार पायेगा या यह चैनल सीधा खड़ा होने के बजाय दम तोड़ देगा.

अनंत झा की रिपोर्ट


AddThis
Comments (5)Add Comment
...
written by micheal, October 03, 2011
mai ek raj ki bat batata hu desh live chenal mai districk reporter jitane hai total top leval ke hai,lekin uper ke jitne v log hai sab sale ghatye hai, sale ko kuch v nahi aata hai,tabhi to lagbhag 1 saal se chal raha channel kabhi v no 1 par nahi aaya hai,ranchi ke jitne v staf hai sab saale chuteye hai,saale ko khabar hi samjha mai nahi aata hai,aase channel ko to band hi ho jana chaheye,
...
written by sanjay, October 02, 2011
dil behlane ko galib khayal accha hai.....
...
written by gaya mishra, October 02, 2011
aaj kal jitne bhi wayabsayi hai sare log esi farjiwade dhandha ko aapna rahe hai.kya yaise chhanelo par suchna parsaran mantralaya kuch nahi kar sakti hai.aur es se jude pahunche huye patarkaro ko bhi jail me bhar dena chahiye jo desh live chhanel ke naam par aani ullu sidha kar rahe hai.mai kisi ka naam nahi batana chahunga kyuki mai es ghanchhaka ke chhaker me phas gaya hu.ek patna me hai jo mahine me 1 ya 2khaber karte baki ke dino me wanha par kam kar rahi ladkiyo ke bra aur panty ki size decide karne me lage rahte hai.aur ek gaya ke patarkar hai jo ek hi kahbro ko kai bar parsaran karwane ka daba rakhte hai office me baith kar.are bhayi kabhi kabhi khud bhi jamin par jakar news coverge kijiye.are mujhe to en sarabiyo ne lute barna kisi madarchodo me yeh dam kanha tha.meri zindgi wanha en logo ne latka di janha addmi kam aur janwar jyada tha.

Reporter
Desh live
...
written by pankaj kumar, October 02, 2011
इएसआई के अधिकारियों........बेचारो के पीछे क्यूँ पड़े है ....ज़रा झारखण्ड के एक मात्र नंबर १ न्यूज़ चैनल को भी तो खंघालिये ..जहाँ सारे आम लूट खसोट मची हुई है ........ वैसे सच है तो दिखेगा और खबर भी असर भी ...भी होना चाहिए
...
written by K K Kaushik, October 02, 2011
DD & AIR Correspondent


Desh Live channel ka mallick hi ghatiya hai to woh staff ko kaise deal karega. Desh Live ke awale bhi Niteshwar Singh ko Medical College, Tata Showroom aur dusre business hai lekin kisi ka bhi salary sahi nahin hai.

Aise Channel ka mujhe CEO/Head bhi banaye to bhi main DD/AIR ka hi kaam karunga.

Write comment

busy