न्यूज चैनलों को देनी होगी अब ज्यादा फीस!

E-mail Print PDF

नई दिल्ली। देश में आए दिन बढ़ते समाचार चैनलों की संख्या रोकने के लिए केंद्र सरकार ऐसा उपाय करने जा रही जिसमें समाचार चैनलों के लिए 75 करोड़ और गैर समाचार चैनलों के लिए 15 करोड़ रुपये तक फीस बढ़ाने का प्रस्ताव है। इस समय न्यूज चैनलों के लिए फीस तीन करोड़ और गैर समाचार चैनलों के लिए फीस डेढ़ करोड़ रुपये है। कुछ ऐसे भी प्रस्ताव हैं जिसके मुताबिक न्यूज चैनलों के लिए इंट्री फीस 20 करोड़ और नॉन न्यूज चैनलों के लिए 5 करोड़ रुपये रखा गया है।

देश में न्यूज चैनलों की बाढ़ रोकने के लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अपलिंकिंग नीति और डाउनलिंकिंग नीति में संशोधन का प्रस्ताव किया है। यह प्रस्ताव शुक्रवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में पेश किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार मंत्रालय ने दो प्रस्ताव तैयार किया है। एक प्रस्ताव ऐसा है जिससे छोटे उद्यमी प्रसारण क्षेत्र में कदम रखने की सोच भी नहीं सकेंगे। उसका लाभ बड़े उद्योगपतियों को मिल सकता है।

इस प्रस्ताव के अनुसार न्यूज चैनल की अपलिंगिंक/ डाउनलिंकिंग की अनुमति लेने वालों से फीस के तौर पर 75 करोड़ रुपये पहले चैनल के लिए और दूसरे, तीसरे आदि अगले चैनल के लिए 15 करोड़ रुपये प्रत्येक चैनल वसूल किए जाएंगे। नॉन न्यूज चैनल के लिए पहले चैनल के लिए 15 करोड़ रुपये और उसके बाद के चैनलो के लिए पांच करोड़ रुपये फीस रखने का प्रस्ताव है। दूसरा प्रस्ताव, न्यूज चैनलों के लिए 20 करोड़ रुपये और बाद के चैनलों के लिए 5 करोड़ रुपये प्रति चैनल फीस लेने का है। जबकि नॉन न्यूज चैनल के लिए पांच करोड़ रुपये पहले चैनल के लिए और ढाई करोड़ दूसरे चैनल के लिए लिये जाएंगे। प्रस्ताव पर अंतिम फैसला कैबिनेट करेगी। साभार : राष्‍ट्रीय सहारा


AddThis
Comments (5)Add Comment
...
written by S.K.SATYEN AZAMGARH, October 07, 2011
KUKURMUTTO JAISE HAR SAHAR ME GAIRKANUNI RUP SE CHAL RAHE LOKAL NEWS CHANNEL KA KOI ILAJ SARKAR KE PAAS HAI, LOKAL NEWS CHANNEL CHALANE WALE HISTORY SEATER BHI HAI UNHE AAJTAK WALE STRIGAR OPRATE KAR RAHE HAI, ADHIKARIO KI DALALI KAR PARDE KE PICCHE GALAT KARYO KA ANJAM DIYA JA RAHA HAI, IN CHORO FARZI PATRAKARO KE KHILAF KARYAWAHI KARNE ME SARKAR BHI VIPHAL HAI, ADHIKARI VARG BHI ISKI TAHKIKAT KARNE ME VIFAL HAI. LOCAL NEWS CHANNEL KE LICENCE FEES 1 CRORE SE KAM NAHI HONI CHAHIYE.
...
written by Akela Manav, October 07, 2011
One more thing, which I just forgot to mention last night, channel granting fees or licence procurement fees is Rs 10 Lacs at present for 10 years and would be same even though Govt raises the Paid Up capital slab or the Net Worth!... Normally a channel licence is granted to some company for next 10 years and for same the fees is also fixed Rs 10 Lacs, irrespective of the fact that the channel falls within news or non news genre!... Yes, it is on some higher side when somebody takes the licence for downlinking in India, means the channel is not uplinked from India but only downlinking is permitted!... This is the full story! Somebody else has also raises the same but unfortunately he couldn't submit the required details!... Thanks.
...
written by amit kumar, October 06, 2011
kukurmuute ki tarah khul rahe chainalo ke liye behtar kadam hai ... shyad ab dalali bhi ka hogi is pahal se
...
written by Akela Manav, October 06, 2011
Dear Bhadas Team, that's why we people always request you to read something or be sure before putting something on record!... Aur us par bhi aapne ye khabar Sahara se uthai, jiske sir pair ka khud pata nahi hai!... Actually, at present, for getting any news channel licence the paid up capital of the company, which is suppose to be net worth also in technical/banking terms, should be 75 Crores or 20 Crores; which is 3 Crores at present for news channel and for any kind of non news channel, it is only 1.5 Crores at present, which is suppose to be 20 Crores or whatever!... Though it is exorbitantly high but yes Govt is taking steps to curb on mushrooming channels establishing so called companies!... So please beware while putting some serious facts on the information wall!... Nahi to aap bhi apni credibility Sahara ki tarah hi banana chahte ho kya???...
...
written by biharibabu, October 06, 2011
ye news galat hai. ye fees nahi hai. itni net worth company ki honi chahiye aisa hai na ki itni fees hai. pahle new ke liye company net worth 3 crore rupye thi jo ab badhane ka prastaav hai. ye teleport walon ke liye jayada nuksaan dayak hai kyunki teleport ke liye company net worth 75 crore chahiye na ki news channel ke liye. rastriya sahara ke reporter pahle puri baat pata karen tab likhe.

Write comment

busy