शबाना आजमी के हाथों वाराणसी से लांच हुआ टीवी चैनल

E-mail Print PDF

पूर्वी उत्तर प्रदेश की मिट्टी की तासीर में धर्म, कला, संस्कृति, संगीत, साहित्य और हुनर की बानगी बिखरी पड़ी है। इस समृद्ध परम्परा को साथ में सजाने और इनके कई अनजान पहलुओं को दर्शकों के सामने लाने के उद्देश्य से एक इंफोटेनमेन्ट टीवी चैनल आगे आ चुका है। फुल वॉल्यूम नाम के इस टीवी चैनल में सच्चाई के आईने से चमकती खबरें होगीं। इसके अलावा ज़मीन से जुड़े पात्रों की आवाज़ को बुलंद करने का कारगर मंच होगा “फुल वॉल्यूम”।

सामाजिक ताने-बाने के पहरुए के रुप में मशहूर सिने अदाकारा और पूर्व सांसद सुश्री शबाना आज़मी ने “फुल वॉल्यूम” को जनता को समर्पित किया। पत्रकारिता के नये मापदंड और मनोरंजन के विविध रुपों को नये तरीकों से प्रस्तुत करने के फुल वॉल्यूम चैनल के कोशिश की सराहना करते हुए प्रसिद्ध सिने अभिनेत्री और समाजसेवी सुश्री शबाना आज़मी ने महिलाओं की शिष्ट रुप की छवि प्रस्तुत करने की कोशिश पर ज़ोर दिया।

सुश्री आज़मी ने कहा कि आज भारतवर्ष में स्वयं राष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्षा और नेता प्रतिपक्ष जैसे अहम पदों को महिलायें ही सुशोभित कर रहीं हैं। जबकि दूसरी तरफ अनेकों टीवी चैनल टीआरपी पाने के लिये औरतों की छवि बिगाड़कर प्रस्तुत कर रहे हैं। शहर के तमाम गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति के बीच सुश्री आज़मी ने बटन दबाकर चैनल फुल वाल्यूम का शुभारंभ किया। इसके पहले मुख्य अतिथि सुश्री शबाना आज़मी, गायक पद्मभूषण पंडित छन्नूलाल मिश्र, भाजपा नेता रवीन्द्र जायसवाल, मैनेजिंग डायरेक्टर सुश्री साध्वी खन्ना, संरक्षक राजेन्द्र गुप्ता ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

शबाना आजमी भारतीय सिनेमा के सबसे प्रतिष्ठित और सम्मानित चेहरों में से एक हैं। मुख्य धारा से लेकर समानांतर सिनेमा तक और हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री से लेकर हॉलीवुड तक शबाना आजमी ने अपनी अभिनय प्रतिभा का प्रभावी प्रमाण दिया है। वे सक्षम अभिनेत्री तो हैं ही साथ ही, एक कुशल वक्ता और सक्रिय समाजसेवी भी हैं जिसकी झलक उनके भाषण के दौरान भी देखने को मिली।

फुल वॉल्यूम के गुलदस्तें में धर्म, कला, संस्कृति, स्वास्थ, फैशन, राजनीति, रोज़गार पर आधारित रोचक कार्यक्रम होंगे। इसके अलावा आम जनता का सजग प्रहरी बनेगा “फुल वॉल्यूम”।  मैनेजिंग डायरेक्टर साध्वी खन्ना ने कार्यक्रम में स्वागत भाषण दिया इस मौके पर रोटरी गवर्नर उत्तम अग्रवाल कवि सांड बनारसी गायक छन्नूलाल जी आदि गणमान्य लोगों ने फुल वॉल्यूम को आशीर्वचन और शुभकामनाएं दी। उदघाटन समारोह के उपरान्त धन्यवाद प्रकाश राजेन्द्र गुप्त ने किया। जबकि कार्यक्रम का कुशल संचालन सुश्री प्रतिमा सिन्हा ने किया। प्रेस रिलीज


AddThis
Comments (1)Add Comment
...
written by shravan shukla, October 18, 2011
kya sir, aazmi ko mayawati ke samkaksh susri kaahe bana diye? wo to srimati ji hain na? javed akhtar ki? shayad bhool raha hu.. yaad nahi.. magar shadi-shuda hain yah mpata hai... hahaha

aapne to kunwarepan ka thappa hi laga diya

Write comment

busy