विनोद कापड़ी-साक्षी जोशी प्रकरण : आरोपियों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी

E-mail Print PDF

विनोद कापड़ी-साक्षी जोशी की निजी तस्वीरें व निजी मेल इनकी मेल आईडी हैक करके पब्लिक डोमेन में डालने व प्रकाशित करने के प्रकरण में नया मोड़ आ गया है. सहारनपुर में साक्षी जोशी द्वारा दर्ज कराए गए मुकदमें की पुलिस जांच पिछले साल कंप्लीट हो गई. फाइनल रिपोर्ट पर कोर्ट में सुनवाई जारी है.

लेकिन तारीख दर तारीख पड़ने के बावजूद आरोपी एक बार भी कोर्ट में पेश नहीं हुए. इस कारण अब अदालत ने अब गंभीर रुख अपनाते हुए आरोपियों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी कर दिया है. इस बाबत सहारनपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने नोएडा के एसएसपी को एक पत्र लिखकर आरोपियों को पकड़कर अगली तारीख पर कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया है. इस पत्र की एक प्रति भड़ास4मीडिया के पास भी है जिसे नीचे प्रकाशित किया जा रहा है. इस मामले में आरोपी टोटल टीवी में रहे ऋषि पांडेय, इंडिया टीवी में रहे संदीप चावला आदि हैं.

ज्ञात हो कि साश्री जोशी जिन दिनों इंडिया टीवी में कार्य करती थीं, उन दिनों उनका मैनेजिंग एडिटर विनोद कापड़ी से प्रेम प्रसंग चल रहा था और इन दोनों में मेल के जरिए पत्राचार होते रहते थे. कुछ लोगों ने इनकी मेल आईडी हैक कर इनकी सारी निजी तस्वीरें और मेल अपने कब्जे में ले लिया और दोनों को बदनाम करने की नीयत से इसका वितरण ढेर सारे लोगों के बीच मेल के जरिए कर दिया.

कुछ ब्लागों-पोर्टलों ने विनोद-साक्षी की निजी तस्वीरें और निजी मेल्स को प्रकाशित भी कर दिया. इसी के बाद नाराज साक्षी जोशी ने सहारनपुर में मुकदमा दर्ज करा दिया. बताते हैं कि सहारनपुर साक्षी जोशी का गृह जिला है. कुछ लोग यह भी कहते हैं कि मामला सहारनपुर में इसलिए दर्ज कराया गया क्योंकि वहां का तत्कालीन एसपी और तत्कालीन जांच अधिकारी विनोद-साक्षी का परिचित और फ्रेंडली था.

जो भी हो, इस प्रकरण में कई लोगों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी हो जाने के बाद अब इन लोगों की मुसीबत बढ़ गई है. इस प्रकरण में बाद में विनोद कापड़ी और साक्षी जोशी ने शादी करके अपने विरोधियों व आलोचकों के मुंह पर करारा तमाचा मारा और यह सीख भी दी कि किसी की निजी जिंदगी को खबर या तमाशा बनाने से बचो. सहारनपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के एसएसपी को लिखा गया पत्र इस प्रकार है-


AddThis