संजय मिश्र को मनाने में सफल रहा प्रबंधन

E-mail Print PDF

आर्यन टीवी, पटना के चैनल हेड संजय मिश्र ने प्रबंधन के मनाने के बाद अपना इस्‍तीफा वापस ले लिया है. उनके वापस आने से आर्यन के भविष्‍य को लेकर लगाया जाने वाला कयास भी खतम हो गया है. उन्‍होंने दो दिन पूर्व प्रबंधन को अपना लिखित इस्‍तीफा दे दिया था. प्रबंधन उनके जाने से होने वाले नुकसान का आकलन करके उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार नहीं किया था. आखिरकार प्रबंधन उन्‍हें मनाने में सफल रहा. वो फिर से ऑफिस में बैठने लगे हैं.

गौरतलब है कि किसी बात को लेकर संजय मिश्र और प्रबंधन में मनमुटाव हो गया था. जिसके बाद वे 14 जनवरी को अपना कार्यक्रम अग्निपथ खतम करने के बाद इस्‍तीफा लिखकर चले गए थे. 15 को कार्यालय भी नहीं पहुंचे. हालांकि प्रबंधन उनके नेतृत्‍व क्षमता को देखते हुए उन्‍हें किसी भी कीमत पर छोड़ना नहीं चाहता था. इसलिए उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार नहीं किया गया. उन्‍हें मनाने की कोशिश रंग लाई और उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा वापस ले लिया.

संजय मिश्र सीनियर टीवी पत्रकार हैं. आर्यन ज्‍वाइन करने से पहले वे सहारा समय, बिहार-और झारखंड के चैलन हेड हुआ करते थे. वे करीब बारह सालों तक सहारा टीवी के हिस्‍सा रहे थे. उसके पहले जी टीवी के शुरुआती दौर के सदस्‍य थे. संजय ने आर्यन ज्‍वाइन करने के बाद अपने संपर्कों के सहारे एक तेजतर्रार टीम खड़ी की है.


AddThis
Comments (3)Add Comment
...
written by rajesh, January 21, 2011
sanjay mishra ka aana kitna kargar hai yeh to waqt batayega. lekin sarvesh singh jo ki aryan ke founder the unke jaane se aryan ko bhari nuksaan uthana pad sakta hai. khas kar unki reports aur unke samparko ka istemaal ab aryan na kar paye. haan anil ji sanjay mishra aur bhujang bhusan se satark rahiyega . dono ko sahara se gaban aur.......... ke aarop main nikala gaya tha.
...
written by sanjana, January 17, 2011
sadhna prabandhan ko ishwar aryan se bhagaye gaye sarvesh singh ke ane ke sadme se bachaye... aur aryan ko raahat ki saans lene ka mauka mila.... aryan ke logon ko lakh lakh badhaiyaan
...
written by sanjana, January 17, 2011
bas isi ghadi ka to intejaar tha. ab dekho aryan kis mukam tak pahuchta hai.... ye aryan ke kiye bahut badi uplabdhi saabit hogi. wo bhi tab jab sabse bade controvertial character sarvesg singh ko is channel se nikal diya gaya... sanjay ji ko ek naya challenge mila hai ki wo is channel ke liye apne star se kuch naya kar sake. saath hi jharkhand me bhujang ji ke hone se nischintata to hai hi.....ab sarvesh ke jaane se channel ka bhala ho payega....... CMD anil ji, channel head sanjay ji aur jharkhand state head bhujang ji ko hamari or se shubhkamnayein.....

Write comment

busy