बजने लगा राजस्थान के ''एचबीसी न्यूज'' का बैंड

E-mail Print PDF

: एचबीसी न्यूज में सेलरी संकट, आंतरिक राजनीति चरम पर :  जयपुर से लांच हुए न्यूज चैनल एचबीसी न्यूज को साल भर भी नहीं हुए पर इस चैनल के पतन के दिन शुरू हो गए हैं.

बताया जा रहा है कि चैनल में काम करने वालों के सामने सेलरी का संकट आ खड़ा हुआ है. उपर से आंतरिक राजनीति बढ़ जाने से हर शख्स अपनी नौकरी को लेकर ज्यादा सतर्क हो चुका है. इस कारण लोग काम में काम, राजनीति में ज्यादा रुचि ले रहे हैं. इस चैनल के उदयपुर के ब्यूरो चीफ रहे अनिल सक्सेना अपनी सेलरी पाने के लिए अभी तक परेशान हैं. वे नौकरी छोड़ चुके हैं पर उन्हें उनका बकाया नहीं दिया जा रहा है. इस बाबत उन्होंने कई बार चैनल प्रबंधन से जुड़े लोगों को मेल किया पर अभी कुछ नतीजा नहीं निकला है. भड़ास4मीडिया पर अनिल द्वारा प्रबंधन को भेजे गए मेल की एक प्रति कल प्रकाशित की जा चुकी है. अभी हाल-फिलहाल एचबीसी न्‍यूज चैनल से वरिष्‍ठ पत्रकार वीर सक्‍सेना ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे चैनल में संपादकीय सलाहकार के पद पर थे. उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा चैनल के हालात बदतर होते जाने के कारण दिया.

सूत्रों का कहना है कि चैनल के कंटेंट व न्यूज रूम में मैनेमेंट का अनावश्‍यक और गैर जिम्‍मेदाराना हस्तक्षेप बढ़ गया था. वीर सक्सेना ने साफ-साफ कहा कि ये लोग न्यूज चैनल इसलिए लाए हैं ताकि इसकी आड़ में कुछ और धंधा कर सकें. उधर, चैनल से जुड़े लोगों का कहना है कि इस न्यूज चैनल की कमान मैनेजिंग डायरेक्टर सुनीता शेखावत के संभालने के बाद से चैनल के हालात ज्यादा खराब हो गए हैं. पहले ये माना जा रहा था कि सुनीता के आने से चीजें ठीक हो जाएंगी लेकिन अब जो हाल है उससे जाहिर है कि इस चैनल को किसी प्रोफेशनल आदमी की जरूरत है जो टीम को विश्वास में लेकर बेहतरीन कंटेंट प्रदान कर सके. नीचे हम उन सारे मेलों को प्रकाशित कर रहे हैं जो उदयपुर के ब्यूरो चीफ अनिल सक्सेना ने एचबीसी न्यूज प्रबंधन को लिखे पर प्रबंधन की कुंभकर्णी नींद अभी तक नहीं टूटी है. मेल से ठीक पहले अनिल का एक संक्षिप्त पत्र भी है...

Salary crisis & internal politics in HBC News : The condition of HBC news channel has become worsen. In HBC news channel (Rajasthan) giving of employees resignation is in process because of salary crisis & internal politics. One of the employee of HBC news channel , Mr.Anil Saxena , Bureau chief Udaipur (former) , has yet not got his three and half months due salary . Mr. Anil Saxena has already worked as Chief Operating Officer in Udaipur Zone in Voice of India News channel . Presently he is writing in many esteemed National and State daily News Papers . The mail which has been sent by Mr.Anil Saxena to the management HBC news channel ( MD Sunita Shekhawat and News Coordinator Mr. Pratap Rao)   is attached herewith.

---------- Forwarded message ----------
From: anil saxena < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >
Date: Wed, 29 Dec 2010 12:57:02 +0530
Subject: Due salary/ expenses details from the joining
To: "pratap.srinath" < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >
Cc: sunitashekhawat1 < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >

Mr. Pratap Rao,

As per the resignation given on 12 Dec. 2010 to Honourable Sunita
Shekhawat mam I didn't get any response yet , regarding the due salary
/ expenses from HBC News channel. As per the telephonic conversation
you have told me to send the details of due salary/ expenses . During
interview  the settlement of salary / expenses with Mr. Veer Saxena
and Mr. Gaur , I am sending the due salary / expenses  details from 26
Aug. 2010 to 12 Dec.2010.

These   are my personal expenses which has been spend on the meetings
and other requirements of HBC News Channel . So , kindly send my
personal expenses as soon as possible.

With regards

Anil Saxena


---------- Forwarded message ----------
From: anil saxena < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >
Date: Sun, 12 Dec 2010 16:52:46 +0530
Subject: Granted resignation with due salary from the joining--------
To: This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it
Cc: This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it , This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it

Respected mam,

This is to bring to your kind notice that I have already given my
resignation to Mr. Veer Saxena ,advisor HBC news channel . But he did
not accept my resignation and directed me to continue my work in HBC .
Even I did not get my salary from the joining that is why I want to
present my resignation and I also assure that I will get my complete
salary with all the incentives.I am always respectfull towards Mr
Katta and  you and I wish to continue my work with you but not without
salary and internal politics in the channel.
I hope you will take the matter positively and understand my feelings.

With regards
Anil Saxena
Bureau Chief Udaipur
HBC News Channel

---------- Forwarded message ----------
From: anil saxena < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >
Date: Thu, 25 Nov 2010 19:26:52 +0530
Subject: Reply : Day plan & News stories...
To: "assignment. hbc" < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it >

On 11/24/10, assignment. hbc < This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it > wrote:
Dear Anil ji,
As per the instructions from management, we are informing you to send the
Day plan for every day from 24th of dec. 2010. In this Day plan., you have
to send us the prior Information of those news stories or events which will
held their in your Division as well as your city. the same thing will be
applicable for any special story also , which will be covered by your
beareau .
apart from this, there is a major issue what we want to make you aware of
is... we are not getting regular news stories from your beareau & your
divison. hope we will get your kind co-operation for this all.
Thanks & Regards...
Assignment Desk.

To,
Assignment Desk
HBC News
Jaipur

Reply of 24th Nov. 2010 ,mail for day plan & news …….

This is to bring to your information that we have already been started
sending day plan from 18th  Oct. 2010 and also stories /news from 14th
Oct. 2010 . Kindly check your mail/ record .
Since we had not given the payment of Cyber Café , therefore we did
not send day plan / news  for the last four – Five days .
I  already intimated that in Udaipur city there is no Stringer/
Reporter / Cameraman has been appointed yet . So , we are unable to
give the coverage.There is no visuality in the entire Udaipur division
. We are unable to give the coverage of Govt. sector as PRO Udaipur
has not been intimated for the HBC Bureau . Also , mike ID has not
been provided .
Kindly consider the matter seriously .
Thanks

Anil Saxena
Bureau Chief Udaipur


AddThis
Comments (25)Add Comment
...
written by Gorav katara jaipur, June 09, 2011
HBC keliye kitna kam kiya sale ek phuti koudi nei di, ha meri bahen ko bharatpur ka reporter jarur bana diya...kamino ko kabhi na chodu, mene to pratap rao ke sath apna gandhi gan kalyan santhan ko jodke rajasthan ko aur lootne ki kosis me laga hun,,,,jai ho mangal may ho hehehehehe mera suspend baap dinesh katara bhi mere pe is bat pe khub garv krta hai, nam diya tha gourav tune ky sabit kiya hai

regards

Gourav katara , usys bikawo computer service
- 09829611172
...
written by Prakash Soni, March 22, 2011
hello freinds,
kyo aap HBC ko badnaam kar rahe result dekho to aaj hbc gaanv gaanv me dikh raha hai or chote chhote se village ki ki news aa rahi hai aaj HBC apni bulndiyo per pahuch gaya hai iska srey me Pratap ji,AAshis ji or sunita mem ko dena chauhnga kitni vikat prictithi me unhone sangarsh kar ke kaam kiya or hbc ko no. 1 banaya hai

Prakash
Siwana(barmer)
...
written by akash, February 22, 2011
HBC news ki to yahi halat honi thi ,is baat ka abahhas pehle bhi tha..
...
written by ....., February 17, 2011
Bhadas Ke Sadhuwadi Pathkon..
HBC ne salary dene ki Baat kahi hai.. Yeh Galat Hai.. Kewal ek Mahine kio salary out siders ko de gayi hai... Jinhe aaj tak ek bhi Rupiya nahi mila tha unhe do mahine ki mili hai.. jaipur walon ko kuch nahi mila hai... Yani... Channel ke shuru hone se aab tak kewal 2 month ki pagar gayi hai... Channel ID to har Channel deta hi hai... Khabar Chale ya na chale, Etv par to Channel ID dikhegi na... IIsliye Sunita ji+ Pratap Rao ki Sazish ko samjho... AApka hamesh 2-3 month ka paisa aatka rahega... kabhi nahi milega... hab ki yahi kamaiiii hai... JAI HO>>>> munni phir badnam hui.... ,..........tere liye.......
...
written by anil, February 16, 2011
chlo bhadas ke aawas uthane se patrkar sathiyo ko unka huk to mila . yashwant ji aapko dhanywad , agar inko inka adhikar jo inka tha vo mila . ye aapki hi pahal thi .
...
written by ......., February 16, 2011
Oh bhai.. Pagal Mat ban... Shukriya addda kar Hum Sabhi ka, Anil g Udaipur walon ka. Jinohne Comment kar kar ke HBC ko tum Logo ka paisa dene par majboor kar diya.. Aaj bhi uudhari kitani pata hai... Hum koi muh nahi tak rahe... nahi tum log koi tata- birla ke yaha noukari kar rahe ho.. Aur ek Baat ... Neembu aur Bania... kanth nichode to hee ras deta hai... Yeh hamari koi haar nahi... jeet hai.. Hamare sathiyon ko to abb tak ka paisa mila... yadi poora mil gaya to... ??????? Aur rahi HBC ke band bajane keee baat to aaage aaage dekhna... Yeh band kaise kaise Suuurrrrrrr me bajega.... Chaploooos Vandana Chodho....Aageee bhi to salary milegi ya nahi IIska pata nahi hai.....

Anil g, Aapka Bahut Bahut Dhanywad ... yadi aap yeh sab oojagar nahi karte to Paisa to door,,,, footi kaudi bhi hame naseeb nahi hoti... aapka paisa mila kya... yadi nahi to court case karo... sabhi milkar jinka bhi paisa ye logo ne khaya hai... oonka bhi paisa Milna chahiye... Waise Taboot Saz gaya hai... HBC ka... Keeelen Thukna shuru ho rahi hai... Durgsingh ji... Aap to Mahan ho... Badmer Kya kar rahe ho... Desh ka Shashan Chalane Dehli kyon nahi jaate... Prawktaon ki jarooorat hai...Good day.. Bhadas par khabron ka silsila yuuu hi chalta rahega ... padhte rahiye desh ka no. 1 media portel Bhadas4media.com ... Aapko jaldi hi HBC ki achhi khabar se ru b ru karange...
...
written by Durg singh, February 16, 2011
Bechaare bewajah comments karke haar gaye lekin HBC news ka band bajaane ka sapna poora nahi hua....sabhi ko sallery mil gayi..sabhi ko ID cards mile sabhi ko Mike ID mili..Agreement latters sign huye.... Or aap comment karne wale muh taakne ke alawa kuch nahi kar sake....
Durg singh
HBC news barmer
...
written by Durg singh, February 15, 2011
kuldeep ji ye meri chaploosi nahi hein...HBC ke liye me apni koi raay nahi bana raha hu isliye apko ye chaplusi lag rahi hein..
Regards
...
written by kuldeep, February 15, 2011
Bhai Durg Singh ji...

Yeh Baat sahi hai ki Aapka naam lekar koi Comment kare.. lekin AAp badmer baithe ho.. IIIsliye HBC managment ko nahi Jante.. Aapne Short time ki baat likhi hai... bhai... 4 saal ho gaye hain HBC ke kaam ko shuru hue... AAp sunita ji ko bada Aachha Soch rahe hain.. hamne bhi Socha tha... lekin haqiuqat me IIse GHATIYA HBC me koi nahi hai.. ye meethi meethi baton ke jaal me phasati hai.. phir aapko majboor kar deti hai.. aaisa nahi hai jo log wahan se gaye hai wo galat hain.. sabhi 3 - 3 saal se kam kar rahe the.. aapko bhi uusi team ne hi lagaya hoga... IItne ghatiya comment iisliye bhi aa rahe hain.. ki media persons poori tarah gale tak bhar chuke hain... Aur rahi HBC ke aasman Chune keee , bhai.. to Sapna hai... Humne bhi dekha tha... AAj tum Dekho... parso koi Teesara dekhega... kabhi Channel dekha hai... iisse to achha Badmer me cabel channel chalta hai... AApka comment Chaploosi bhara hai... bhadas4media... Hamara aapna portel hai... AAp kanooni Karwahi ki Baat kaha rahe hai.. HBC ko karne dijiye na legal.. aap kyon pachde me padte hain... ye aapka saath nahi denge baad me... Aapka thought positive hai.. aap kuch karna chahte hain...TV me.. Koi achha channel try kijiye... Yahan HBC ko na to koi dekhta hai.. na HBC dikhta hai.. AApki No. 1 story bhi Bekar hi Jayegi...
Bhagwan Aapki Aage badhne ki murad poori kare..

Aapki tarah hi Sapne Dekhane wal...

Kuldeep
...
written by anamika khatri, February 14, 2011
aapke news portl par kai khabrein padhi lekin ye khabar poori tarah se jhoothi hein HBC news ke saath koi ranjish he aapke dwara jo shbd upyog liye jaa rahe hein us se yahi lagta hein ki aap ke dwara hafta wasooli news channels or news paper se ki jaa rahi hein.. or jo samy par paise nahi pahunchata aap uske khilaaf chhap dete ho...
...
written by Durg singh, February 14, 2011
सुनीता जी हम्मारी सम्मानित M.D हैं और में उनके अंडर में काम करता हु मेरी कभी फेसबुक के जरिये सुनीता जी से बात नहीं हुई हैं और इसका खंडन करता हु... जो लोग HBC में गृह युद्ध कि सोच रहे हैं उनका सपना कभी पूरा नहीं होगा ..... इसके विरुद्ध में कानूनी कार्यवाही करूँगा जिसकी जिम्मेदारी भड़ास4 मीडिया प्रबंधन कि होगी...

दुर्ग सिंह बाड़मेर
संवाददाता
HBC न्यूज़ बाड़मेर
...
written by Durg singh, February 14, 2011
मुझे बदनाम करने के हथकंडे छोड़ दो मेरे दुश्मनों... क्यों किसी के साथ इस तरह के घटिया कारनामो के जरिये भड़का रहे हो....आप कुछ कर नहो सकते तो सस्ती लोकप्रियता को पाने के लिए झूठ का सहारा ले रहे हो...मेरे ईमेल आईडी को चुरा कर क्या बताना चाहते हो... पिछले कई दिनों से एचबीसी न्यूज़ चैनल को लेकर भड़ास मीडिया पर काफी कुछ लिखा जा रहा है.जो हकीकत से बिलकुल परे है.लिखने वाले भी सिर्फ अपनी भड़ास निकालने के अलावा कुछ नहीं कर रहे हैं.शायद उन्हें पत्रकारिता के उसूलों का पता नहीं है कि इस पेशे में नैतिकता ही सब कुछ है.पत्रकार होने का मतलब ये नहीं है कि हम कुछ भी कभी भी किसी के बारे लिख डालें और उसकी इज्ज़त को मिटटी में मिला दें.इस तरह कि हरकतें हमारे कई पत्रकार बंधुओं द्वारा कई दिनों से एचबीसी प्रबंधन के खिलाफ की जा रही हैं.जबकि हकीकत ये है कि ये चैनल नया है और हर नए संस्थान में सिस्टम को सेट होने में समय लगता है.अगर कोई इसके साथ अपने आपको इसके साथ चला नहीं पाता है तो ये गलती संस्थान कि नहीं है बल्कि उस व्यक्ति कि सोच है.एचबीसी से कई लोग छोड़ कर गए हैं तो ये उनके और प्रबंधन के बीच का मामला है ना कि सार्वजनिक रूप से एक दुसरे पर इलज़ाम लगाने का.ये सारी हरकतें छिछोरी हैं और जिस तरह से एचबीसी और इसके आलाअधिकारियों के बारे में अपशब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है और उनकी योग्यता पर सवालिया निशाँ लगाए जा रहे हैं उससे पता चलता है कि लिखने वाले कितने पानी में हैं और उनकी योग्यता का स्तर क्या है.एचबीसी किस सोच के साथ मैदान में उतरा है ये भी आलोचना करने वालों को आने वाले समय में मालूम हो जाएगा और साथ ही ये भी कि इसके आलाअधिकारी क्या योग्यता रखते हैं.लिखने वाले कुछ शर्म करें.हो सकता है कि कल इस चैनल का स्तर देख कर आप भी यहाँ आने को लालायित हो जाएँ.
...
written by Durg singh, February 14, 2011
श्रीमान एडिटर साहब मेरे नाम से कोई भी आपको कोई कमेन्ट भेज दे तो आप उसे प्रकाशित कर सकते हैं ये मैंने नहीं सोचा था आपका ये कदम मेरे लिए कितना घटक होगा आप नहीं जानते.. आपके लिए ये सिर्फ मसालेदार खबर हैं लेकिन मेरी फेसबुक आई.डी को चुरा कर मेरे पर्सनल मेसेज आप सार्वजनिक करने का अधिकार नहीं पा सकते ... में दुर्ग सिंह राजपुरोहित सभी पाठको से अनुरोध करता हु कि HBC न्यूज़ के सम्बन्ध में मेरे नाम से लिखे गए कम्मेंट को भड़ास4 मिडिया कि व्यक्तिगत राय समझे इसमें मेरे द्वारा कोई भी कमेन्ट नहीं किया गया हे ये कमेन्ट मेरे से व्यक्तिगत रंजिश रखने वालो के द्वारा अन्यथा माननीया सुनीता जी शेखावत से जलने वालो ने अपनी गन्दी सोच के कारण सारवजनिक किया हैं??
मेरे ईमेल आईडी को चुरा कर कोई भी मुझे बदनाम नहीं कर सकता
दुर्ग सिंह राजपुरोहित
HBC न्यूज़ बाड़मेर
...
written by Durg singh , February 13, 2011
Sunita Shekhawat February 6 at 5:40pm Report
tks . aap jo kehh rahe hai wo agar such hai to nishchint rahen... aap ke saath kabhi galat nahin hoga...
hume jaanch kerne digiye...!!!
thanks for information...
we will revert you back.
...
written by Durg singh , February 13, 2011
Durgesh Singh February 6 at 5:25pm
madam, namskaar
Mera name Durg singh rajpurohit hein.. Me pichle kareeb 8 month se jabse HBC ke intreview. Ka dour shuru hua tab se juda hua hu. Mene kareeb 2 month tak HBC ke liye kaam karte huye acchi tarah khabrein bheji he lekin 2 january se mujhe pileeya bimari ho gai or me 20 din tak hospital admit raha ..madam is douran barmer ke ek cable operator ne Aashish ji se baat kar HBC ke lie kaam karna shuru kar diya.. Madam mein newspaper se istifaa dekar aapke sath juda or camera computer office sab par aapni jamaapunji khatm kar di aapne training ke time kaha tha ki sabki sunwai hogi or bina suchna kisi ko noukari se nikala nahi jayega... Me aapse ummid karta hu ki aap meri purani news quality dekh kar mere sath nyaay karenge.. Madam jis ko HBC ke lie kaam karne ke liye rakha gaya he wo kitna padha hua he agar meri jagah ro kaam karta he to mujhe siway sharmindagi ke kuch nahi milega
Regards
Durg singh rajpurohit
HBC news
Barmer
Sent via Facebook Mobile
...
written by sunil.saxsena, February 13, 2011
बैंड एचबीसी न्यूज का तो क्या बजेगा ...वीर सक्सेना अपना बैंड बजवाने में लगे हैं पता नहीं क्यूं अपना बुढ़ापा खराब कर रहे हैं ...ओछी हरकतें करके अपने पत्रकारिता के स्तर को वे बता रहे हैं ..वो प्रिंट के पत्रकार हैं प्रिंट में ही रहे ..इलेक्ट्रानिक मीडिया का अनुभव नहीं होने के बावजूद उन्हें एचबीसी के लिए मौका मिला ..इसे ही ईश्वर का उपहार मानने के बजाय एचबीसी से निकाले जाने के बाद वे बौखला गए हैं ..
...
written by kuldeep, February 13, 2011
Bhaiyon....
HBC management Hai hi nahi... Kewal ek Sunita hai... Sazish ki aasli sutradhar khud sunita hai... HBC me aaj tak wo sazish rachti aayee hai...
Frustetion ki shikar hai... Na ghar hai... Na bachheee... Jo mila kaise mila sabhi jante hain.. Ab Age bhi ho gayee hai.. koi Tareef nahi karta... Gussa bahut aata hai... IIsliye Ander jama gandagi frustetion ke roop me bahar nikalti hai... Jab se IIMF aur HBC kii neevn rakhi gayi hai... Tab kewal Sanjay Gaur aur ooski Team bhi kaam karti thi... tha to sanjay gaur bhi UUstad...Kameena... lekin uusne kabhi Sansthan ke khilaf kaam nahi kiya.. UUssese Kai logon ko pareshani bhi hui lekin Managment ko Fayda hi hua ,, Paise bhi Kama kar diye.. IIzzat bhi Badai.. lekin Sunita ko Raas nahi AAya.. Veer Sahib ko bhi Sanjay Hi Laye.. Pahle Veer sahib se milkar sanjay ko Pareshan kiya, Phir Alok mohan ko , Phir Pratap Rao se milkar Veer Sahib ko, Rajneesh ji ko.... Are bhai Sab hi GUD GOBAR the kya... ? TUM Kya ho... Bhale aadmiyon ko dosh de rahe ho ....Sammanit Sadasya.. kisi din ......par laat padegi tab pata chal jayega.. tumahre bahar bhi bahutchahne walen hian.. Pratap Rao ka naam bhi Sanjay ne hi diya tha... Aur Aaj UUsi aadmi ke peeche 8 mahine baad bhi pade ho...
Wah re Chturon.. Sabko Ghhaas Khane wala samjha hai kya...?
...
written by anil, February 12, 2011
Fake ID Valo ke liye ye mera last comment hai . lakin HBC ka aur dusro ka sahi naam,pahchan aur sahi post se comment aaye ga to me unka jarur jawab dunga.

apne aap ko HBC ke sammanit sadsya kahne vale mere matrik paas insaan aagar tum HBC ki taraf se likh rahe to apna sahi naam,pahchan aur post se comment likhna . binduwar jawab milega .
sammanit sadasya english bhi sikhna jis se pata chale ki mene isse pahle kya likha tha ? aap ye baat to pad pa rahe ho ?

sammanit bhai kya tum bina salary ke kam kar rahe ho ? kya patrkar hone ka matlab dusro ke aadhikar ke liye ladna he ? hum patrkaro ka shoshan hota rahe ? Kya apne aadhikaro ke liye aawaj uthana galat hai ? hum patrakar aapna GHAR kaise chalaye ? mujhe HBC se kuch lena dena nahi he bus meri due salary de do .

aur parvarish ki baat karni he to bhai bataya na ki sahi naam se comment karna . Jis se me comment likhne vale ke bare me jan saku aur binduwar jawab de saku .bhai me bhi patrkar hu aur aasani se galat insano ka picha nahi chorta …….binduwar question ka answer binduwar jarur deta hu. Lakin inssan ki sahi hesiyat to pata chale.

chamcha giri choro, galat naam ki ID se mail karne valo ka bhi pata chal jata he . dhyan me rakhna . aur sahi comment hi karna , mai galat hunga to jarur hami bharunga aur jawab de kar apna paks rakhunga .
lakin mere patrakar mitro kya apni salary mangna galat he ? Kya mene abhi tak, koi bhi galat comment kisi bhi inssan ke liye kiya hai? jab maine sammanit shabdo se apni salary hi mangi hai to kyokar ye galat namo se comment kar rahe hai , jiska sachai se kuch lena dena nahi hai .ye sab only camchagiri hi lagti he . kya ye inka culture hai? ………….

lakin fake ID valo ke liye mera ye last comment .
...
written by anil, February 12, 2011
galat naam aur fake ID se comment karne valo agar aarop lagana ho to sahi naam se lagana jise se jawab mil sake.
sammanit sadasay english aati he ? mene jo likha tha pata he kya likha tha ? bhai mere matrik pass mene kahi bhi Respected Sunita mam ke liye galat nahi likha . kyo besirper ka comment kar rahe ho ya HBC Channel ne comment karne ki hi duty lagai he ? Rahi Respected Sunita mam ki ID ki baat to bhai Respected Sunita mam ne hi aapni ID face book se lekar kai jagah likhi hui he . aur aab comment karna to aapne naam se karna . jis se mujhe pata chale ki me kis hesiyat vale se baat kar raha hu . ek baat aur tum log baar baar kyo Respected Sunita mam ka naam uchal rahe ho ? Kya tum logo ki hi rajniti to nahi he Respected Sunita mam ko vivado me lane ki ? Kya tum bina pagar ke kam kar rahe ho ? arey bhai agar patrkar ho to patrkar ka dukh bhi samjho . . chamchagiri choro .
...
written by SADASYA-HBC NEWS., February 12, 2011
मेरे पत्रकार मित्रों,
कई दिनों से एचबीसी न्यूज़ के बारे में ऊलजुलूल लिखने का जो नाटक कई लोगों ने कर रखा है उसे तो आप समझ ही गए होंगे.कुछ लोग जो इस चैनल में सिर्फ इसलिए आये थे की उन्हें कहीं कोई झेलने वाला नहीं था.उनकी बदहाली के दिनों में एचबीसी ने उनका साथ देते हुए उन्हें अपने यहाँ मौका दिया.लेकिन ऐसे लोग अपनी हरकतों से कभी बाज़ नहीं आते और जहां जाते हैं वहीँ गन्दगी फैलाना शुरू कर देते हैं.वही लोग हैं जिन्हें एचबीसी ने हटा दिया है और वे अब खिसियानी बिल्ली खम्बा नोचे वाली हरकत पर आ गए हैं और यहाँ के प्रबंधन पर उंगलियाँ उठा रहे हैं.इनमे से कई लोग ऐसे हैं जिनका इतिहास पत्रकारिता को बदनाम करना रहा है और ब्लैकमेलिंग कर इन लोगों ने कई लोगों को परेशान किया है.इस पवित्र पेशे को अपने स्वार्थ के हथकंडों के लिए इस्तेमाल किया है.और अब वे यहाँ भी यही करना चाहते थे.यही कारण है की एचबीसी ने इन सबको नमस्कार कर दिया है.जिन लोगों ने भंवर में फँसी नाव को किनारे पर लाने का काम किया वही इन्हें पसंद नहीं आ रहा है और ये लोग आरोप लगा रहे हैं यहाँ के आलाअधिकारियों पर जो सब अपने आपमें मीडिया की जानी मानी हस्तियाँ हैं.उन पर इस तरह के आरोप लगाना ओछी मानसिकता को प्रदर्शित करता है.असल बात ये है की इन सब घटनाओं के पीछे एक विशेष समूह काम कर रहा है जो एचबीसी न्यूज़ को आकाश की ऊँचाइयों तक नहीं पहुँचने देना चाहता.इस तरह की ओछी मानसिकता का प्रतीक आपने एक महिला की ईमेल आईडी को सार्वजनिक होते हुए देख ही लिया होगा जो इन लोगों ने किया है.जो लोग किसी महिला की इज्ज़त नहीं कर सकते हैं वे कितने शरीफ होंगे इसका अनुमान आप लगा ही सकते हैं.अपने बकाया वेतन के लिए जिस हद तक ये लोग चले गए हैं उससे भी स्तर का पता चल जाता है.लेकिन भड़ास के समस्त पाठक समझदार हैं,सब समझते हैं और ये यशवंत जी का पोर्टल है किसी ऐरे गैरे का नहीं. यहाँ अपनी बात कहने का सबको अधिकार है लेकिन ये अधिकार नहीं है की किसी महिला का चरित्र हनन किया जाए और इतने निम्न स्तर पर उतरा जाए.ये पत्रकारिता है राजनीति नहीं है जहाँ कोई स्तर नहीं होता.
प्रेषक
एचबीसी न्यूज़ का एक सम्मानित सदस्य.
...
written by kuldeep, February 12, 2011
Sammanit Ghatiya Sadasya....
Khud apna naam chupate ho aur dusaro ko naam likhane ki bbaat karte ho... bilkul sahi mahila samman ki hqdar hoti hai... lekin besharm aurat kahin samman nahi paati.. na ghar me ... na bahar... kattaji ki wajah se hai nahi to kahin koi astitwa nahi hai... tum to aapna paisa banao bhai... mail ka jawab dene se channel nahi chalta.. pichle 6 mahine se bhhhad jhonk rahe the kya jo aab karoge... UUs bhale aadmi (satishji_ ) ko abhi tak barbad karke man nahi bhara.. uuuska ghar bhar sab bikwaoge kya.. pata chleg pata chalega.. likhte likhte sharm nahi aati... metra to tumhe gali dene ka man kar raha hai... bad...dua hai hum sab keeee... HBC BARBAD HO JAYEGA... TUM SAB KA END HO JAYEGA... TUMHE KAAM NAHI MILEGA... Tumne kaam karne wlon ka dil dukhya hai... unke saath galat salook kiya hai... tumhe pata to chalna hi chahiye... are jiske bahar dushman uncountable ho wo kaise chalege.. jiska jahan joor chal raha hai.. wahan se HBC ka band baja raha hai...

TUM SABKA NAASH HO....OOOOOOOOOOOOOOOOOOOOOO
...
written by SADASYA-HBC NEWS., February 11, 2011
मेरे द्वारा लिखे गए कमेन्ट पर एक साहब ने जवाब दिया है और मुझे कई नसीहतें दी हैं.लेकिन भाई अपना नाम ज़ाहिर करने में आपको क्या बुराई नज़र आ रही थी.कई दिनों से एचबीसी प्रबंधन के खिलाफ लिखने कि साजिशें जो रची जा रही हैं उनमे कोई दम नहीं है और लिखने वाले अपने मानसिक स्तर का ही परिचय दे रहे हैं.उदयपुर के एक साहब जो ब्यूरोचीफ के पद पर कार्यरत थे उन्होंने तो बेशर्मी कि हद ही पार दी.एक महिला के ईमेल आई डी को सार्वजनिक करके शायद वो ये बताना चाहते हैं कि उनकी परवरिश किस तरीके से हुई है.मै उनसे पूछना चाहता हूँ क्या अपने घर कि किसी महिला का मेल आईडी सार्वजनिक करेंगे.हर महिला सम्मान कि पात्र होती है और अगर कोई पत्रकार होकर भी महिला का सम्मान करना नहीं जानता तो उसे पत्रकारिता छोड़ देनी चाहिए.सिर्फ दूसरों को उपदेश देना ही काफी नहीं है बल्कि पहले ख़ुद उस पर अमल करने कि ज़रुरत है.क्या आप बताएँगे अनिल सक्सेना साहब कि आपने अपने कार्यकाल के दौरान ख़बरें कितनी भेजी.चैनल को क्या दे दिया कि अब आप शिकायतों का अम्बार लगाने लगे.कुछ तो शर्म करें.एचबीसे न्यूज़ को किसी के कुछ लिखने से कोई फर्क नहीं पड़ता है और हम किस तरह से काम करते हैं और जनता में हमारा क्या असर जाता है ये आने वाले एक साल में देख लीजियेगा.हम बता देंगे कि चैनल किस तरह से चलता है.इसके लिए हमें विश्वास तोड़ने वालों को अपने विश्वास में लेने कि ज़रुरत नहीं है और ये भी चैनल के हित में ही है कि ऐसे लोग ख़ुद ही चले जाएँ ताकि हम अपने मकसद को पूरा कर सकें और आने वक्त में ऐसे लोग फिर से चापलूसी कर वापस आने का प्रयत्न करेंगे.ये हमारा वादा है.
प्रेषक
एचबीसी न्यूज़ का एक सम्मानित सदस्य.
...
written by just 4 you, February 11, 2011
hbc ke sammanit sadash aap jin sadasho ki bat ker raahe ho jara aap phele uke bare mai jane or fir bole sab ko sab pata hai ki kon kitna pani mai hai or kisko kitna aata hai vaha sab ye he kertai hai ki E tv jaisa hona chaheye u to nahi ki Etv se badiya hona chaheye ab vo b kya kare unko pata he vo he hai bus or ha pet patrehk karita se nahi berta hai usko roti chaheye hoti hai jo paise se aati hai or agar paise nahi hogai na to vo b nahi hogi...samjey bhukhey pait to bhajen b nahi hotai hai ye to duur ki baat hai or raha un bade logo ka jo hbc mai uuchi post pe hai unki kabileyet ka to pata chal raha hai ki channel ko dekh k he channel ki lipsing out ho rahi hai, scrool nahi chaltai purani news dekhatai ho or to or channel band b rehta hai....agar aap etnai he hitashi hai to channel ko sambhalo or phele hith ka kaam karo fir hitashi bano jaha tek mujey pata hai uuchey logo nai kabi hith ka kaam nahi kiya bus apni roti pakai hai..................danyewaad.....
...
written by SADASYA-HBC NEWS., February 11, 2011
मेरे पत्रकार साथियों, पिछले कई दिनों से एचबीसी न्यूज़ चैनल को लेकर भड़ास मीडिया पर काफी कुछ लिखा जा रहा है.जो हकीकत से बिलकुल परे है.लिखने वाले भी सिर्फ अपनी भड़ास निकालने के अलावा कुछ नहीं कर रहे हैं.शायद उन्हें पत्रकारिता के उसूलों का पता नहीं है कि इस पेशे में नैतिकता ही सब कुछ है.पत्रकार होने का मतलब ये नहीं है कि हम कुछ भी कभी भी किसी के बारे लिख डालें और उसकी इज्ज़त को मिटटी में मिला दें.इस तरह कि हरकतें हमारे कई पत्रकार बंधुओं द्वारा कई दिनों से एचबीसी प्रबंधन के खिलाफ की जा रही हैं.जबकि हकीकत ये है कि ये चैनल नया है और हर नए संस्थान में सिस्टम को सेट होने में समय लगता है.अगर कोई इसके साथ अपने आपको इसके साथ चला नहीं पाता है तो ये गलती संस्थान कि नहीं है बल्कि उस व्यक्ति कि सोच है.एचबीसी से कई लोग छोड़ कर गए हैं तो ये उनके और प्रबंधन के बीच का मामला है ना कि सार्वजनिक रूप से एक दुसरे पर इलज़ाम लगाने का.ये सारी हरकतें छिछोरी हैं और जिस तरह से एचबीसी और इसके आलाअधिकारियों के बारे में अपशब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है और उनकी योग्यता पर सवालिया निशाँ लगाए जा रहे हैं उससे पता चलता है कि लिखने वाले कितने पानी में हैं और उनकी योग्यता का स्तर क्या है.एचबीसी किस सोच के साथ मैदान में उतरा है ये भी आलोचना करने वालों को आने वाले समय में मालूम हो जाएगा और साथ ही ये भी कि इसके आलाअधिकारी क्या योग्यता रखते हैं.लिखने वाले कुछ शर्म करें.हो सकता है कि कल इस चैनल का स्तर देख कर आप भी यहाँ आने को लालायित हो जाएँ.
प्रेषक
एचबीसी न्यूज़ का ही एक सम्मानित सदस्य.
...
written by Deepak Kumar, February 08, 2011
अब समय आ गया है कि सरकार और सुप्रीम कोर्ट को हस्तक्षेप कर उन सभी चैनल पर अंकुश लगाएं...जो अपने यहां काम करने वाले पत्रकारों-गैर पत्रकारों को बंधुआ मजदूर मानते हैं.....पीएमओ,सुप्रीम कोर्ट और यूचना-प्रसारण मंत्रालय को ऐसे चैनलों के खिलाफ विज्ञापन देकर शिकायत मंगानी चाहिए.....एचबीसी तो फिर भी जयपुर में है...दिल्ली -नोएडा में चल रहे कई न्यूज चैनल...दो -दो महीने की देरी से वेतन दे रहे हैं....कुछ चैनलों में तो काम करने वालों को न ऑफर लेटर मिलता है और न ही अप्यॉन्टमेंट लेटर....सैलरी स्लिप तो दूर की बात है....सैलरी पेमेन्ट ऐसे करते हैं जैसे भीख दे रहे हों........इन चैनलों पर फौरी कार्रवाई होनी चाहिए...और यसवंत जी आप इस मसले पर सक्रियता दिखाएं तो शिकायतों की झड़ी लग जाएगी.....और ऐसे चैनलों को ब्याज सहित वेतन भुगतान करने का आदेश देना चाहिए...या फिर उनके लाइसेंस रद्द कर दिए जाने चाहिए....

Write comment

busy