छापे की खबर को हजम कर गया सहारा समय एमपी-सीजी

E-mail Print PDF

जबलपुर में केमतानी ग्रुप और उनके सहयोगियों के 19 ठिकानों पर मारे गये आयकर विभाग के छापे की कार्रवाई और उसके बाद चल रही जाँच में हो रहे खुलासे की खबर को सभी प्रमुख अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है, लेकिन सहारा समय मध्यप्रदेश/छत्तीसगढ़ न्यूज़ चैनल इस पूरी खबर को हजम कर गया। प्रॉपर्टी उद्योग खेल के कलमाड़ी माने जा रहे केमतानी ग्रुप से याराना निभाने के लिए सहारा जबलपुर के नए इंचार्ज सुमन पुरोहित ने यह करामात की है।

सहारा से जुड़े सू़त्र बताते हैं कि छापे की खबर पहले दो दिन तो खूब जोर शोर से चली, लेकिन बाद में एक के बाद एक हो रहे खुलासे की खबरों की  केमतानी ग्रुप को धौंस देकर अपनी जेब भर ली. इस कमाई में सुमन पुरोहित की हमजोली साथी हरप्रीत रीन अन्य चार लोग और भोपाल के इंचार्ज वीरेंद्र शर्मा शामिल हैं। इससे पूरे शहर में सहारा की जमकर छिछालेदर हो रही है। सुमन पुरोहित वही हैं, जिसकी पहले स्ट्रिंगर रहते हुए भी हराम का खाने की आदत थी और इंचार्ज बनने के बाद भी। वहीं करीब दो लाख के फ़ोन पर हुए सौदे के बाद अब केम्तनी ग्रुप से फ्लैट और प्लाट की डीलिंग भी चल रही है, जबकि साधना, ईटीवी और कई अन्य रीजनल, लोकल चैनल अखबार इसकी सीरिज़ चला रहे हैं.

रायपुर से शेखर शमां की रिपोर्ट.


AddThis